परभणी जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
परभणी ज़िला
परभणी जिल्हा
MaharashtraParbhani.png

महाराष्ट्र में परभणी ज़िले की अवस्थिति
19°30′N 76°45′E / 19.500°N 76.750°E / 19.500; 76.750निर्देशांक: 19°30′N 76°45′E / 19.500°N 76.750°E / 19.500; 76.750
राज्य महाराष्ट्र
Flag of India.svg भारत
प्रभाग औरंगाबाद मंडल
मुख्यालय परभणी
क्षेत्रफल 6,511.58 कि॰मी2 (2,514.14 वर्ग मील)
जनसंख्या 1,527,715 (2001)
जनघनत्व 244.39/किमी2 (633.0/मील2)
साक्षरता 55.15%
लिंगानुपात 958
तहसीलें 1. परभणी, 2. गंगाखेड़, 3. सोनपेठ, 4. पाथरी, 5. मानवत, 6. पालम, 7. सेलु, 8. जिंतुर, 9. पुर्णा
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 1. परभणी(जालना जिला के साथ साझा) (निर्वाचन आयोग जालस्थल पर आधारित)
विधानसभा सीटें 4
आधिकारिक जालस्थल

परभणी ज़िला भारत के महाराष्ट्र राज्य का एक ज़िला है। ज़िले का मुख्यालय परभणी है। यह ज़िला मराठवाड़ा क्षेत्र के आठ जिलों में से एक है।[1][2]

विवरण[संपादित करें]

पूरा मराठवाड़ा क्षेत्र, तत्कालीन निज़ाम की रियासत का एक भाग था, बाद में यह हैदराबाद रियासत का एक हिस्सा बन गया, 1956 में राज्यों के पुनर्गठन के बाद यह तत्कालीन बंबई राज्य का एक हिस्सा बना और 1960 के बाद से यह वर्तमान राज्य महाराष्ट्र का हिस्सा है।

परभणी जिला, उत्तर में हिंगोली, पूर्व में नांदेड़, दक्षिण में लातूर और पश्चिम में बीड और जालना जिलों से घिरा हुआ है। जिले को 9 प्रशासनिक उप-प्रभागों यानि तहसीलों में विभाजित किया गया है जो हैं; परभणी, गंगाखेड़, सोनपेठ, पाथरी, मनवथ, पलाम, सेलु, जिंतुर और पुरना।

परभणी जिला महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई तथा राज्य के अन्य मुख्य शहरों और पड़ोसी राज्य आंध्र प्रदेश में भी सड़क मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

परभणी ज़िले मे कुछ वैशिष्ट्य पूर्ण बात है। गंगाखेड,तालुका मे संत जनाबाई का जन्म स्थान हैं। पाथरी,तालुका मे साई बाबा जन्म स्थान है। जिंतूर,तालुका मे सह्याद्रीपर्वत के उपर निमगिरी जैन मंदिर है। परभणी तालुका मे हजरत तुरबुल हक दर्गा।

भूगोल[संपादित करें]

परभणी जिले 18.45 और 20.10 उत्तरी अक्षांश और 76.13 और 77.39 पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है। जिले के पूर्वोत्तर में स्थित पहाड़ियां अजंता पर्वतमाला का भाग हैं जो जिंतुर तहसील से होकर गुजरती है। जिले के दक्षिण में बालाघाट पर्वतमाला की पहाड़ियां हैं। समुद्र तल से जिले की औसत ऊंचाई 357 मीटर है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "RBS Visitors Guide India: Maharashtra Travel Guide," Ashutosh Goyal, Data and Expo India Pvt. Ltd., 2015, ISBN 9789380844831
  2. "Mystical, Magical Maharashtra," Milind Gunaji, Popular Prakashan, 2010, ISBN 9788179914458