स्टैच्यू ऑफ यूनिटी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी is located in गुजरात
निर्माण स्थल की गुजरात में स्थिति
निर्देशांक 21°50′16″N 73°43′8″E / 21.83778°N 73.71889°E / 21.83778; 73.71889
स्थिति साधू बेट, निकट सरदार सरोवर बांध, गुजरात, भारत
प्रकार प्रतिमा
सामग्री इस्पात, सीमेण्ट, कंक्रीट व कांस्य का आवरण[1]
ऊँचाई
  • 182 मीटर (597 फ़ुट)
  • आधार को जोड़कर: 240 मीटर (790 फ़ुट)
[1]
निर्माण आरंभ 31 अक्टूबर 2013
समर्पित सरदार पटेल
statueofunity.in

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी 182 मीटर (597 फीट) ऊँचा गुजरात सरकार द्वारा प्रस्तावित भारत के प्रथम उप प्रधानमन्त्री तथा प्रथम गृहमन्त्री सरदार पटेल का स्मारक है।[2] गुजरात के मुख्यमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने 31 अक्टूबर 2013 को सरदार पटेल के जन्मदिवस के मौके पर इस विशालकाय मूर्ति के निर्माण का शिलान्यास किया।[2] यह स्मारक सरदार सरोवर बांध से 3.2 किमी की दूरी पर साधू बेट नामक स्थान पर है जो कि नर्मदा नदी पर एक टापू है। यह स्थान भारतीय राज्य गुजरात के भरूच के निकट नर्मदा जिले में है।[3]

अभी तक की सबसे ऊँची स्टैच्यू 128 मीटर की चीन में स्प्रिंग टैम्पल बुद्ध की है। उससे कम ऊँची मूर्ति भी भगवान बुद्ध की ही है जिसकी उँचाई 116 मीटर है। बुद्ध की यह मूर्ति सन् 2008 में म्याँमार सरकार ने बनवायी थी।[4]

निर्माण[संपादित करें]

लौह पुरुष सरदार पटेल, जिनकी स्मृति में यह विशाल स्मारक लोहे से ही बनाया जायेगा।

गुजरात सरकार द्वारा 7 अक्टूबर 2010 को इस परियोजना की घोषणा की गयी थी।[5] घोषणा में यह बताया गया कि प्रस्तावित स्मारक की कुल ऊँचाई आधार से लेकर शीर्ष तक 240 मीटर होगी जिसमें आधार तल की ऊँचाई 58 मीटर रहेगी और प्रतिमा 182 मीटर ऊँची होगी। प्रतिमा का निर्माण इस्पात के फ्रेम, प्रबलित सीमेण्ट कंक्रीट और काँसे की पर्त चढ़ाकर किया जायेगा।[1] टर्नर कन्स्ट्रक्शन, जो बुर्ज ख़लीफ़ा के सलाहकार थे, उन्हीं के सहयोगी संगठन- माइकल ग्रेव्स एण्ड एसोशिएट्स एवं मीनहार्ड ग्रुप दोनों मिलकर पूरी परियोजना की निगरानी करेंगे। परियोजना को पूरा होने में 56 सप्ताह का समय लगेगा जिसमें लगभग 15 महीने योजना, 40 महीने निर्माण तथा 2 महीने सहयोगी संगठनों द्वारा इसके हस्तान्तरण की प्रक्रिया में लगेंगे।[6] पूरी परियोजना में प्रतिमा और अन्य भवन, जिनमें स्मारक, आगन्तुक केन्द्र, बाग, होटल, सभागार, मनोरंजन-उद्यान तथा शोध संस्थान आदि सभी शामिल हैं, की कुल लागत 2500 करोड़ रुपये होगी।[7]

विश्व का सबसे ऊँचा स्मारक[संपादित करें]

भरूच में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के साथ नरेन्द्र मोदी ने परियोजना की आधार शिला रखने के बाद जनता को बताया कि इस स्मारक के निर्माण हेतु राशि जनता व सार्वजनिक प्रतिष्ठानों से दान प्राप्त करके जुटायी जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि पूरी तरह से बन जाने के बाद यह विश्व का सबसे ऊँचा स्मारक होगा।[8]

