इन्सेप्शन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
इंसेप्शन
Inception poster.jpg
छविगृह पोस्टर
निर्देशक क्रिस्टोफर नोलन
निर्माता क्रिस्टोफर नोलन
एम्मा थॉमस
लेखक क्रिस्टोफर नोलन
अभिनेता लिओनार्डो दी कैप्रियो
केन वातानाबे
जोसफ गॉर्डन-लेविट
मैरियोन कॉटीलार्ड
ऐलेन पेज
टॉम हार्डी
सिलियन मर्फी
दिलीप राव
टॉम बेरेन्जर
माइकल केन
संगीतकार हैंस ज़िमर
छायाकार वैली फाइस्टर
संपादक ली स्मिथ
स्टूडियो लीजेन्ड्री पिक्चर्स
सिनकॉपी फिल्मस्
वितरक वार्नर ब्रदर्स पिक्चर्स
प्रदर्शन तिथि(याँ) लंदन प्रीमियर:
जुलाई 13, 2010 (2010-07-13)
संयुक्त राज्य अमेरिका:
जुलाई 16, 2010 (2010-07-16)
समय सीमा 148 मिनट[1]
देश संयुक्त राज्य अमेरिका
भाषा अंग्रेज़ी
लागत $160,000,000[2]
कुल कारोबार $88,570,702[3]

इंसेप्शन (हिन्दी अनुवाद: शुरुआत/ अंग्रेजी; Inception) 2010 की विज्ञान-फंतासी प्रधान, थ्रिलर आधारित अमेरिकी फ़िल्म है, जिसमें क्रिस्टोफर नोलन निर्देशक के साथ बतौर निर्माता एवं लेखक भी है। फ़िल्म में कई प्रतिष्ठित अदाकारों की कास्टिंग की गई है जिनमें लियोनार्डो डी कैप्रियो, ऐलेन पेज, जाॅसेफ गाॅर्डन-लेविट, मैरियोन काॅटिलार्ड, केन वातानाबे, टाॅम हार्डी, दिलीप राव, सिलियन मर्फी, टाॅम बेरेन्गेर, और मायकल केन शामिल है। डीकैप्रियो एक ऐसे प्रोफेशनल चोर की भूमिका है जो अपने संगठित गुप्त जासूसी दल के जरिए अपने टार्गेट के अवचेतन मन में सपनों के रास्तों से घुसपैठ करता है। फिर उसे उसके आपराधिक रिकॉर्डों को मिटाने के बदले ऐसा न्यौता मिलता है, एक ऐसी नामुमकिन सी 'शुरुआत': जिसमें उसे एक अन्य टार्गेट के अवचेतन में किसी और के नए ईजाद शुरू करने को प्रेरित करना है।[4]

अपनी फ़िल्म इन्सोमनिया (2002) के काम समाप्त होने पर नोलन ने 80-पृष्ठों का आलेख लिखा जो "सपनों के चोरों" के बारे में था जिसे उन्होंने एक हाॅर्रर फ़िल्म के बाद उन्हीं डरावने सपनों में महसूस किया और इसी सुझे आइडिए को उन्होंने वाॅर्नर ब्रोस को पेश किया। [5] उनको लगा कि उन्हें और बड़े पैमाने के फ़िल्म निर्माण का अनुभव लेना चाहिए, नोलान अपने अन्य परियोजनाओं जैसे बैटमैन बिगेन्स (2005), द प्रेस्टिज (2006), और द डार्क नाईट (2008) का काम खत्म कर इनसे सेवानिवृत्त होकर इस पर जल्द योजना शुरू करना चाहते थे। [6] उन्होंने छह महीने पटकथा पर दुबारा संशोधन किया जब तक वाॅर्नर ब्रोस ने फरवरी 2009 तक उन्हें खरीद न लिया। [7] इंसेप्शन के फ़िल्मांकन के लिए चार महाद्वीपों के छह देशों को चुना गया, जिसकी शुरुआत जून 19, 2009 से टोक्यो, और आखिर में नवंबर 22, 2009 को कनाडा में जाकर पूर्ण हुई।[8]

