भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान
इंदौर
IIT Indore logo.svg

आदर्श वाक्य:ज्ञानम् सर्वजनहिताय (संस्कृत)
हिन्दी में आदर्श वाक्य:ज्ञान सब के हित के लिये है
स्थापित2009
प्रकार:Public
अनुसंधान
निदेशक:एन.के.जैन(Acting)
स्नातक:४६५
स्नातकोत्तर:४५२
अवस्थिति:इन्दौर, मध्य प्रदेश, भारत
परिसर:525 एकड़ (2.1 कि॰मी2)
जालपृष्ठ:http://www.iiti.ac.in
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर का प्रवेशद्वार

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर की स्थापना २००९ में हुई थी। यह मध्य प्रदेश के इन्दौर में स्थित है। आरम्भ में इसकी कक्षाएँ देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के इंजीनियरी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान में लगीं किन्तु २०१६ से इसके अपने कैम्पस में लग रहीं हैं जो इन्दौर से लगभग २५ किमी पूरब में सिमरौल नामक स्थान में स्थित है।

विभाग[संपादित करें]

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर, में मुख्य तीन विभाग है-
  • मूल विज्ञान विभाग (School of Basic Sciences)
  • इंजीनियरी विभाग (School of Engineering)
  • मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विभाग (Schools of Humanities and Social Sciences)

मूल विज्ञान विभाग[संपादित करें]

इंजीनियरी विभाग[संपादित करें]

  • संगणक विज्ञान एवं इंजीनियरी
  • वैद्युत इंजिनियरी
  • यात्रिक
  • सिविल
  • धातुकर्म एवं पदार्थ विज्ञान

मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विभाग[संपादित करें]

  • अंग्रेजी भाषा एवं साहित्य
  • अर्थशास्त्र
  • दर्शनशास्त्र
  • मनोविज्ञान
  • समाजशास्त्र
अन्तर-विषयी अनुसंधान के क्षेत्र
  • जैवविज्ञान तथा बायो-मेडिकल इंजीनियरी
  • पदार्थ विज्ञान एवं इंजीनियरी
  • खगोलिकी

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सांस्कृतिक उत्सव (फ्लक्सस)[संपादित करें]

फ्लक्सस IIT इंदौर में आयोजित होने वाला एक वार्षिक सामाजिक और सांस्कृतिक उत्सव है। इसमें कई प्रतियोगिताएं अनौपचारिक कार्यक्रम जैसे गीत संगीत कविता नाटक,और अन्य पेशेवर प्रदर्शन शामिल हैं। इसकी शुरुआत वर्ष 2011 में हुई थी।

फ्लक्सस 2019 के आयोजन में हिंदी उर्दू की कविता और शायरी को समर्पित 'काव्यांजलि' को शामिल किया गया था, जिसमें देस के जाने माने प्रशंसित दिवंगत कवि राहत इन्दौरी जी की उपस्थिति प्रमुख रही है । साथ ही कवि संदीप द्विवेदी, सूर्य प्रकाश उपाध्याय, ऋषि दीक्षित, नितेश कुशवाहा सहित पूरे इंदौर के प्रसिद्ध कवियों ने डॉ राहत इंदौरी के साथ मंच साझा किया।  इसमें रॉक बैंड द लोकल ट्रेन, गायक अमित त्रिवेदी और कनाडाई ईडीएम कलाकार मिस तारा के संगीत कार्यक्रम भी शामिल किए गए थे।

फ्लक्सस 2020 में गायक जोड़ी सलीम-सुलेमान वा डीजे शान, द येलो डायरी का संगीत प्रदर्शन शामिल हुआ और जाकिर खान के स्टैंड-अप कॉमेडी प्रदर्शन प्रमुख आकर्षण के केंद्र थे