गूगल खोज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Google Search
Googlelogo.png
Google Search homepage
The Google homepage
यू॰आर॰एल॰ http://www.google.com
list of domain names
                 https://www.google.com
व्यापारिक? Yes
प्रकार Search Engine
पंजीकरण Optional
भाषा(एँ) Multilingual (124)
अधिकारी Google
रचनाकार Sergey Brin and Larry Page
उद्घाटन तिथि September 15, 1997[1]
राजस्व From AdWords
वर्तमान स्थिति Active
अलेक्सा स्थान Straight Line Steady.svg 1 (July 2010 के अनुसार )[2]

गूगल खोज या गूगल वेब खोज वेब पर खोज का एक इंजन है, जिसका स्वामित्व गूगल इंक के पास है और यह वेब पर सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला खोज इंजन है.[3] अपनी विभिन्न सेवाओं के जरिये गूगल प्रति दिन कई सौ लाख विभिन्न प्रश्न प्राप्त करता है.[4] गूगल खोज का मुख्य उद्देश्य अन्य सामग्रियों, जैसे गूगल चित्र खोज के मुकाबले वेबपृष्ठों से सामग्री की खोज करना है. मूलतः गूगल खोज का विकास 1997 में लैरी पेज और सेर्गेई ब्रिन ने किया.[5]

गूगल खोज मूल शब्द खोज क्षमता से परे कम से कम 22 विशेष सुविधाएं प्रदान करता है.[6] इनमें समानार्थी शब्द, मौसम पूर्वानुमान, समय क्षेत्र, स्टॉक उद्धरण, मानचित्र, भूकंप डेटा, मूवी शोटाइम, हवाई अड्डा, होम लिस्टिंग और खेल स्कोर शामिल है. (नीचे देखें : विशेष सुविधाएं). यहां (70..73) के दायरे सहित अंकों, कीमतों, तापमान,[7] धन/इकाई रूपांतरणों ("इंचों में 10.5 सेमी"), गणना (3*4+sqrt(6)-pi/2), पैकेज ट्रैकिंग, पेटेंट, क्षेत्र कोड,[6] और प्रदर्शित पृष्ठों का भाषा अनुवाद जैसी विशेष सुविधाएं उपलब्ध हैं.

गूगल के खोज परिणाम पृष्ठों पर खोज परिणाम (गूगल हिट्स के लिए जीहिट्स (ghits) ) के आदेश एक हिस्से में "पेजरैंक" कहे जाने वाले एक प्राथमिकता रैंक पर आधारित हैं. प्रथागत खोज (नीचे देखें : खोज विकल्प) के लिए गूगल खोज बूलियन ऑपरेटरों के उपयोग: जैसे: अपवर्जन ("-XX"), शामिल किए जाने ("+ xx"), विकल्प ("xx या yy") और वाइल्डकार्ड ("x * x") के जरिये कई तरह के विकल्प प्रदान करता है.[8]

खोज इंजन[संपादित करें]

पृष्ठ श्रेणी[संपादित करें]

गूगल की कामयाबी का एक बड़ा हिस्सा पेज रैंक कहे जाने वाले पेटेंट किये हुए एल्गोरिथ्म (कलन विधि) के कारण है, जो खोज के सूत्र का मिलान कर वेब पृष्ठों को रैंक प्रदान करता है.[9] खोज के परिणामों की रैंकिंग की पहले की मुख्य शब्द (कीवर्ड) आधारित पद्धति, जिसका उपयोग कई खोज इंजनों में किया गया, कभी गूगल की तुलना में ज्यादा लोकप्रिय थी, वह पेजों की रैंक इस आधार पर तय करती थी कि कितनी बार पृष्ठ में खोज के शब्द को दोहराया गया है या कितनी मजबूती से खोज के शब्द प्रत्येक परिणामस्वरूप पृष्ठ के भीतर जुड़े हुए हैं. पेज रैंक कलन विधि मानव जनित कड़ियों के विश्लेषण बजाय यह मानती है कि कई महत्वपूर्ण पृष्ठों से जुड़े वेब पेज स्वयं महत्वपूर्ण हो सकते हैं. एल्गोरिथ्म पेजों के लिए पुनरावर्ती स्कोर की गणना करता है और यह उनसे जुड़े पन्नों की पेज रैंक के तुलित जोड़ पर आधारित है. पेज रैंक को मानव के महत्व की अवधारणाओं का अच्छा सहसंबंधी माना जा सकता है. पेजरैंक के अलावा, गूगल ने पिछले कई वर्षों में परिणाम सूचियों पर पेजों की रैंकिंग निर्धारित करने के लिए कई अन्य गुप्त मापदंड अपनाये हैं, जो लगभग 200 विभिन्न संकेतकों के रूप में बताये जाते हैं.[10][11] स्पैमरों से बचने और गूगल के प्रतिस्पद्धियों पर बढ़त बरकरार रखने के लिए इनका विवरण गुप्त रखा जाता है.

खोज परिणाम[संपादित करें]

गूगल द्वारा अनुक्रमित वेब पेजों के सटीक प्रतिशत ज्ञात नहीं है, क्योंकि वास्तव में गणना बहुत मुश्किल है. गूगल न केवल वेब पृष्ठों को अनुक्रमित और उनका गुप्त भंडारण करता है, बल्कि अन्य प्रकार की फ़ाइलों के "स्नैपशॉट (आशुचित्र)" को भी ग्रहण करता है, जिनमें पीडीएफ (PDF), वर्ड सामग्री, एक्सेल स्प्रेडशीट, फ्लैश एसडब्ल्यूएफ (SWF), सादी टेक्स्ट फाइलें व अन्य शामिल होती हैं.[12] टेक्स्ट औरएसडब्ल्यूएफफाइलों के मामलों को छोड़कर गुप्त रूप से संग्रह किया गया संस्करण (एक्स) एचटीएमएल का एक रूपांतरण होता है, जिससे उन्हें समकक्ष दर्शनीयता का अनुप्रयोग किये बिना फ़ाइल पढ़ने की अनुमति मिलती है.

एक पहले से चुनी गई (डिफाल्ट) भाषा निश्चित कर व "सुरक्षित खोज" फ़िल्टरिंग प्रौद्योगिकी का उपयोग कर उपयोगकर्ता खोज इंजन को अनुकूलित कर सकते हैं और प्रत्येक पृष्ठ पर दिखाए गए परिणामों की संख्या निश्चित कर सकते हैं. इस वरीयताओं का संग्रह करने के लिए उपयोगकर्ताओं की मशीनों पर लंबे समय की कुकीज़ (इंटरनेट सर्वर द्वारा भेजे गये डेटा) के लिए गूगल की आलोचना भी की जाती है, जो एक रणनीति है, जिससे उन्हें उपयोगकर्ता के खोज के नियमों का पता लगाने और एक साल से ज्यादा समय तक डेटा को बरकरार रखने में सक्षम बनाता हैं. किसी भी प्रश्न के लिए पहले 1000 परिणाम प्रति पृष्ठ अधिकतम 100 की संख्या में दिखाये जा सकते हैं. परिणामों की संख्या निर्दिष्ट करने की क्षमता केवल तभी उपलब्ध हो पाती है, जब "त्वरित खोज" का विकल्प सक्षम (इनेबल) नहीं किया गया हो. यदि "त्वरित खोज" सक्षम किया गया है, तो सैटिंग के विपरीत केवल 10 परिणाम प्रदर्शित होंगे.