फ़िल्म का आधिकारिक बजट $160 करोड़ डाॅलर आंका गया था, जिसकी लागत ने वाॅर्नर ब्रदर्स और लिजेण्ड्री पिक्चर्स के मध्य दरार लगाई थी। [9] हाँलाकि नोलन की ख्याति और फ़िल्म द डार्क नाईट की कामयाबी से मिली $100 करोड़ की कमाई ने इसकी अतिरिक्त विज्ञापन खर्चों से काफी सुरक्षित कर दिया।

फ़िल्म 'इंसेप्शन' का प्रिमियर लंदन में जुलाई 8, 2010 को हुआ; और वैश्विक रूप से इसे जुलाई 16, 2010 को परंपरागत और IMAX फाॅर्मेट में रिलीज किया गया। [10][11] बाॅक्स ऑफिस में फ़िल्म ने $800 करोड़ से अधिक का लाभ अर्जित कर अपनी शानदार उपस्थिति दर्ज की और सदी की सर्वाधिक कमाई करनेवाली फ़िल्म के रूप में 45वीं पायदान पर रही। [3] वहीं घरेलू विडियो मार्केटिंग में डीवीडी और ब्लू-रे कैसेटों की बिक्री में इसने $68 करोड़ का कारोबार कर इजाफा किया। इंसेप्शन की ओपनिंग पर समीक्षकों ने फ़िल्म की कहानी, स्कोर एवं प्रतिष्ठित अभिनेताओं की प्रभावशाली मौजूदगी की काफी सराहना की। फ़िल्म को अकादमी पुरस्कारों की ओर से बतौर तकनीकी चार श्रेणीयों से नवाजा गया जिनमें सर्वश्रेष्ठ छायांकन, सर्वश्रेष्ठ ध्वनि संपादन, सर्वश्रेष्ठ साउन्ड मिक्सिंग और सर्वश्रेष्ठ विजुवल इफैक्टस शामिल हैं, और नामांकन के रूप में और चार श्रेणी दर्ज रहें जिनमें सर्वश्रेष्ठ पिक्चर, सर्वश्रेष्ठ ऑरिजिनल स्कोर, सर्वश्रेष्ठ कला निर्देशन और सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा शामिल हैं।

सारांश[संपादित करें]

डाॅमिनिक "डाॅम" काॅब (लियोनार्डो डी कैप्रियो) और आर्थर (जाॅसेफ गाॅर्डन-लेविट) खुद को "एक्सट्रेक्टर" कहते हैं, जिनका एक खुफिया संगठन है जो एक प्रायोगिक सैन्य तकनीक द्वारा अपने 'टार्गेट' के अंतर्मन में सेंध लगाकर और एक-दूसरे की साझा सपनों के अनुभवों के जरिए उनसे जुड़ी जानकारियां बाहर निकालते हैं। उनका हालिया टार्गेट, सायतो (केन वातानाबे) नाम के एक जापानी बिजनेसमैन है। लेकिन सायतो के राज चुराने के दौरान उन्हीं सपनों में काॅब को अपनी मरहूम बीवी मेल (मैरियोन काॅटिलार्ड) की यादों की दखलांदजी से वे नाकाम होते है। लेकिन सायतो के मुताबिक वह महज उनको परख रहा था, ताकि वह किसी और आमुक के अंतर्मन में एक आइडिया "ईजाद" करने लायक मुश्किल काम को अंजाम दे सके। उसका एक बीमार प्रतिस्पर्धी माॅरिश फिश़र (पीट पोस्टलेथवेट) है जो एक ऊर्जा उत्पादन के एकीकृत मालिक है; सायतो चाहता है कि काॅब उस फिश़र और उसके बतौर वारिस बेटे, राॅबर्ट फिश़र (सिलियन मर्फी), के बीच तकरार का फायदा उठाकर उसके पिता की कंपनी बिखेर दे। इसके बदले में, सायतो वायदा करता है वह अपनी ताकत के दम पर काॅब पर लगे हत्या के ईल्जाम को मिटा देगा, ताकि काॅब अपने बच्चों से मिलने वापिस घर जा सके। काॅब वह प्रस्ताव मंजूर करता है और अपनी टीम इकट्ठी करता है, जिनमे से वह: ऐम्स (टाॅम हार्डी), एक शातिर ठग और जालसाज बहरूपिया; युसुफ़ (दिलीप राव), एक केमिस्ट जिसके पास एक बेहद तेज नशीली दवा है जो "सपने के भीतर एक और सपना" देखने की क्षमता बढ़ाता है; एरियाड्ने (ऐलन पेज), एक आर्किटेक्चर की छात्रा जिसे सपनों के दौरान भूलभलैया जैसी रचनाएँ बनाने का जिम्मा मिलता है, जिसके इंतजाम की सिफारिश काॅब के ससुर, प्रोफेसर स्टीफन माइल्स (मायकल केन) करते हैं। सायतो, टीम की कामयाबी तक आश्वस्त रहने के लिए उनसे जुड़ा रहता है। पर जब एरियाड्ने साझे सपनों के साथ काॅब के अंतर्मन में झांकने की कोशिश करती है, तो उसे एहसास होता है कि मेल उसके अंतर्मन में दखलांदजी करनेवाले पर अक्सर हमला कर बाहर कर देती है।

