द सेटेनिक वर्सेज़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

द सेटेनिक वर्सेज़ (अंग्रेज़ी: The Satanic Verses) (हिन्दी: शैतानी आयतें), सलमान रुशदी द्वारा रचित चौथा उपन्यास है, जो सन् १९८८ में पहली बार वाइकिङ्स पब्लीकेशन द्वारा प्रकाशित हुआ। यह मुहम्मद के जीवन से प्रेरित है। इस पुस्तक को इस्लामिक जगत में ईशनिन्दक (ब्लासफेमस) माना गया और इरान के अयातुल्ला खोमैनी ने इसके लिये सलमान रुशदी की हत्या का फतवा जारी किया। भारत सहित कई देशों में यह पुस्तक प्रतिबन्धित करनी पड़ी। उनकी हत्या करने के एलान की प्रतिक्रिया के रूप में, रुश्दी ने लगभग एक दशक, मुख्यतः भूमिगत होकर बिताया, जिसके दौरान कभी-कभार ही वे सार्वजनिक रूप से प्रकट होते थे, लेकिन उन पर एक लेखक के रूप में नियंत्रणकारी प्रभाव डालने वाले और सन्निहित अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के ख़तरे के रूप में फतवे के खिलाफ़ वे मुखर रहे

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]