गैर-सूचीबद्ध डेटा[संपादित करें]

अपनी विशाल सूची के बावजूद उल्लेखनीय मात्रा में डेटा ऑनलाइन डेटाबेस पर उपलब्ध होते हैं, जिन तक प्रश्नों के जरिये पहुंचा जा सकता है, कड़ियों(लिंक) के जरिये नहीं. यह तथाकथित अदृश्य या डीप वेब गूगल और अन्य खोज इंजनों से न्यूनतम रूप से आच्छादित होता है.[13] डीप वेब में पुस्तकालय सूची, सरकारों के आधिकारिक विधायी दस्तावेज, फोन बुक या दूसरी सामग्रियां होती हैं, जो एक प्रश्न पर प्रतिक्रिया के लिए गतिशील रूप से तैयार की जाती हैं.

कुछ देशों में गोपनीयता के कारण कुछ कड़ियों को देखने की मनाही होती है. उदाहरण के लिए स्विट्जरलैंड में कोई व्यक्ति गूगल इंक को उस कड़ी को हटाने के लिए बाध्य कर सकता है, जिसमें उसका नाम है.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

गूगल अनुकूलन[संपादित करें]

चूंकि गूगल सबसे अधिक लोकप्रिय खोज इंजन है, कई वेबमास्टर अपने वेबसाइटों की गूगल रैंकिंग को प्रभावित करने को उत्सुक हो गये हैं. सलाहकारों का एक उद्योग खड़ा हो गया है, जो गूगल और अन्य खोज इंजनों पर वेबसाइटों की रैंकिंग में वृद्धि में मदद करता है. खोज इंजन अनुकूलन कहा जाने वाला यह क्षेत्र खोज इंजन सूची में पैटर्न का पता लगाने का प्रयास करता है और तब अपने ग्राहक की साइटों के लिए ज्यादा खोजकर्ताओं को आकर्षित कर रैंकिंग सुधारने की कार्यप्रणाली विकसित करता है.

खोज इंजन अनुकूलन में "ऑन पेज" कारकों (जैसे बॉडी कॉपी, शीर्षक तत्व, एच 1 शीर्षक तत्व और इमेज अल्ट एट्रीब्यूट विशेषताएं) और ऑफ पेज अनुकूलन कारक, (जैसे एंकर टेक्स्ट और पेज रैंक) दोनों शामिल होते हैं. गूगल की प्रासंगिक कलन विधि को प्रभावित करने का एक आम विचार है, "ऑन पेज विभिन्न पृष्ठों में निशाना बनाये गये कीवर्ड्स को शामिल करना, खासकर शीर्षक तत्व और बॉडी कॉपी में. (नोट: पेज में जितना उपर होगा, माना जाता है कि कीवर्ड्स को उतनी ही प्रमुखता मिलेगी और रैंकिंग भी). कीवर्ड का ज्यादा पाया जाना, हालांकि पेज के गूगल की स्पैम की जांच करने वाली कलन विधि के लिए संदिग्ध होने का कारण बनता है.

गूगल ने वेबसाइट स्वामियों के लिए दिशानिर्देश प्रकाशित किये हैं, जो वैध अनुकूलन सलाहकारों का उपयोग कर अपनी रैंकिंग बढ़ा सकते हैं.[14]

कार्यक्षमता[संपादित करें]

चित्र:Feature.png
कई खोज शब्दावली के लिए परिभाषा लिंक की छवि उपलब्ध है.

गूगल खोज में स्थानीयकृत वेबसाइटों की एक श्रृंखला शामिल होती है. उनमें से सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली साइट google.com है, जो दुनिया की सबसे ज्यादा खोली जाने वाली वेबसाइट है.[15] इसकी कुछ विशेषताओं में शब्दकोश के शब्दों को शामिल कर ज्यादा खोजों की पारिभाषिक कड़ी शामिल है. इसमें आप अपनी खोज के जितने अधिक परिणाम हासिल करते हैं, वे दूसरी खोजों की कड़ियां (उदाहरण के लिए, जिन शब्दों की वर्तनी गूगल गलत मानता है, अपनी प्रस्तावित वर्तनी का उपयोग कर खोज परिणाम के एक लिए एक कड़ी प्रदान करता है) और अन्य विषय बन जाते हैं.

वाक्य विन्यास खोज[संपादित करें]

गूगल का खोज इंजन सामान्यत: एक सरल टेक्स्ट को स्वीकार करता है और उपयोगकर्ता के टेक्स्ट को शब्द खोज के अनुक्रम में रखता है, जो आमतौर पर वे शब्द होंगे, जो परिणाम के रूप में आयेंगे, लेकिन कोई बुलियन आपरेटर्स : जैसे एक मुहावरे के लिए उद्धरण चिह्न ("), एक योग्य शब्द के लिए एक उपसर्ग "+", "-" या कई उन्नत ऑपरेटरों में से एक, जैसी "साइट" का भी उपयोग कर सकता है. "गूगल सर्च बेसिक्स" के वेबपेजों में इन अतिरिक्त प्रश्नों में से प्रत्येक और विकल्प (नीचे देखें : खोज के विकल्प) का वर्णन किया गया है).

गूगल के उन्नत खोज वेब के फॉर्म में कई अतिरिक्त क्षेत्र दिए गये हैं, जिनसे खोज करने वालों को प्रथम पुनः प्राप्ति की तारीख जैसी श्रेणी के जरिये खोज की अर्हता प्राप्त होती है. सभी उन्नत प्रश्न आमतौर पर अतिरिक्त योग्य शब्दों के रूप में नियमित प्रश्नों में बदल जाते हैं.

प्रश्न विस्तार[संपादित करें]

गूगल प्रश्न विस्तार को प्रस्तुत किये गये खोज प्रश्न पर लागू करता है और इसे एक ऐसे सवाल के रूप में बदलता है, जो वास्तव में परिणाम पुनः प्राप्त करने के लिए उपयोग किए जायेंगे. पृष्ठ रैंकिंग के साथ गूगल कलन विधि का सटीक विवरण जान-बूझकर छिपाये रखता है, लेकिन निश्चित रूप से उनमें होने वाले निम्नलिखित परिवर्तन शामिल हैं:

  • शब्द को पुनआर्देशित करना: सूचना की पुनर्प्राप्ति की यह एक मानक तकनीक है, जो पुन:प्राप्त किये गये परिणामों में कार्य को कम करती है. यह बदलाव के उपयोगकर्ता के लिए अदृश्य होता है, क्योंकि परिणामों का आदेश प्रासंगिकता का निर्धारण के लिए मूल प्रश्न आदेश का उपयोग करता है.
  • खोज की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए खोज शब्दों के छोटे विभिन्न वाक्यात्मक प्रकारों के जरिये स्टीमिंग का इस्तेमाल किया जाता है.[16]
  • प्रश्नों में संभा‍वित ग़लत वर्तनी को ठीक करने की सीमित सुविधा भी होती है.