वहीं सिडनी में माॅरिश फिश़र के इंतकाल होने बाद राॅबर्ट फिश़र उन्हें लाॅस एंजिल्स में अंतिम संस्कार कराने के लिए उन्हें दस घंटों की उड़ान के रास्ते ले चलते हैं, काॅब अपनी टीम के साथ इस मौके पर गंभीरता बनाए रखने और फिश़र के साझे सपने में हर मुमकिन योजना की रूपरेखा तैयार कर लेती है। सपनों की तह में लगभग हरेक लेवल में घुसकर वापिस आने के लिए, उन सभी सदस्यो को गहरी नींद से एकसाथ जगाने के लिए लगभग एक ही "झटके" के जरूरत है। योजना के मुताबिक पहले लेवल पर युसुफ़ पुल से कार को गिराता है, दूसरे लेवल में आर्थर एलिवेटर का सहारा लेता है और तीसरे लेवल के आखिर में ऐम्स, विस्फोट के जरिए सबको एकसाथ बाहर निकालता है। लेकिन सपनों की दुनिया में मरने के बावजूद वे उस तेज दवा के असर से जाग नहीं पाएँगे जिनसे उन्होंने अनगिनत लेवल के सपनों को देर तक बनाए रखने का सेवन किया था। यहां मौत का अंजाम से वे "लिम्बो" या लगभग कोमा जैसी स्थिति में फंस जाएंगे, जहां अंतर्मन की असीमित व अनंत खाईयां होगी जिनसे बच निकलना बेहद मुश्किल है।

पहले सपने की तह में, टीम युसुफ़ के सपने के जरिए बरसात भरे लाॅस एंजिल्स में दाखिल होती है। यहां टीम फिश़र को अगवा करने पहुँचती ही है, लेकिन उसकी बचाव प्रणाली में उसके रचित अंगरक्षक वहां पहुँच गोलाबारी कर सायतो को जख्मी कर डालते हैं। सुरक्षित ठिकाने पर ऐम्स फिश़र के ही गाॅडफादर (अभिभावक) अंकल पीटर ब्राउनिंग (टाॅम बेरेन्गेर) का रूप धरकर, राॅबर्ट को उसके अपने पिता के वसियत पर दुबारा गौर करने की सलाह देते हैं। आखिर में टीम युसुफ़ के साथ वैन पर, उन बाॅडीगार्ड्स से बचते हुए भाग निकलती है, इस दरम्यान टीम अब दूसरे लेवल (जिसमें फिश़र भी शामिल है) में दाखिल होने को तैयार हो जाती है।

यहां दूसरे सपने की तह में, आर्थर के बनाए ख्यालाती होटल में, काॅब तब फिश़र को यकीन दिलाता है कि उसके अंकल ब्राउनिंग ने ही अपहरण की साजिश रची है और वह एक अंतर्मन की सुरक्षा विशेषज्ञ होने के नाते यह बात जानता है। काॅब उसे अगले लेवल में जाने के लिए ब्राउनिंग के अंतर्मन में जाने को राजी करता है (जोकि वास्तविकता में वे फिश़र को ही छल कर उसके जरिए दाखिल होते हैं)।

