भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर
आईआईटी कानपुर
ध्येय तमसो मा ज्योतिर्गमय
स्थापना १९५९
प्रकार शैक्षणिक एवं शोध संस्थान
सभापति एम आनन्दकृष्णन्
निदेशक संजय गोविन्द धाण्डे
कर्मचारी १२०० (तकरीबन)
स्नातक २५०० (तकरीबन)
परास्नातक २२०० (तकरीबन)
अवस्थिति कानपुर, उत्तर प्रदेश, भारत
परिसर 1,055 एकड़s (4.27 कि.मी.)
जालस्थल iitk.ac.in

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर (अंग्रेज़ी: Indian Institute of Technology Kanpur), जो कि आईआईटी कानपुर अथवा आईआईटीके के नाम से भी जाना जाता है, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में से एक है। इसकी स्थापना सन् १९५९ में उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में हुई। आईआईटी कानपुर मुख्य रूप से विज्ञान एवं अभियान्त्रिकी में शोध तथा स्नातक शिक्षा पर केंद्रित एक प्रमुख भारतीय तकनीकी संस्थान बनकर उभरा है।[1]

इतिहास[संपादित करें]

संस्थान की स्थापना १९५९ में कानपुर-भारत-अमेरिका कार्यकर्म के तत्वाधान में अमेरिका के ९ विश्वविद्यालयों के सहयोग से हुई[2]। सन १९६३ में संस्थान का स्थानांतरण वर्तमान स्थान पर हुआ। संगणक विज्ञान में शिक्षा प्रदान करने वाला यह पूरे भारत वर्ष में सर्वप्रथम संस्थान था।

शिक्षण[संपादित करें]

स्नातक[संपादित करें]

परास्नातक[संपादित करें]

विभाग[संपादित करें]

आईआईटी कानपुर का संगणक विज्ञान एवं अभियान्त्रिकी विभाग।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर में निम्नलिखित शैक्षणिक विभाग है -

अभियान्त्रिकी[संपादित करें]

=== मानविकी ===kk

  • मानविकी एवं समाज विज्ञान

विज्ञान[संपादित करें]

प्रयोगशालाएँ एवं अन्य सुविधाएँ[संपादित करें]

छात्र[संपादित करें]

उल्लेखनीय पूर्व-छात्र[संपादित करें]

पुरस्कार एवं सम्मान[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. सुब्बाराव, ई. सी. (२००८). आई फॉर एक्सलेन्स. हार्पर कॉलिन्स. 
  2. http://www.iitk.ac.in/infocell/iitk/newhtml/history.htm

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]