"मै अपने को भाग्यशाली महसूस कर रहा हूं"[संपादित करें]

गूगल के होमपेज पर "मैं सौभाग्यशाली महसूस कर रहा हूं" लेबल लगा एक बटन शामिल हैं. जब उपयोगकर्ता बटन पर क्लिक करता है तो उपयोगकर्ता को खोज इंजन के परिणाम वाले पेज को दरकिनार करके पहले खोज परिणाम की ओर सीधे ले जाया जाएगा. इसमें यह विचार होता है कि यदि कोई उपयोगकर्ता "भाग्यशाली महसूस करता है", तो खोज इंजन खोज परिणामों के जरिये प्राप्त पृष्ठ के बिना पहली बार सटीक मिलान पर वापस आ जायेगा. "रैप्ट" के टॉम चावेज़ द्वारा किये गये अध्ययन के अनुसार, गूगल को इस सुविधा का सालाना खर्च 110 मिलियन डॉलर आता है, क्योंकि सभी खोजकर्ताओं का 1% हिस्सा इस सुविधा का उपयोग करता हैं और वे सभी विज्ञापनों को नजरअंदाज कर देते हैं.[17]

30 अक्टूबर 2009 को कुछ उपयोगकर्ताओं के लिए "मैं भाग्यशाली महसूस कर रहा हूं" बटन नियमित खोज बटन के साथ गूगल के मुख्य पृष्ठ से हटा दिया गया था. दोनों बटनों की जगह पर लिखा था कि "यह स्थान जानबूझकर खाली छोड़ दिया गया है." जब माउस को वहां ले जाया गया तो टेक्स्ट फीका पड़ गया और वांछित शब्दों को साथ खोज के स्थान में भरने और इंटर बटन दबाने से सामान्य खोज की कार्यक्षमता हासिल की गई. गूगल के एक प्रवक्ता ने बताया कि "यह सिर्फ एक परीक्षण है और हमारे लिए यह मापने का एक रास्ता भी कि हमारे उपयोगकर्ता क्या अधिक साधारण खोज इंटरफेस को पसंद करेंगे." <refनाम=गूगल के नये मुखपृष्ठ का मोटो है: 'यह स्थान जानबूझकर खाली छोड़ दिया गया है'>"Google’s New Homepage Motto: 'This Space Intentionally Left Blank'". WallStreetJournal. 2009. http://digitaldaily.allthingsd.com/20091030/goog-page/. अभिगमन तिथि: 2009-11-17. </ref> निजीकृत गूगल होमपेजों में दोनों बटन और उनके सामान्य कामकाज शामिल होते हैं.

21 मई, 2010 को पैक-मैन की सालगिरह पर "मैं भाग्यशाली महसूस कर रहा हूं" बटन की जगह "सिक्का डालें" लिखा हुआ बटन लगाया गया. बटन दबाने के बाद उपयोगकर्ता उस क्षेत्र में पैक-मैन के गूगल थीम वाला खेल शुरू कर सकेगा, जहां गूगल लोगो सामान्य रूप से रहता है. बटन को दूसरी बाद दबाने से ही उसी खेल का दो खिलाड़ियों वाला संस्करण शुरू हो जायेगा, जिसमें एमएस पैकमैन दो खिलाड़ियों के लिए मौजूद होगा. इस संस्करण तक पृष्ठ की एक स्थायी कड़ी के रूप में http://www.google.com/pacman पर पहुंचा जा सकता है.

रिच स्निपेट्स[संपादित करें]

12 मई 2009 को गूगल की घोषणा की है कि वह एचकार्ड (hCard), एचरिव्यू (hReview), और एचप्रोडक्ट (hProduct) माइक्रोफ़ॉर्मेट की पद व्याख्याएं करेंगे और उनका उपयोग ख्रोज के परिणामों की संख्या बढ़ाने के लिए करेंगे, जिसे "रिच स्निपेट्स" कहा गया.[18]

खास विशेषताएं[संपादित करें]

टेक्स्ट के लिए खोज की मुख्य खोज इंजन सुविधा के अलावा गूगल खोज में खोज के दौरान 22 "विशेष सुविधाएँ"(दर्जनों ट्रिगर शब्दों को दर्ज कर सक्रिय करने के बाद) भी मिलती हैं :[6][7][19]