तीसरे तह में वे लोग ऐम्स की रचित बर्फिली पहाड़ियों के बीच बसे दुर्ग पर पहुंचती है। यहां काॅब की टीम टुकड़ों में बंटकर प्रहरियों को हटाकर अंदर घुसने की कोशिश करती है ताकि फिश़र के अंतर्मन तक तालमेल बिठा सके।

युसुफ़, अपने पहले लेवल को अनुसरण करते हुए, गाड़ी ड्राइव करते हुए पुल से गिराता है और जल्द ही पहला झटका शुरू करता है। इससे आर्थर के लेवल पर से गुरुत्व हट जाता है जिसके वजह से ऐम्स के लेवल पर बर्फ सरकने लगती है। ऐम्स, फौरन वैन के पानी से टकराने से पूर्व एक साथ झटके से उबरने की तैयारी में जुट जाता है। लेकिन काॅब के प्रोजेक्शन में मेल तब फिश़र को गोली मार देती है, तथा गंभीर रूप से जख्मी सायतो दम तोड़ते ही, दोनों ही उस अनिश्चित सी दुनिया में गुम हो जाते हैं।[13] इस दरम्यान ऐम्स झटके की तैयारी के दुर्ग में जगह-जगह विस्फोटक लगाता है, काॅब और एरियाड्ने तब फिश़र एवं सायतो ढुंढ़ने के लिए कोमा में जाते हैं। काॅब तब तक एरियाड्ने को उसके व मेल साथ साझे-सपनों के जरिए लिम्बो में जाने बारे में बताता है। जहाँ दोनों ने तकरीबन पचास साल अपनी यादों से दुनिया बनाते हुए वक्त गुजारा था। लेकिन मेल ने वास्तविकता में लौटने से इंकार कर दिया, क्योंकि काॅब ने अनचाहे में उसके मन में यह सोच डाल दी कि उसकी दुनिया सच नहीं है, और यही उसकी शुरुआती सबक ने आकार लिया था। हालाँकि, जब वो नींद से जागी, तो मेल को यही यकीन होने लग गया कि वो वास्तविक दुनिया में नहीं है। अपनी असली दुनिया में "जागने" के लिए, वह खुदखुशी कर लेती है, जिसके लिए वह काॅब को भी साथ मरने की जबरदस्ती करती है। कत्ल के आरोप से बचने के लिए, काॅब अमेरिका से फरार होता है, और बच्चों की देखभाल प्रोफेसर माइल्स के जिम्मे सौंपता है।

इस कूसुर को कबूलने के साथ, काॅब अपने प्रायश्चित में सफल होता है, और अंतर्मन से रची मेल को वह सुकून से विदा करते हुए सायतो को ढुंढ़ने उस अंतिम अंतहीन दुनिया में चला जाता है। एरियाड्ने भी फिश़र को खोज निकालते उसे झटका दिलाकर जगाती है। फिश़र दुबारा उस पहाड़ी दुर्ग में जिंदा होता है, जहाँ के सेफ रूम को पाकर, उसमें मौजूद मरते हुए पिता के जरिए उस आइडिए के लिए प्रेरित करना है: जिसमें उसके पिता उसे अपनी तरह बनने को कहते हैं। उधर काॅब और सायतो के अलावा बाकी सभी सदस्य एक ही वक्त में भिन्न झटकों से वास्तविकता को लौटती है: जैसे एरियाड्ने का बालकनी पर से कुद जाना, ऐम्स के लगाए विस्फोटक जो दुर्ग को तबाह करते है, आर्थर धमाके के जरिए एलिवेटर में मौजूद सोयी हुई टीम को टकराव से जगाता है, और वैन भी तब तक पानी की सतह से टकराता है। काॅब आखिरकार उस अंतरिम दुनिया में उम्रदराज हो चुके सायतो को पाकर, उसके एकरारनामे की याद दिलाता है। दोनों फिर उसी हवाईजहाज में जागते हैं, जहाँ पहले ही बाकी की टीम और राॅबर्ट फिश़र जाग चुके थे। लाॅस एंजिल्स के हवाईअड्डे पर, अमेरिकी अप्रवास जाँच केंद्र में काॅब को निकासी मिलती है और इंतजार करते उसके ससुर उसके बच्चों के पास ले जाते हैं। काॅब मेज पर एक छोटी लट्टूनुमा चीज नचाता है, जो उसने एकल सपने के सत्यापन के लिए रखा था, पर उसे छोड़ अपने परिवार संग गार्डन की ओर बढ़ता है।

