लंका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रावण की सोने की लंका का कलात्मक चित्रण

लंका एक पौराणिक द्वीप है जिसका उल्लेख रामायण और महाभारत आदि हिन्दू ग्रन्थों में हुआ[1] है। इसका राजा रावण था। यह 'त्रिकुट' नामक तीन पर्वतों से घिरी थी। रामायण के अनुसार, जब रावण ने हनुमान को दण्ड देने के लिए उनकी पूँछ में कपड़े लपेटकर उसको तेल में भिगोकर आग लगा दी थी तब हनुमान ने पूरी लंका में कूद-कूदकर उसे जला दिया था। जब राम ने रावण का वध किया तब उसके भाई विभीषण को लंका का राजा बनाया।

आज का श्री लंका ही पौराणिक लंका माना जाता है। पाण्डवों के समय रावण के वंशज ही लंका पर राज्य कर रहे थे। महाभारत के अनुसार, युधिष्ठिर के राजसूय यज्ञ की पूर्ति के लिए सहदेव अश्व लेकर लंका गये थे।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "राम सेतु पर कभी पैदल चलते थे लोग?". BBC News हिंदी. 15 दिसम्बर 2017. अभिगमन तिथि 9 जनवरी 2018.