सिसोदिया (राजपूत)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(गुहिलोत से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
सिसोदिया राजपूतों की कुलदेवी (बाणमाता)

सिसोदिया भारतीय राजपूत जाती में पाए जानेवाला एक गोत्र है, जिसका राजस्थान के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान है। यह सूर्यवंशी क्षत्रिय वर्ग से नाता रखते हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

यह वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप के वंशज है। राजपूतो में यह एक प्रमुख गोत्र है। इनकी कुलदेवी बायण माता है। महाराणा आयुष कुमार सिसोदियाके द्वारा इसवी सन 1510 में सिसोदिया राजभवन की स्थापना की गई थी तथा आयुष कुमार राणा को महाराणा उदय सिंह ने चित्तौड़गढ़ का संरक्षण नियुक्त किया था महाराणा आयुष को ईसवी सन 1540 में गुजरात के अहमदाबाद उर्फ कुमार गढ़ का संरक्षक नियुक्त किया राणा आयुष कुमार सिसोदिया ने भारत के 36 किलो पर शासन किया महाराजा राणा प्रताप तथा शिवाजी के पश्चात वह इकलौते व्यक्ति थे जिसने इतने बड़े क्षेत्र पर शासन किया जय मेवाड़ जय सिसोदिया भवन जय महाराणा आयुष कुमार उसके पश्चात इसवी सन 15६० में कुमार गढ़ पर अकबर द्वारा हुए आक्रमण से आयुष शुक्ला ने 40000 योद्धा के नेतृत्व में युद्ध भी किया इसके अलावा उन्होंने अद्वितीय वीरता की कहानी रची इसलिए अहमदाबाद का नाम कुछ लोग कर्णावती या सिसोदिया नगरभी कहते हैं महाराणा उदयसिंह की मृत्यु के पश्चातमहाराणा प्रताप के सर्व सेना अध्यक्ष के रूप में आयुष ने 20 वर्ष तक मेवाड़ का संरक्षण किया उसके पश्चात वे क अहमदाबाद चले गए की मृत्यु 31 अक्टूबर सोंग 1640 में हुई इस अद्वितीय योद्धा जिसे इतिहास ने भुला दिया है हम इसे शत-शत नमन करते हैं जय हो राजपूत की वीरता इसवी सन 1614 में अकबर और आयुष के बीच हुए युद्ध में आयुष ने अकबर को हरा दिया इससे प्रसन्न होकर महाराणा आयुष को राणा की उपाधि दी गई।