भूमिकाएँ[संपादित करें]

  • लियोनार्डो डी कैप्रियो - डाॅमिनिक "डाॅम" काॅब, एक पेशेवर चोर जो गुप्त सूचनाएँ चुराने के अपने बंधक के सपनों में घुसपैठ करता है। डी कैप्रियो फ़िल्म के पहले चयनित अभिनेता के लिए निश्चित थे।[14] नोलन एक अरसे से डी कैप्रियो के साथ काम करना चाहते थे और उन्होंने कई दफा इसपर विचार भी किया, लेकिन 'इंसेप्शन' के पूर्व तक उनके साथ काम करने योग्य फ़िल्में नहीं थी। [15] वहीं हाॅलीवुड रिपोर्टर के अनुसार बतौर इस भूमिका के लिए ब्रेड पिट् और विल स्माइथ को ऑफर किया गया था। [16]
  • जोसेफ गाॅर्डन-लेविट - ऑर्थर, काॅब का पार्टनर जो अभियान से जुड़ी शोध जानकारी और सामग्रियों का बंदोबस्त करता है। गाॅर्डन-लेविट की तुलना काॅब की कलात्मक पूर्ति करने लायक निर्माता से की गई है, "जिसका कहना है, 'ओके, यह तुम्हारा अपना विजिन (कल्पना) होगा; और मैं तुम्हें वह सारे तौर-तरीके सिखाऊंगा जिसे जैसा तुम मनमाफिक बना सको"। [17] इस अभिनेता ने लगभग सभी स्टंट खुद किए सिवाय एक दृश्य के, जिनकी बतौर पूर्वाभ्यास पर कहा "यह बहुत चुनौतीपूर्ण था और इसे हद से हद वास्तविक लगना था"। [18] आर्थर की भूमिका के लिए अभिनेता जेम्स फ़्रैंको ने क्रिस्टोफर नोलान से बात की थी, लेकिन फ़िल्म की तय अवधि के बीच असमानता से यह संयोग न हो सका।
  • एलेन पेज - एरियाड्ने, एक आर्किटेक्ट की स्नातकोत्तर छात्रा जिसे विभिन्न सपनों में जटिल भुलभलैया की रचना के लिए बतौर बहाल किया गया। उनका यह नाम यूनानी दंतकथाओं के किंग मिनाॅस की राजकुमारी एरियाड्ने से प्रेरित बताया गया, जो कथानायक थीसस को एक तलवार और धागानुमा गेंद देती जिससे मिनोटाॅर की भुलभलैया कैद से बाहर निकलने की दिशा प्रदान करती है। नोलान ने पेज को चुनने की वजह उनमें "ताजगी और हाजिरजवाबी के साथ हालिया वर्षों के सयानेपन के सही तालमेल" को बताते है।[19] पेज के मुताबिक उनका किरदार दर्शकों के मुखातिब ही बनाया गया है, जिसमें "वह आइडिए से प्रेरित करने की कला सीखते हुए, उन्हीं दर्शकों को भी इस साझे-सपनों से जानकार कराती है"।[20] हाँलाकि एरियाड्ने की भूमिका के लिए अदाकारा इवान रैचेल वुड निर्देशक नोलान की पहली पसंद थी, लेकिन उन्होंने इसे इंकार कर दिया। वहीं एलेन पेज यह बतौर भूमिका ऑफर कर स्वीकार करने से पूर्व, नोलान ने अन्य अभिनेत्रियों में एमिले ब्लंट, रैचेल मैकएडम्स, टायलर स्वीफ्ट, एमा राॅबर्ट्स, जेस़ी शिरैम और कैरे म्युलिगैन आदि का नाम सुझ चुके थे।
  • टाॅम हार्डी - ऐम्स, काॅब की टीम एक बेहद चालाक चालसाज सहयोगी। दरअसल वह मामले को घुमा-फिराने, जालसाज़ी में महारत होने साथ वह सटीक ढंग से लेकर पहचान बदलने में काफी निपुण है। ऐम्स इन्हीं खूबियों का इस्तेमाल सपनों में किसी दूसरे की पहचान में ढलकर इसी तरह फिश़र को बहका अपने हित साधता है। बकौल हार्डी "अपनी भूमिका की तुलना बुढ़े ग्राहम ग्रीनी जैसे कूटनीतिज्ञ से करते हैं - जो कूछ हद तक तेज-तर्रार, फटीचर और शालीन ढंग के है – [21]
  • केन वातानाबे - मि. सायतो, एक जापानी बिजनेसमैन जो काॅब को इस टीम मिशन के लिए नियुक्त करता है। नोलन ने वातानाबे के लिए विशेष रोल लिख चुके थे, क्योंकि पिछली फ़िल्म "बैटमैन बिगेन्स" के बाद वे दुबारा उनके साथ काम करना चाहते थे।[22] फ़िल्म इंसेप्शन से वातानाबे ने पहली दफा सामयिक रूप से प्राथमिक अंग्रेजी भाषा में संवाद किया है। वातानाबे का प्रयास यही था उनके निभाये किरदार सायतो के व्यक्तित्व भी सपनों के हरेक लेवल के साथ बदलते रहे: "पहले अध्याय तक में मैं अपने किले में था, जिसके घेरान की तरह मैंने अपनी भावनाओं को छिपा रखा था। पहले सपने की तरह यह बहुत जादुई और जोरदार था। और वापिस उसी दूसरे अध्याय में, एक होटल में, मैं खुद को बहुत चालाक और स्मार्ट एवं शालिन तरीके से पेश करता तथा अन्य फ़िल्मानुसार ही अपने किरदार को जरा-जरा सा बदलने को अग्रसर रखता। [23]
