रिदम वाघोलीकर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रिदम वाघोलीकर

रिदम वाघोलीकर (जन्म 24 सितंबर, 1993) एक भारतीय लेखक हैं। वे कला, फिल्म और लेखन के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए जाने जाते हैं। रिदम वाघोलीकर ने लता मंगेशकर, किशोरी अमोनकर जैसे संगीतकारों के जीवन पर किताबें लिखी हैं|[1][2]

उन्हें ब्रिटिश संसद के हाउस ऑफ कॉमन्स में महात्मा गांधी सम्मान से पुरस्कृत[3] और फेमिना मैगजीन के मोस्ट पावरफुल 2018 लोगो की सूची में शामिल किया गया है। [4]

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

रिदम वाघोलीकर का जन्म 24 सितंबर 1993 को नासिक, महाराष्ट्र, भारत में हुआ था। इनके पिता का नाम सुधीर वाघोलीकर और माता का नाम अनुराधा वाघोलीकर है। रिदम ने विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की है।

कार्य[संपादित करें]

रिदम ने अब तक दो किताबें प्रकाशित की हैं। 2017 में प्रकाशित पुस्तक, स्वरलता—रिदमिक रेमिनिसेस ऑफ लता दीदी, प्रसिद्ध गायिका लता मंगेशकर के जीवन पर आधारित है। यह दुनिया की पहली किताब है जो ग्रामोफोन डिस्क के अनूठे आकार पर छपी है।[5]

वाघोलीकर की दूसरी किताब 2018 में प्रकाशित हुई थी। यह पुस्तक हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत की किशोरी अमोनकर पर आधारित है। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, लता मंगेशकर और पंडित बिरजू महाराज ने उनके काम के लिए उनकी सराहना की। वाघोलीकर की आगामी पुस्तक ट्रांसजेंडर समुदाय और उससे संबंधित मुद्दों पर आधारित होगी।[6][7]

इसके अलावा वाघोलीकर 'क्रिएटिव पॉसिबिलिटीज़' नाम के एक सामाजिक संगठन के संस्थापक हैं। यह संस्था अनाथ बच्चों के लिए काम करती है।[7]

प्रकाशित कृतियाँ[संपादित करें]

नाम वर्ष
स्वरलता—रिदमिक रेमिनिसेस ऑफ लता दीदी सन २०१७
द सोल स्टरिंग व्हॉईस—गानसरस्वती किशोरी आमोणकर सन २०१८

पुरस्कार और सम्मान[संपादित करें]

  • उन्हें एनआरआई वेलफेयर सोसाइटी ऑफ इंडिया (लंदन) द्वारा 25 अक्टूबर, 2018 को लंदन, ब्रिटिश संसद, हाउस ऑफ कॉमन्स में 'महात्मा गांधी सम्मान' से सम्मानित किया गया। वाघोलीकर यह पुरस्कार पाने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय हैं।[3][8]
  • जुलाई 2018 में, रिदम को 'फेमिना मोस्ट पावरफुल ऑफ़ द ईयर 2018' प्रदान किया गया।[9]
  • दिसम्बर 2017 में उन्हें ब्लिस इक्विटी पब्लिकेशन द्वारा अभिनेत्री स्मिता जयकर के हाथो ‘वॉव’ अवार्ड्स से सम्मान किया।[10]
  • 28 अप्रैल 2018 को दुबई में संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्य मंत्रालय द्वारा आयोजित 12वें इंटरनेशनल अचीवर्स समित में रिदम वाघोलकर को वाणिज्य सचिव अब्दुल्ला अल सालेह के हाथो 'इंटरनेशनल अचीवर्स अवार्ड' से नवाजा गया।[11]
  • उन्हें 2015 में इस्मा इन्स्टिट्यूट की ओर से (इंटरनॅशनल स्पिरिच्युलिटी मार्केट) अध्यात्म क्षेत्र में दो पुरस्कार प्राप्त हुए है।[12]
  • इसके अतिरिक्त आसिआन थाई इंडियन बिझनेस लीडरशिप परिषद द्वारा 'युवा उद्योजक सन्मान’, ‘कला गौरव राष्ट्रीय पुरस्कार’, और 'सावित्रीबाई फुले राष्ट्रीय पुरस्कार' से सम्मानित है।[13]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "मनीषा लताड यांनादेणार 'कमांडर' सन्मान". महाराष्ट्र टाइम्स . २५ जुलाई २०१८.
  2. "Author Rhythm greets Lata Mangeshkar on her birthday". टाइम्स ऑफ इंडिया. 19 September 2018. पृ॰ 19.
  3. "Rhythm Wagholikar awarded for Keeping the Flag of India high at the British Parliament". Punekar News. 29 अक्टूबर 2018.
  4. "Highlights of Femina Pune's Most Powerful 2018-19" (अंग्रेजी में). फेमिना. 24 जुलाई 2018.
  5. "Puneite's coffee-table book on Lata Mangeshkar released". इंडियन एक्सप्रेस. ३ जुलाई २०१७.
  6. "किशोरी आमोणकर यांच्या सुहृदांनी सांगितलेल्या त्यांच्या सुरेल आठवणी पुस्तकरुपात". लोकमत . 1 फरवरी 2018.
  7. "गौरी सावंत यांची प्रकट मुलाखत". महाराष्ट्र टाइम्स. 9 मई 2018.
  8. "मनीषा लताड यांनादेणार 'कमांडर' सन्मान". महाराष्ट्र टाइम्स . 25 जुलाई 2018.
  9. "Highlights of Femina Pune's Most Powerful 2018-19". फेमिना. 24 जुलाई 2018.
  10. "Wagholikar and Rachana shah receives 'Wow Award'". बाईट्स ऑफ इंडिया. 11 दिसंबर 2017.
  11. "Wagholikar, Rachana Were Honored With Award" (अंग्रेजी में). बाईट्स ऑफ इंडिया. 3 मई 2018.
  12. "The award winning tarot expert". द टाइम्स ऑफ इंडिया. 12 अप्रैल 2015.
  13. "Pune : ऱ्हीदम वाघोलीकर, रचना खडीकर -शहा यांना राष्ट्रीय कला गौरव पुरस्कार जाहीर" (मराठी में). MPC News. 5 मार्च 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]