रवीन्द्र प्रभात

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Nuvola apps ksig.png
रवीन्द्र प्रभात

दिसम्बर २००८ में रवीन्द्र प्रभात
जन्म रवीन्द्र कुमार
5 अप्रैल 1969 (1969-04-05) (आयु 46)
महिंदवारा, सीतामढ़ी, बिहार, भारत
तख़ल्लुस प्रभात
उपजीविका कवि, लेखक, साहित्यकार और पत्रकार
राष्ट्रीयता भारतीय
अवधि (१९९१-वर्तमान)
शैलियाँ कविता, गज़ल, कहानी लेखन और ब्लॉग आलोचना
विषय साहित्य और चिट्ठाकारिता
साहित्यिक आंदोलन हिन्दी ब्लॉग आलोचना का सूत्रपात
प्रमुख कार्य हमसफर (१९९१), हिन्दी ब्लॉगिंग का इतिहास]] और ताकि बचा रहे लोकतन्त्र (२०११), प्रेम न हाट बिकाए (२९१२) तथा धरती पकड़ निर्दलीय (२०१३)
संतान एक बेटा और दो बेटियाँ


ravindraprabhat.in

रवीन्द्र प्रभात (जन्म: ५ अप्रैल १९६९) भारत के हिन्दी कवि, कथाकार, उपन्यासकार, व्यंग्यकार, स्तंभकार, सम्पादक और ब्लॉग विश्लेषक हैं। उन्होंने लगभग सभी साहित्यिक विधाओं में लेखन किया है परंतु व्यंग्य और गज़ल में उनकी प्रमुख उपलब्धियाँ हैं। १९९१ में प्रकाशित अपने पहले गज़ल संग्रह "हमसफर" से पहली बार वे चर्चा में आये।[1] लखनऊ से प्रकाशित हिन्दी दैनिक 'जनसंदेश टाईम्स' और 'डेली न्यूज एक्टिविस्ट' के वे नियमित स्तंभकार रह चुके हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

इनका जन्म ५ अप्रैल १९६९ को महींद्वारा गाँव, सीतामढ़ी जनपद, बिहार के एक मध्यमवर्गीय ब्राह्मण परिवार में हुआ। इनकी प्रारंभिक शिक्षा बेला परिहार के राजकीय प्राथमिक विद्यालय और सीतामढ़ी के ओरियंटल मध्य विद्यालय, मथुरा उच्च विद्यालय तथा राधा कृष्ण गोएनका कॉलेज में हुई।[2][3] इन्होने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय मुजफ्फरपुर से भूगोल के साथ स्नातक प्रतिष्ठा की पढ़ाई पूरी की और बाद में उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय से पत्रकारिता और जनसंचार में स्नातकोत्तर डिग्री ली।[4][5][6][7]

साहित्यिक जीवन[संपादित करें]

प्रभात की पहली कविता 1987 में 'किसलय' में प्रकाशित हुई और तब से वे साहित्य की विभिन्न विधाओं में लेखनरत हैं।[8][9][10] उनकी कवितायें और गज़लें आधा दर्जन से अधिक संकलनों में संकलित हैं। वे लखनऊ से प्रकाशित हिन्दी दैनिक 'जनसंदेश टाईम्स' और 'डेली न्यूज एक्टिविस्ट' के नियमित स्तंभकार रह चुके हैं, व्यंग्य पर आधारित उनका साप्ताहिक स्तंभ 'चौबे जी की चौपाल'काफ़ी लोकप्रिय रहा है। उनके व्यंग्य स्तंभ पर आधारित उपन्यास धरती पकड़ निर्दलीय प्रकाशित हुआ और।[11][12][13][14]

चिट्ठाकारिता[संपादित करें]

प्रभात हिन्दी चिट्ठाजगत में न्यु मिडिया विशेषज्ञ के रूप में जाने जाते हैं। उन्होंने हिन्दी ब्लॉग आलोचना का सूत्रपात किया है और हिन्दी ब्लॉगिंग का इतिहास लिखने वाले वे पहले इतिहासकार बने हैं।