  • दिलीप राव - युसुफ़: बकौल राव, युसुफ़ के मुखातिब कहते हैं "यह काफी दिलचस्प किस्म का फर्माकोलाॅजिस्ट (औषधि विशेषज्ञ) का किरदार है, जो काॅब जैसों लोगों की जरूरतें मुहैया कराता है, फिर चाहे वह गैरकाबिल, अवैध या अस्वीकृत ही क्यों न हो"। सह-निर्माता जाॅर्डन गाॅल्डबर्ग ने इस केमिस्ट की भूमिका के बारे में यही कहा "खासतौर पर बमुश्किल होते हुए भी आप नहीं चाहेंगे की यह किसी और आम ड्रग-डीलर की तरह न लगे", और राव को भूमिका लेने की वजह उनके "मजेदार, दिलचस्प और साफतौर पर बेहद स्मार्ट" होना बताया। [24]
  • सिलियन मर्फी - राॅबर्ट माइकल फिश़र, माॅरिश फिश़र की कंपनी के अग्रिम उत्तराधिकारी और काॅब की टीम के टार्गेट। [22] बकौल मर्फी ने फिश़र की तुलना करते हुए कहा "यह काफी बदमिज़ाज बच्चे के बारे में है जिसे अपने पिता की देखभाल की बहुत जरूरत थी, कुदरतन उनके पास हर चीज करने लायक थी, लेकिन गहन तौर पर वह काफी भावहीन भी है"। अभिनेता मर्फी ने इसी प्रकार रुपर्ट मरडाॅच के बेटे के बारे रिसर्च की, " यह तरकीब बस उन लोगों पर थी जिन पर किसी ताकतवर शख्स के साए की एक अमिट छाप पड़ी हो"।[25]
  • टाॅम बेरेन्गेर - पीटर ब्राउनिंग, राॅबर्ट फिश़र के गाॅडफादर और फिश़र कंपनी के एक्ज़ेक्युटिव। [26] बेरेन्गेर ने ब्राउनिंग का किरदार राॅबर्ट के "सेरोगेट फादर (उप-पिता)" के तौर पर कह सकते है, जो उनके कैरेक्टर को "अंकल पीटर" कहकर संबोधित करता है, और जिनकी संवेदनाएं "जो ब्राउनिंग के साथ उसके [राॅबर्ट] पूरे जिंदगी पर छाया रहा और शायद जिसने अपना ज्यादातर वक्त अपने पिता की बजाय उनके साथ गुजारा हो"। [24]
  • मैरियोन काॅटिलार्ड - मेल काॅब, डाॅम काॅब की दिवंगत बीवी। यह मेल का महज वह अभिव्यक्ति है जहाँ काॅब उसकी खुदखुशी पर अपना कूसुर मानता है। वह किसी भी तरह इस प्रछन्न को रोकने में असहाय है, जिससे सपने में सूचनाएं चोरी करना उसके लिए और चुनौतीपूर्ण हो जाता है।[15] नोलन ने मेल के किरदार की तुलना किसी "कात़िल हसीना की खुशबू" की तरह करते है, और वहीं डी कैप्रियो ने काॅटिलार्ड के परफाॅर्मेंस पर सराहना करते हूए कहा "कई पल ऐसे आए जब उन्होंने खुद को काफी मजबूत, कभी खतरनाक, तो कभी उम्मीद से तो कहीं दिल तोड़ने जैसी भावनाओं को उभारती हैं, जिनका उन्होंने अपने ही खिलाफ किरदार की हर मुमकिन संवेदनाओं को उजागर किया"।[27]
  • पीट' पोस्टलेथवेट - माॅरिश फिश़र, राॅबर्ट फिश़र के पिता और कंपनी के मृतप्राय संस्थापक।
  • मायकल केन - प्रोफेसर स्टीफन माइल्स, काॅब के मेंटर और उसके ससुर, [24] एवं एरियाड्ने के काॅलिज प्रोफेसर जो टीम में उसे बतौर बहाल कराते हैं। [28]
  • लुकस हास़ - नैश, काॅब के दल में शामिल एक आर्किटेक्ट जो धोखे से पकड़ाए जाने बाद एरियाड्ने उसकी जगह ले लेती है। [29]
  • टैलुलाह रिली - ऐम्स द्वारा प्रक्षेपित एक साया जिसमें उन्होंने सपने में खुद का रूप छिपाने में इस्तेमाल किया। रिले को यह रोल काफी पसंद आया था, जिनके मुताबिक "मुझे एक बेहद खुबसूरत सी ड्रेस पहनना था, जहां लोगों को पिक अप करते हुए, एलिवेटर पहुँचकर ओझल हो जाना था। अपने वयस्क कैरियर रोल के लिहाज से यह सब ठीक ही रहा। वर्ना मैंनें अब तक 15 वर्षीय किसी किशोर इंग्लिश स्कूली लड़की की ही भूमिका करती रही हूँ।" [30]