  • मौसम - कई शहरों के मौसम की स्थिति, तापमान, हवा, आर्द्रता, और पूर्वानुमान[6] को बड़े शहरों के लिए नगर के साथ और छोटे शहरों (जैसे मौसम लारेंस, कंसास, मौसम पेरिस, मौसम ब्रेमेन, जर्मनी) के लिए स्टेट, अमेरिका ज़िप कोड, या नगर और देश के साथ "मौसम" टाइप करके देखा जा सकता है.
  • शेयर उद्धरण - टिकर प्रतीक (या "स्टॉक" शामिल कर) जैसे सीएससीओ (CSCO), एमएसएफटी (MSFT); आईबीएम (IBM) स्टॉक; एफ स्टॉक (सूची में फोर्ड मोटर कंपनी); या एआईवीएसएक्स (AIVSX) (कोष) टाइप कर किसी खास कंपनी या फंड के बाजार संबंधी आंकड़े[6] देखे जा सकते हैं. परिणाम दिन के मध्य में बदलाव दिखाते हैं या 5 साल के ग्राफ आदि. यह वैसे शेयरों के नामों में काम नहीं करता है, जो सिर्फ एक वर्ण के हैं, जैसे सिटीग्रुप (सी) या मैकी(एम)(फोर्ड एक अपवाद है) या समान शब्द हैं, जैसे डायमंड ऑफशोर (डीओ (DO)) या मैजेस्को (सीओओएल (COOL))
  • समय - कई शहरों (दुनिया भर में)[6] का वर्तमान समय का पता "समय" और नगर का नाम (जैसे: समय काहिरा, समय प्रैट, केएस (KS) टाइप कर के देखा जा सकता है.
  • खेल स्कोर - स्कोर और खेल की टीमों की समय-सारिणी[6] खोज बॉक्स में टीम का नाम या लीग का नाम लिखकर देखा जा सकता है.
  • इकाई रूपांतरण - प्रत्येक वाक्यांश, जैसे 10.5 सेंटीमीटर को इंच में या 90 किलोमीटर को मील में लिखकर माप को परिवर्तित किया जा सकता है[6].
  • मुद्रा रूपांतरण - नाम या करेंसी कोड (आईएसओ (ISO) 4217 द्वारा सूचीबद्ध): 6789 यूरो को अमरीकी डालर में, 150 जीबीपी (GBP) को अमरीकी डालर में, 5000 येन को अमरीकी डालर में 5000 यूआन को लीरा (अमरीकी डालर यूएसडी (USD) या "US$" या "$", जबकि कनाडा की मुद्रा के लिए सीएडी (CAD)) टाइप कर एक धन या मुद्रा परिवर्तक का चयन किया जा सकता है.
  • कैलकुलेटर (परिगणक) - गणना संख्या या शब्दों में एक फार्मूले जैसे: 6*77+pi +sqrt(e^3)/888 प्लस 0.45 को दर्ज कर प्रत्यक्ष रूप से गणना कर गणना के परिणाम निर्धारित[6] किये जा सकते हैं. गणना करने के बाद उपयोगकर्ता को सूत्र की खोज के लिए विकल्प दिया जाता है. इकाई से अवगत गणना की अनुमति देने के लिए कैलकुलेटर भी इकाई और मुद्रा रूपांतरण कार्यों का उपयोग करता है. उदाहरण के लिए, "(3 यूरो /लीटर)/(40 मील /गैलन)" अमेरिकी डॉलर / मील में गणना की जाती है कि प्रति लीटर 3 यूरो की लागत से गैस से चलने वाली 40 एमपीजी कार के लिए प्रति मील डॉलर में क्या लागत आयेगी? कैरट "^" एक प्रतिपादक शक्ति को एक नंबर ज्यादा देती है और प्रतिशत अनुमति दी जाती है ("300 का 40%").[7]
  • संख्यात्मक श्रेणियां - संख्याओं के एक सेट का मिलान संख्याओं की श्रेणियों के बीच एक डबल बिंदु (70..73 या 90..100) के उपयोग से किया जा सकता है, ताकि समावेशी रेंज में सकारात्मक संख्या का मिलान किया जा सके.[7] ऋणात्मक संख्याओं को एक्सक्लूजन-डैश के उपयोग के रूप में जाता जाता है, जो संख्या का मिलान नहीं करते.
  • शब्दकोश अनुसंधान - एक शब्द या वाक्यांश की परिभाषा "परिभाषित करें" लिखकर, उसके बाद एक कॉलन देकर और खोजे जाने वाले शब्द (शब्दों) (जैसे "परिभाषित करें:दर्शन") को दर्ज कर पाई[6] जा सकती है.
  • नक्शे - कुछ संबंधित नक्शे[6] एक क्षेत्र के नाम या अमेरिकी जिप कोड और "नक्शा" शब्द (जैसे: न्यूयॉर्क मानचित्र, कान्सास मानचित्र, या पेरिस नक्शा) टाइप कर देखे जा सकते हैं.
  • मूवी शोटाइम - समीक्षा या फिल्म के शो टाइम्स सर्च बॉक्स में "फिल्में" या किसी भी वर्तमान फिल्म का नाम टाइप कर समीप के सिनेमाघरों में चल रही फिल्मों को सूचीबद्ध किया जा सकता है.[6] अगर एक विशिष्ट स्थान पिछली खोज में सहेजा जाता है तो शीर्ष खोज परिणाम उस फिल्म के पास के थियेटरों में चलने के शो समय को प्रदर्शित करेगा. ये सूचियां हालांकि कभी-कभी पूरी तरह गलत होती हैं और गूगल से उन्हें सही करने को कहने का कोई उपाय नहीं होता, उदाहरण के लिए 25 जुलाई को गूगल के शोटाइमों की सूची में ईआई (EI) कैपिटन थियेटर में अप फिल्म को सूचीबद्ध किया गया, पर ईआई कैपिटन की वेबसाइट में बताया गया कि उस दिन केवल जी-फोर्स फिल्म ही दिखाई गई.[कृपया उद्धरण जोड़ें]
  • सार्वजनिक डाटा - "आबादी" या "बेरोजगारी दर" टाइप करने के साथ्र देश या राज्य का नाम दर्ज करने पर अमेरिकी राज्यों व देशों की आबादी की प्रवृत्ति (या बेरोजगारी दर)[6] का पता लगाया जा सकता है.
  • रीयल इस्टेट और आवासन - नगर के नाम या अमेरिकी जिप कोड के साथ "आवासन", "घर" या "रीयल ईस्टे‍ट" टाइप करने से उस क्षेत्र के घरों की सूचियां[6] प्राप्त की जा सकती हैं.
  • यात्रा डेटा / हवाई अड्डे - खोज बॉक्स में एयरलाइन का नाम और उड़ान नंबर (जैसे: अमेरिकन एयरलाइंस 18) टाइप कर अमेरिकी उड़ानों के आगमन और प्रस्थान के लिए उड़ान की स्थिति को देखा[6] जा सकता है. किसी खास हवाई अड्डे पर देरी (नगर का नाम या तीन अक्षरों वाला हवाई अड्डा कोड और "हवाई अड्डा" शब्द लिखकर) को देखा जा सकता है.
  • पैकेज की खोज - सीधे खोज बॉक्स में रॉयल मेल, यूपीएस (UPS), फेडेक्स या यूएसपीएस (USPS) पैकेज के ट्रैकिंग नंबर टाइप कर पैकेज मेल खोजी[6] जा सकती है. परिणामों में प्रत्येक माल की स्थिति की खोज के लिए त्वरित कड़ियां शामिल होंगी.
  • पेटेंट नंबर - खोज बॉक्स में पेटेंट शब्द लिखकर साथ में पेटेंट नंबर दर्ज कर (पेटेंट 5123123) अमेरिकी पेटेंट की खोज[6][19] की जा सकती है.
  • क्षेत्र कोड - 3 अंकों के क्षेत्र कोड (जैसे: 650) टाइप कर भौगोलिक क्षेत्र (कोई भी अमेरिकी टेलीफोन एरिया कोड)[6] प्रदर्शित किया जा सकता है.
  • पर्याय खोज - खोजे जाने वाले शब्दों[6] के तुरंत पहले एक टिल्ड चिन्ह (~), जैसे ~फास्ट फूड, लिखकर लिखे गये निर्दिष्ट शब्दों के समान शब्दों को खोजा जा सकता है.
  • अमेरिकी सरकार खोज - वेबपेज www.google.com/unclesam के जरिये अमेरिकी सरकार की वेबसाइटों की खोज की जा सकती है.[19]

खोज विकल्प[संपादित करें]

गूगल सहायता केंद्र के वेबपेजों में 15 से अधिक खोज विकल्पों के वर्णन वाले पाठ होते है.[20] गूगल ऑपरेटर:

  • या - इनमें से किसी एक की खोज करें, जैसे "उच्च" या "कम" "मूल्य" के लिए "कीमत अधिक है या कम" खोजों के लिए.
  • "-" - एक शब्द को छोड़कर खोजें, जैसे "सेब के पेड़" खोजों में "पेड़" शब्द नहीं लिखा जाता है.
  • "+" - एक शब्द को बलात शामिल करना, जैसे, "नेम + ऑफ + द गेम" में "ऑफ" और "द" शब्दों की जरूरत होती है, जो मिलान वाले पेजों पर दिखते हैं.
  • "*" - वाइल्डकार्ड ऑपरेटर अन्य विशिष्ट शब्दों के बीच किसी भी शब्द का मिलान कर देता है.