सरदार पटेल की प्रतिमा बनाने के लिये लोहा पूरे भारत के गाँव में रहने वाले किसानों से खेती के काम में आने वाले पुराने और बेकार हो चुके औजारों का संग्रह करके जुटाया जायेगा।[9] सरदार बल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय एकता ट्रस्ट ने इस कार्य हेतु पूरे भारतवर्ष में 36 कार्यालय खोले हैं।[9] लोहा एकत्र करने का काम निर्माण प्रारम्भ होने की तारीख (26 जनवरी 2014) से पहले ही पूरा कर लिया जायेगा।[5]

सम्बद्ध मुद्दे[संपादित करें]

प्रतिमा के आसपास पर्यटन अवसंरचना विकास हेतु भूमि अधिग्रहण का कुछ स्थानीय नागरिकों ने विरोध किया है जिनमें मुख्य रूप से केवाडिया, कोठी, वघाडिया, लिम्बडी, नवगम और गोरा गाँव के लोग शामिल हैं। उनकी माँग यह है कि इससे पूर्व बाँध एवं गरुड़ेश्वर तालुका के गठन के लिये अधिग्रहीत की गयी 127 एकड़ भूमि के स्वामित्व का अधिकार उन्हें वापस दिलाया जाय। उन्होंने केवाडिया क्षेत्र विकास प्राधिकरण (काडा अं: KADA) के गठन के अलावा गरुड़ेश्वर मेड़ व पक्की सड़क परियोजना के निर्माण का भी विरोध किया है। बहरहाल गुजरात सरकार ने उनकी माँगों को स्वीकार कर लिया है।[10]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Gujarat: Sardar Patel statue to be twice the size of Statue of Liberty". सीएनएन आईबीएन. 30 अक्टूबर 2013. http://m.ibnlive.com/news/gujarat-sardar-patel-statue-to-be-twice-the-size-of-statue-of-liberty/431317-3-238.html. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013.  (अंग्रेजी में)
  2. "मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट की 9 दिलचस्प बातें". अमर उजाला. 1 नवम्बर 2013. http://www.amarujala.com/news/samachar/national/facts-about-statue-of-unity-sardar-patel/. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013. 
  3. "World’s tallest statue coming up in Gujarat". डेली न्यूज़ एंड एनालिसिस. 7 अक्टूबर 2010. http://www.dnaindia.com/india/report_world-s-tallest-statue-coming-up-in-gujarat_1448831. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013.  (अंग्रेजी में)
  4. "State of Gujarat plans “Statue of Unity”". स्टैच्यू ऑफ यूनिटी डॉट कॉम. 10 जुलाई 2013. http://statueofunity.com/state-of-gujarat-plans-%E2%80%9Cstatue-of-unity%E2%80%9D/. अभिगमन तिथि: 4 नवम्बर 2013. 
  5. "For iron to build Sardar Patel statue, Modi goes to farmers". द इंडियन एक्सप्रेस. 8 जुलाई 2013. http://m.indianexpress.com/news/for-iron-to-build-sardar-patel-statue-modi-goes-to-farmers/1138798/. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013.  (अंग्रेजी में)
  6. Burj Khalifa consultant firm gets Statue of Unity contract टाइम्स ऑफ इण्डिया, अहमदाबाद संस्करण, 22 अगस्त 2012 अंक, अभिगमन तिथि : 1 नवम्बर 2013
  7. "Gujarat's Statue of Unity to cost Rs25 billion". डेली न्यूज़ एंड एनालिसिस. 8 जून 2012. http://www.dnaindia.com/india/report_gujarat-s-statue-of-unity-to-cost-a-whopping-rs2500-crore_1699760. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013. 
  8. "Interesting things you should know about 'The Statue of Unity'". Economic Times. 1 नवम्बर 2013. http://economictimes.indiatimes.com/slideshows/nation-world/interesting-things-you-should-know-about-the-statue-of-unity/slideshow/25049331.cms. अभिगमन तिथि: 2 नवम्बर 2013. 
  9. http://www.indianexpress.com/news/for-iron-to-build-sardar-patel-statue-modi-goes-to-farmers/1138798/
  10. "Statue of Unity: Govt bows to villagers' demands". द टाइम्स ऑफ इंडिया. टीएनएन. 28 अक्टूबर 2013. http://m.timesofindia.com/city/surat/Statue-of-Unity-Govt-bows-to-villagers-demands/articleshow/24831601.cms. अभिगमन तिथि: 1 नवम्बर 2013. 

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]