पात्र[संपादित करें]

डबिंग के लिए गुणवत्ता लाइसेंस की वजह से दो हिन्दी डबिंग संस्करण जारी किये गये।

चरित्र विश्व मूल अभिनेता भारत हिन्दी डबिंग भारत हिन्दी डबिंग २
डाॅमिनिक "डाॅम" काॅब लिओनार्डो दी कैप्रियो दमनदीप सिंह बग्गन सुमित पाठक
आर्थर जोसफ गॉर्डन-लेविट संकेत म्हात्रे करण त्रिवेदी
मेल काॅब मैरियोन कॉटीलार्ड अमी त्रिवेदी ---
एरियाड्ने ऐलेन पेज राजश्री नाथ ---
ऐम्स टॉम हार्डी --- शानूर मिर्ज़ा
मिस्टर सायतो केन वातानाबे --- चेतन्य अदीब
युसुफ़ दिलीप राव सुमित कौल ---
रॉबर्ट माइकल फिशर, जूनियर सिलियन मर्फी अमर बबरिया ---
पीटर ब्राउनिंग टॉम बेरेन्जर --- ---
माॅरिश फिश़र पेटे पदरेतवैट --- ---
प्रोफेसर स्टीफन माइल्स मायकल केन --- विनोद कुलकर्णी
नैश लुकास हास --- ---
प्रच्छन्न महिला (ऐम्स की ड्रीम) तैलुल्लाह रिले --- ---

हिन्दी डबिंग कलाकार १[संपादित करें]

हिन्दी डबिंग कलाकार २[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]