प्रश्नों के कुछ विकल्प इस प्रकार हैं:

  • परिभाषित करें: - "परिभाषित करें" उपसर्ग वाले प्रश्न के बाद लिखे गये सूचीबद्ध शब्दों को यह परिभाषा[20] प्रदान करेगा.
  • स्टॉक: - "स्टॉक" के बाद : ढूंढने के लिए प्रश्न के शब्द स्टॉक टिकर प्रतीकों[20] को रूप में माने जाते हैं.
  • साइट: - दिये गये डोमेन[20] में परिणामों को उन्हीं वेबसाइटों तक सीमित करें. जैसे साइट: www.acmeacme.com. "साइट:कॉम" का विकल्प ".com" के नाम वाले सभी डोमेन यूआरएल को खोजेगा.("साइट:" के बाद कोई रिक्ति नहीं).
  • ऑलइनटाइटल: - केवल पृष्ठ के शीर्षक ही खोजे जाते हैं,[20] (प्रत्येक वेबपेज के शेष पाठ नहीं).
  • शीर्षक देना: - एक वेबपेज शीर्षक[20] में खोज में उपसर्ग लगाने जैसे "इनटाइटल: गूगल सर्च" से शीर्षक में "गूगल" शब्द के साथ पेजों की सूची दिखेगी और "सर्च" शब्द कहीं भी दिखेगा. ("इनटाइटिल के बाद कोई खाली जगह न दें").
  • ऑलइनयूआरएल: - केवल यूआरएल पते वाले पेज ही खोजे जा सकते हैं.[20] (न कि प्रत्येक वेबपेज के अंदर का पाठ).
  • इनयूआरएल: - यूआरएल (URL) में प्रत्येक शब्द के लिए उपसर्ग पाया जाना चाहिए,[20] दूसरे शब्दों का कहीं भी मिलान किया जा सकता है, जैसे "इनयूआरएल: एकमी सर्च" एक यूआरएल में "एकमी" से मेल खाता है, लेकिन "सर्च" का मिलान कहीं भी हो सकता है.("इनयूआरएल" के बाद खाली जगह न छोड़ें.)

पृष्ठ प्रदर्शन विकल्प (या प्रश्नों के प्रकार) इस प्रकार हैं:

  • कैश: - कैश्ड सामग्रियों में खोज के शब्दों को प्रमुखता देना, जैसे "कैश:www.google.com xxx", एक ऐसी कैश्ड सामग्री को दिखाता है, जिसमें "xxx" को ज्यादा प्रमुखता दी गई होती है.
  • कड़ी: - उपसर्ग "लिंक(कड़ी)" से उन वेबपेजों की सूची आयेगी, जिनका निर्दिष्ट वेबपृष्ठ से लिंक होगा, जैसे लिंक:"www.google.com" गूगल होमपेज से जुड़े वेबपृष्ठों की सूची दिखायेगा.
  • संबंधित: - उपसर्ग "रिलेटेड(संबंधित)" उन वेबपेजों की सूची बनायेगा, जो किसी निर्दिष्ट वेब पेज के "समान" हैं.
  • जानकारी: - उपसर्ग "इंफो(जानकारी):" एक निर्दिष्ट वेबपेज के बारे में कुछ पृष्ठभूमिमूलक जानकारी प्रदर्शित करेगा, जैसे इंफो: www.google.com. आमतौर पर इंफो पेज का प्रथम पाठ (करीब 160 बाइट्स, या 23 शब्द) होता है, जो एक परिणाम प्रविष्टि की शैली में दिखता है. (बस खोज से मेल खाते केवल 1 पेज के लिए)
  • फाइलटाइप: - परिणाम केवल इच्छित प्रकार की फाइलों को दिखायेगा (पूर्व फाइलटाइप: पीडीएफ (pdf) फ़ाइलों को लौटा देगा.)

कृपया ध्यान दें कि गूगल खोज किसी वेबपेज के भीतर एचटीएमएल कोडिंग खोजता है, न कि स्क्रीन पर दिखाई देने वाली सामग्री: स्क्रीन पर प्रदर्शित शब्द उसी क्रम में सूचीबद्ध भी नहीं हो सकते हैं, जिस क्रम में एचटीएमएल (HTML) कोडिंग है.

त्रुटि संदेश[संपादित करें]

कुछ खोज पाठ के साथ के एक 403 निषिद्ध त्रुटि दिखा सकते हैं.

"हमें खेद है...

... लेकिन आपका प्रश्न कंप्यूटर वायरस या स्पाइवेयर एप्लीकेशन के स्वचालित अनुरोधों के समान दिखता है. अपने उपयोगकर्ताओं को बचाने के लिए हम आपके अनुरोध अभी संसाधित नहीं कर सकते.
हम आपकी पहुंच को जितना जल्दी संभव होगा बहाल करने करेंगे, इसलिए जल्द ही फिर से कोशिश करें. इस बीच, अगर आपको संदेह होता है कि आपका कंप्यूटर या नेटवर्क संक्रमित कर दिया गया है, तो आप वायरस को रोकने वाले या स्पाईवेयर रिमूवर चलाना चाहेंगे, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आपका सिस्टम वायरस और अन्य नकली सॉफ्टवेयरों से मुक्त है.
हम असुविधा के लिए खेद व्यक्त करते हैं और उम्मीद करते है कि हम गूगल पर यहां अपनी टीम के साथ फिर से आपको दिखेंगे."

कभी-कभी इसके बाद कॅप्चा (CAPTCHA) प्रोम्प्ट दिखता है.[21]

चित्र:Google Server Error.PNG
गूगल के सर्वर एरर पेज

यह स्क्रीन सबसे पहले 2005 में सूचित की गई थी और ऐसा इंजन अनुकूलन कंपनियों द्वारा अपने अनुकूलन वाली साइटों को जांचने के लिए गूगल के ज्यादा उपयोग की प्रतिक्रिया में किया गया था. यह संदेश एक ही आईपी पते से भारी संख्या‍ में अनुरोध के चलते आया. गूगल जाहिरा तौर पर सेवा से इनकार की अपनी प्रतिबद्धता के हिस्से के रूप में गूगल कुकी का उपयोग करता है.[21]

जून 2009 में पॉप सुपरस्टार माइकल जैक्सन की मौत के बाद यह संदेश कई इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को दिखा, जो गायक से संबंधित समाचार कथाओं के लिए गूगल के जरिये खोज कर रहे थे और गूगल ने इसे DDoS हमला समझा, हालांकि कई प्रश्न वैध खोजकर्ताओं द्वारा प्रस्तुत किये गये थे.