वे ब्लॉग साहित्यिक पुरस्कार परिकल्पना सम्मान के संस्थापक हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें] यह सम्मान प्रत्येक वर्ष आयोजित अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी ब्लॉगर सम्मेलन में देश-विदेश से आए चिरपरिचित ब्लॉगर्स की उपस्थिति में प्रदान किया जाता है। अबतक यह सम्मान समारोह नई दिल्ली, लखनऊ तथा काठमांडू, (नेपाल) में आयोजित हो चुके हैं।[15]

प्रकाशित कृतियाँ[संपादित करें]

  • हमसफर - 1991 में
  • समकालीन नेपाली साहित्य - 1995 में
  • 1999 में मत रोना रमज़ानी चाचा
  • 2002 में स्मृति शेष (काव्य संग्रह)
  • 2011 में ताकि बचा रहे लोकतन्त्र ( ISBN:8191038587,ISBN-13:9788191038583)
  • हिन्दी ब्लॉगिंग का इतिहास (ISBN:978-93-80916-14-9)
  • 2012 में प्रेम न हाट बिकाए (ISBN: 9381394512,ISBN-13:9789381394519)

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. खोजबीन, पाक्षिक समाचार पत्र, प्रकाशन स्थल: कला मंदिर प्रधान पथ सीतामढ़ी, प्रकाशन तिथि: 15.12.1991, पृष्ठ संख्या: 2, लेखक: बसंत आर्य, आलेख शीर्षक: हमसफ़र : यथार्थ और कल्पना की धूप छाँव
  2. हिन्दुस्तान (समाचार पत्र), पटना संस्करण, 24 जुलाई 1994, पृष्ठ संख्या: 06, रवीन्द्र प्रभात की गज़ल
  3. आज, राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक, पटना संस्करण,14 नवम्बर 1994, पृष्ठ संख्या: 9, आलेख शीर्षक: साहित्य में सीतामढ़ी
  4. पुस्तक: मौन के स्वर, संपादक: श्रीराम दुबे, प्रथम संस्करण: 1994, पृष्ठ संख्या: 58, प्रकाशक: काव्य संगम प्रकाशन, इंदिरा नगर, सीतामढ़ी-843302]
  5. कविता कोश में रवीन्द्र प्रभात का जीवन परिचय
  6. गद्य कोश में रवीन्द्र प्रभात का जीवन परिचय
  7. संवाद(हिन्दी मासिक पत्रिका), संपादक: बसंत आर्य, टैगोर साहित्य मंच, डुमरा -843301, बिहार, भारत, अंक -4,5,6,1993, पृष्ठ संख्या: 2
  8. राष्ट्रीय सहारा, हिन्दी दैनिक, नई दिल्ली, पृष्ठ संख्या: 1 (उमंग), 26 सियांबर 1994, शीर्षक: एक गौरवशाली अतीत
  9. इंडिया टुडे, राष्ट्रीय पाक्षिक पत्रिका, नई दिल्ली, 15 मई 1995, पृष्ठ संख्या: 52, शीर्षक: मिठास कहाँ गईल
  10. रवीन्द्र प्रभात: एक संक्षिप्त परिचय
  11. जनसंदेश टाईम्स
  12. ओपन लाइब्रेरी में रवीन्द्र प्रभात की पुस्तकों का बर्गीकरण
  13. हिन्दुस्तान, हिन्दी दैनिक, पटना संस्करण, 5 जून 1994, पृष्ठ संख्या: 07
  14. डेली न्यूज एक्टिविस्ट
  15. दैनिक भास्कर, राष्ट्रीय संस्कारण, नयी दिल्ली, दिनांक :29 अप्रैल 2011, लेखक : पीयूष पाण्डेय, आलेख शीर्षक : हिन्दी ब्लॉग सम्मेलन के बहाने

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]