शिव मंदिर,बेलसर हर्राटोला,सरगुजा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
छत्तीसगढ़ राज्य के संरक्षित स्मारक

यह जीर्ण प्राचीन शिव मंदिर, सरगुजा जिले में अंबिकापुर-कुसमी रोड पर स्थित शंकरगढ़, विकासखण्ड मुख्यालय से 8 किलोमीटर दूर स्थित बेलसर गांव के हर्राटोला मुहल्ला में महा नदी तथा केरछान नामक नाला के संगम पर स्थित है। यहां पर 8वीं शती ईस्वी में निर्मित एक प्रस्तर निर्मित प्राचीन मंदिर एवं अन्य दो-तीन मंदिरों के भग्नावशेष विद्यमान हैं जो ईंट एवं प्रस्तर निर्मित थे। कार्तिकेय, गौरी, उमा-महेश्वर एवं हरिहर की प्रतिमायें यहाँ प्राप्त हुई है। इस मंदिर का शिखर भाग अत्याधिक जीर्ण स्थिति में हैं और प्रवेशद्वार बहुत छोटा है। इसके सिरदल पर वरेश्वर शिव, गणेश, कार्तिकेय तथा अन्य दृश्यांकन दर्शनीय हैं। यह मंदिर छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा संरक्षित है।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. संस्कृति एवं पुरातत्त्व विभाग, छत्तीसगढ़ शासन (जनवरी २००६). धरोहर:राज्य के संरक्षित स्मारक. रायपुर: छत्तीसगढ़ शासन. पृ॰ ३२. |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया जाना चाहिए (मदद)
  2. "शिव मंदिर बेलसर-हर्राटोला, सरगुजा" (एचटीएम). छत्तीसगढ़ शासन. अभिगमन तिथि २४ सितंबर २००९. |access-date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)[मृत कड़ियाँ]