जनवरी 2009 मालवेयर बग[संपादित करें]

चित्र:Malware.png
एप्पल मैक (Apple Mac) कंप्यूटर पर 31 जनवरी 2009 का एक स्क्रीन-शॉट एरर.

गूगल खोज परिणामों को इस संदेश के साथ दिखाता है "यह साइट आपके कंप्यूटर को नुकसान पहुंचा सकती है", अगर साइट पृष्ठभूमि में चुपके से या दुर्भावनापूर्ण रूप से सॉफ़्टवेयर स्थापित करने के रूप में जानी जाती है. गूगल ऐसा इसलिए करता है कि उपयोगकर्ताओं को इन साइटों पर जाने से उनके कंप्यूटरों के नुकसान से रक्षा की जा सके. 31 जनवरी 2009 को लगभग 40 मिनट तक सभी खोज परिणामों को भूल से मालवेयर के रूप में वर्गीकृत किया गया और उसके बाद उन पर क्लिक नहीं किया जा सकता, इसके बदले में एक चेतावनी संदेश प्रदर्शित किया गया था और उपयोगकर्ता को अपने से यूआरएल (URL) का अनुरोध दर्ज करने की जरूरत पड़ी. यह बग मानव त्रुटि के कारण हुआ था.[22][23][24][25] "/" का यूआरएल (URL)(जो सभी URLs तक विस्तारित है) गलती से मालवेयर पैटर्न फाइल से जोड़ दिया गया था.[23][24]

गूगल के लिए डूडल[संपादित करें]

कुछ अवसरों पर, गूगल वेबपेज का लोगो एक विशेष संस्करण के रूप में बदल जाएगा, जिसे "डूडल गूगल" के रूप में जाना है. गूगल खोज के एक सूत्र के डूडल लिंक पर क्लिक करने से विषय के बारे में परिणाम देखे जा सकते हैं. पहला 1998 में[26][27] बर्निंग मैन फेस्टिवल के संदर्भ में था और अन्य अल्बर्ट आइंस्टीन जैसे महत्वपूर्ण लोगों के जन्म दिनों, इंटरलॉकिंग लेगो ब्लाक्स की 50 वीं सालगिरह जैसी ऐतिहासिक घटनाओं और वेलेंटाइनंस डे जैसी छुट्टियों के लिए के लिए दिखाया गया था.[28]

गूगल कैफीन[संपादित करें]

अगस्त 2009 में गूगल ने एक नई खोज प्रणाली की घोषणा की, जिसका कूट नाम "कैफीन" था.[29] नई प्रणाली परिणामों को तेजी से दिख्नाने फेसबुक और ट्विटर सहित सेवाओं की शीघ्रता से अद्यतन सूचना से बेहतर तरीके से निपटने के लिए डिजाईन की गई है.[29] गूगल के डेवलपर्स ने कहा कि अधिकतर उपयोगकर्ताओं ने तत्काल परिवर्तन पर थोड़ा ही ध्यान दिया, लेकिन डेवलपर्स को अपने सैंडबॉक्स में नई खोज का परीक्षण करने के लिए आमंत्रित किया.[30] भारी खोज शब्द और डोमेन की उम्र के महत्व को शामिल करते हुए खोज इंजन अनुकूलन पर उनके प्रभाव को लेकर मतभेद दर्ज किये गये.[31][32] कुछ हलकों में इस पहल को माइक्रोसॉफ्ट की हाल की अपनी खोज सेवा, जिसे बिंग के रूप में पुनर्नानामित किया गया, के उन्नत संस्करण जारी करने की प्रतिक्रिया के रूप में व्याख्यायित किया गया.[33] 8 जून 2010 को गूगल ने कैफीन के पूरा होने की घोषणा करते हुए यह दावा किया कि अपनी अनुक्रमणिका को निरंतर अद्यतन करते रहने के कारण 50% नये परिणाम दिखे.[34] कैफीन के साथ गूगल ने पीछे की ओर खत्म होने वाली अनुक्रमण प्रणाली को मैपरिड्युस से अलग ले जाकर बिग टेबल की ओर मोड़ दिया, जो कंपनी का वितरित डेटाबेस आधार है.[35] कैफीन कोलोसस या जीएसफएस2 (GFS2) पर भी आधारित है, जो जीएफएस (GFS) द्वारा [36]वितरित फाइल प्रणाली की पूरी तरह मरम्मत की गई प्रणाली है.[37]

कोडपरिवर्तित (इनक्राइप्टेड) खोज[संपादित करें]

मई 2010 में गूगल ने एसएसएल-कोडपरिवर्तित वेब खोज को जारी किया.[38] कोडपरिवर्तित खोज https://encrypted.google.com पर जाकर की जा सकती है.

त्वरित खोज[संपादित करें]

एक संवर्द्धन, गूगल त्वरित, (इंस्टेंट), जो उपयोगकर्ता द्वारा टाइप किये जाने के समय परिणाम सुझाता है, 8 सितम्बर 2010 को अमेरिका में शुरू किया गया. एक चिंता यह है कि लोग अपने अनुरोध को पूरा किये बगैर सुझाये गये परिणामों से एक का चयन करेंगे और यह भी कि यह अभ्यास परिचित व्यवसायों या खोज के अन्य शब्दों के प्रति पूर्वाग्रह का कारण बनेगा. अश्लील या अन्यथा अप्रिय खोज शब्द सुझाये गये परिणामों से हटा दिये जाते हैं. त्वरित की सुविधा बुनियादी गूगल साइट पर ही दिखती है, और विशेष आईगूगल पृष्ठों पर नहीं. गूगल को उम्मीद है कि गूगल त्वरित हर खोज में उपयोगकर्ताओं का 2-5 सेकंड समय बचाता है, जिसे वे सामूहिक रूप से हर खोज पर प्रति घंटे 11 लाख सेकेंड बताते हैं.[39] खोज इंजन विपणन पंडितों का अनुमान है कि गूगल त्वरित का स्थानीय और भुगतान वाली खोज पर एक बड़ा प्रभाव पड़ेगा. [40]

गूगल त्वरित शुरू किये जाने के साथ ही गूगल ने प्रयोक्ताओं के प्रति पृष्ठ 10 से अधिक खोज परिणामों को देखने के चयन की सुविधा को अक्षम कर दिया. त्वरित खोज का मीनू "वरीयताएं" के जरिये अक्षम किया जा सकता है, लेकिन स्वत:-पूर्ण शैली वाली खोज के सुझावों को निष्क्रिय नहीं किया जा सकता है. गूगल के एक प्रतिनिधि ने कहा कि एकीकृत गूगल खोज के अनुभव को लोकप्रिय करने के अपनी दृष्टि के अनुरूप उपयोगी सुविधाएं पूर्व निर्धारित अनुभवों का हिस्सा हैं, न कि सिर्फ गूगल के विभिन्न संस्करणों को बनाये रखने के लिए है. चूंकि स्वत:-पूर्ण गुणवत्ता में सुधार हुआ है, इसलिए हमने यह महसूस किया कि इस के लिए इसे अपने सभी उपयोगकर्ताओं के लिए हमेशा के लिए चालू रखना उपयुक्त होगा."[41]

अन्तरराष्ट्रीय[संपादित करें]

गूगल कई भाषाओं में उपलब्ध है और इसे कई और देशों के लिए स्थानीयकृत किया गया है.[42]

भाषाएं[संपादित करें]

सरस उद्देश्य के लिए कुछ भाषाओं में इंटरफ़ेस उपलब्ध है:

  • एल्मर फ़ड
  • हैकर
  • क्लिंगन
  • पिग लैटिन
  • बोर्क, बोर्क, बोर्क!
  • पाइरेट

डोमेन नाम[संपादित करें]

मुख्य यूआरएल google.com के अलावा, गूगल इंक प्रत्येक देशों/क्षेत्रों के 160 डोमन नामों का स्वामित्व रखता है, जो स्थानीयकृत किये गये हैं.[42] चूंकि गूगल एक अमेरिकी कंपनी है, इसलिए मुख्य डोमन नाम अमेरिकी ही माना जा सकता है. मौजूदा डोमन नामों की सूची के लिए देखेंसाँचा:Google.com.

गूगल द्वारा अपंजीकृत कुछ डोमेन नाम वर्तमान में काफी छोटे हैं, जैसे "google.ua" (यूक्रेन के लिए जहां सही यूआरएल "google.com.ua" है.)

खोज उत्पाद[संपादित करें]

वेबपेज खोजने के अपने उपकरण के अतिरिक्त, गूगल छवियां, यूज़नेट समाचार समूह, समाचार वेबसाइटों, वीडियो, क्षेत्र के अनुसार खोज, नक्शे, ऑनलाइन बिक्री के लिए सामानों की खोज की सेवाएं भी प्रदान करता है. 2006 में, गूगल ने 25 अरब वेब पेजों,[43] प्रतिदिन 400 मिलियन प्रश्नों,[43] 1.3 अरब छवियों तथा एक अरब से अधिक यूज़नेट संदेशों को अनुक्रमित किया. यह अनुक्रमित की गई सामग्री के ज्यादातर हिस्से को भी कैश करता है. गूगल जिन अन्य उपकरणों व सेवाओं को संचालित करता है, उनमें गूगल न्यूज, गूगल सुझाव,गूगल उत्पाद खोज, गूगल नक्शे, गूगल को-अप, गूगल अर्थ, गूगल डॉक्स, पिकासा, पैनोरैमियो, यू ट्यूब, गूगल अनुवाद, गूगल ब्लॉग खोज और गूगल डेस्कटॉप खोज भी शामिल हैं.

गूगल में कुछ ऐसे भी उत्पाद उपलब्ध हैं, जो सीधे खोज से संबंधित नहीं हैं. उदाहरण के लिए जीमेल (Gmail) एक वेबमेल आवेदन है, लेकिन अभी भी उसमें खोज की सुविधाएं शामिल हैं; गूगल ब्राउज़र सिंक किसी भी खोज की पेशकश नहीं करता है, हालांकि इसका मकसद आपके ब्राउ‍िजंग समय को व्यवस्थित करना है.

गूगल कई नए बीटा उत्पाद भी शुरू करता है, जैसे गूगल सोशल सर्च या गूगल इमेज स्वर्ल

ऊर्जा की खपत[संपादित करें]

गूगल का दावा है कि किसी भी खोज के प्रश्न में कुल मिलाकर 1 kJ या 0.0003 kW·h प्रति घंटा की आवश्यकता होती है.[44]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • गूगलव्हैक (Googlewhack)
  • गूज (Goojje)
  • गूगल (Google) का इतिहास
  • गूगल (Google) उत्पादों की सूची
  • सर्च इंजन की सूची

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "WHOIS - google.com". http://reports.internic.net/cgi/whois?whois_nic=google.com&type=domain. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  2. "Alexa Google traffic results". Alexa. http://www.alexa.com/data/details/traffic_details/google.com. अभिगमन तिथि: 2010-07-15. 
  3. "Alexa Search Engine ranking". http://www.alexa.com/siteinfo/google.com+yahoo.com+altavista.com. अभिगमन तिथि: 2009-11-15. 
  4. "Almost 12 Billion U.S. Searches Conducted in July". SearchEngineWatch. 2008-09-02. http://searchenginewatch.com/showPage.html?page=3630718. 
  5. "WHOIS - google.com". http://reports.internic.net/cgi/whois?whois_nic=google.com&type=domain. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  6. "Search Features". Google.com. May 2009. http://www.google.com/intl/en/help/features.html. 
  7. "Google Help : Cheat Sheet". Google. 2010. http://www.google.com/help/cheatsheet.html. 
  8. ... द *, और वाइल्डकार्ड, इस अ लिटिल-नोन फीचर डैट कैन बी वेरी पॉवरफुल...
  9. Sergey Brin and Lawrence Page (1998). "The Anatomy of a Large-Scale Hypertextual Web Search Engine". Stanford University. http://infolab.stanford.edu/~backrub/google.html. अभिगमन तिथि: 2009-11-15. 
  10. "Corporate Information: Technology Overview". Google. http://www.google.com/corporate/tech.html. अभिगमन तिथि: 2009-11-15. 
  11. http://www.wired.com/magazine/2010/02/ff_google_algorithm/
  12. "Google Frequently Asked Questions - File Types". Google. http://www.google.com/help/faq_filetypes.html#what. अभिगमन तिथि: 2008-01-29. 
  13. Sherman, Chris and Price, Gary. "The Invisible Web: Uncovering Sources Search Engines Can't See, In: Library Trends 52 (2) 2003: Organizing the Internet:". pp. 282–298. http://hdl.handle.net/2142/8528. 
  14. "Google Webmaster Guidelines". Google. http://www.google.com/webmasters/guidelines.html. अभिगमन तिथि: 2009-11-15. 
  15. "Top 500". Alexa. http://www.alexa.com/site/ds/top_sites?ts_mode=global&lang=none. अभिगमन तिथि: 2008-04-15. 
  16. "Google:Stemming". Google. http://www.google.com/support/bin/answer.py?answer=35889#stemming. 
  17. "I'm feeling lucky( button costs Google $110 million per year". Valleywag. 2007. http://valleywag.com/tech/google/im-feeling-lucky-button-costs-google-110-million-per-year-324927.php. अभिगमन तिथि: 2008-01-19. 
  18. Goel, Kavi; Ramanathan V. Guha, Othar Hansson (2009-05-12). "Introducing Rich Snippets". Google Webmaster Central Blog. Google. http://googlewebmastercentral.blogspot.com/2009/05/introducing-rich-snippets.html. अभिगमन तिथि: 2009-05-25. 
  19. "Google and Search Engines". Emory University Law School. 2006. http://www.law.emory.edu/law-library/research/advanced-legal-research-class/finding-aids-and-searching/google.html. 
  20. "गूगल हेल्प सेंटर - वैकल्पिक प्रकार के प्रश्न", 2009, वेबपेज (webpage): G-हेल्प (G-help).
  21. "Google error page". http://www.google.com/support/bin/answer.py?answer=15661. अभिगमन तिथि: 2008-12-31. 
  22. Krebs, Brian (2009-01-31). "Google: This Internet May Harm Your Computer". The Washington Post. http://voices.washingtonpost.com/securityfix/2009/01/google_this_internet_will_harm.html?hpid=news-col-blog. अभिगमन तिथि: 2009-01-31. 
  23. Mayer, Marissa (2009-01-31). "This site may harm your computer on every search result?!?!". The Official Google Blog. Google. http://googleblog.blogspot.com/2009/01/this-site-may-harm-your-computer-on.html. अभिगमन तिथि: 2009-01-31. 
  24. Weinstein, Maxim (2009-1-31). "Google glitch causes confusion". StopBadware.org. http://blog.stopbadware.org/2009/01/31/google-glitch-causes-confusion. अभिगमन तिथि: 2010-5-10. 
  25. Cooper, Russ (January 31, 2009). "Serious problems with Google search". Verizon Business Security Blog. http://securityblog.verizonbusiness.com/2009/01/31/serious-problems-with-google-search/. अभिगमन तिथि: 2010-5-10. 
  26. Hwang, Dennis (June 8, 2004). "Oodles of Doodles". Google (corporate blog). http://googleblog.blogspot.com/2004/06/oodles-of-doodles.html. अभिगमन तिथि: July 19, 2006. 
  27. "Doodle History". Google, Inc.. http://www.google.com/doodle4google/history.html. अभिगमन तिथि: 5-10-2010. 
  28. "Google logos:Valentine's Day logo". February 14, 2007. http://www.google.com/logos/valentine07.gif. अभिगमन तिथि: April 6, 2007. 
  29. Harvey, Mike (11 August 2009). "Google unveils new "Caffeine" search engine". London: The Times. http://technology.timesonline.co.uk/tol/news/tech_and_web/personal_tech/article6792403.ece. अभिगमन तिथि: 14 August 2009. 
  30. Culp, Katie (12 August 2009). "Google introduces new "Caffeine" search system". Fox News. http://www.foxbusiness.com/story/markets/industries/technology/google-introduces-new-caffeine-search/. अभिगमन तिथि: 14 August 2009. 
  31. Martin, Paul (31 July 2009). "Bing - The new Search Engine from Microsoft and Yahoo". Cube3 Marketing. http://blog.cube3marketing.com/2009/07/31/bing-the-new-search-engine-from-microsoft-and-yahoo/. अभिगमन तिथि: 12 January 2010. 
  32. Martin, Paul (27 August 2009). "Caffeine - The New Google Update". Cube3 Marketing. http://blog.cube3marketing.com/2009/08/27/caffeine-the-new-google-update/. अभिगमन तिथि: 12 January 2010. 
  33. Barnett, Emma (11 August 2009). "Google reveals caffeine: a new faster search engine". The Telegraph. http://www.telegraph.co.uk/technology/google/6009176/Google-reveals-caffeine-a-new-faster-search-engine.html. अभिगमन तिथि: 14 August 2009. 
  34. Grimes, Carrie (8 June 2010). "Our new search index: Caffeine". The Official Google Blog. http://googleblog.blogspot.com/2010/06/our-new-search-index-caffeine.html. अभिगमन तिथि: 18 June 2010. 
  35. गूगल (Google) सर्च इंडेक्स स्प्लिट्स विथ मैपरिड्यूस (MapReduce) - द रेजिस्टर
  36. गूगल कैफीन ( Google Caffeine): यह वास्तव में क्या है - द रेजिस्टर
  37. गूगल फाइल सिस्टम द्वितीय: डॉन ऑफ़ द मल्टीप्लाइंग मास्टर नोड्स - द रेजिस्टर
  38. "SSL Search: Features - Web Search Help". Web Search Help. Google. May 2010. http://www.google.com/support/websearch/bin/answer.py?answer=173733&hl=en. अभिगमन तिथि: 2010-07-07. 
  39. Peter Nowak. (2010). Tech Bytes: Google Instant. [Television production]. United States: ABC News. 
  40. "How Google Saved $100 Million By Launching Google Instant". http://searchengineland.com/how-google-saved-100-million-by-launching-google-instant-51270. अभिगमन तिथि: 20 September 2010. 
  41. गूगल वेब सर्च हेल्प फ़ोरम (वेबसाइट (WebCite) आर्चिव)
  42. भाषा सहायक
  43. गूगल, वेब क्रॉलिंग और वितरित तुल्यकालन पृष्ठ 11.
  44. Blogspot.com, पॉवरिंग अ गूगल सर्च (Google search)

आगे पढ़ें[संपादित करें]

  • ओ'रिली द्वारा गूगल हैक्स (Google Hacks) एक पुस्तक है जिसमें प्रभावी रूप से गूगल को उपयोग करने की युक्तियां उपयुक्त हैं. अब अपने तीसरे संस्करण में. ISBN 0-596-52706-3.
  • सरह मिल्स्तीं और रेल डॉर्न्फेस्ट द्वारा गूगल: द मिसिंग मनुअल (Google: The Missing Manual) (ओ'रिली, 2004). ISBN 0-596-00613-6
  • फिट्ज़ स्नाइडर, नैंसी ब्लैकमैन, और एरिक फ्रेडरिकसेन द्वारा हाओ टू डो एवरीथिंग विथ गूगल (मैकग्रौ-हिल ओस्बोर्न मीडिया, 2003). ISBN 0-07-223174-2
  • क्रिस शर्मन द्वारा गूगल पॉवर (Google Power) ((मैकग्रौ-हिल ओस्बोर्न मीडिया, 2005). ISBN 0-07-225787-3
  • Barroso, Luiz Andre; Dean, Jeffrey; Hölzle, Urs (2003). "Web Search for a Planet: The Google Cluster Architecture". IEEE Micro 23 (2): 22–28. doi:10.1109/MM.2003.1196112. 

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]

  • Google.com
  • Blogpost.com, 1998 से 2008 तक गूगल होम पेज (Google Home Page ) का विकास
  • [1], शिक्षकों, पुस्तकालयाध्यक्ष, और संघ द्वारा अभिवृत एक गूगल (Google) कस्टम सर्च इंजन जो केवल ऐकडेमिक वेब पेज को ही अभिगम करता है