अंगुत्तरनिकाय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(अंगुत्तर निकाय से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

त्रिपिटक

    विनय पिटक    
   
                                       
सुत्त-
विभंग
खन्धक परि-
वार
               
   
    सुत्त पिटक    
   
                                                      
दीघ
निकाय
मज्झिम
निकाय
संयुत्त
निकाय
                     
   
   
                                                                     
अंगुत्तर
निकाय
खुद्दक
निकाय
                           
   
    अभिधम्म पिटक    
   
                                                           
ध॰सं॰ विभं॰ धा॰क॰
पुग्॰
क॰व॰ यमक पट्ठान
                       
   
         

अंगुत्तर निकाय एक महत्त्वपूर्ण बौद्ध ग्रंथ है। इसके अनुवादक भदंत आनंद कोशल्यायन हैं। इसको वर्तमान समय में महाबोधि सभा, कलकत्ता द्वारा प्रकाशित किया गया है।[1] बौद्ध ग्रन्थ-बौद्धमतावल्बियों ने जिस साहित्य का सृजन किया, उसमें भारतीय इतिहास की जानकारी के लिए प्रचुर सामग्रियाँ निहित हैं। ‘त्रिपिटक’ इनका महान ग्रन्थ है। सुत, विनय तथा अमिधम्म मिलाकर ‘त्रिपिटक’ कहलाते हैं। बौद्ध संघ, मिक्षुओं तथा भिक्षुणियों के लिये आचरणीय नियम विधान विनय पिटक में प्राप्त होते हैं। सुत्त पिटक में बुद्धदेव के धर्मोपदेश हैं।

गौतम निकायों में विभक्त हैं- इसमें से

  • प्रथम दीर्घ निकाय में बुद्ध के जीवन से संबद्ध एवं उनके सम्पर्क में आए व्यक्तियों के विशेष विवरण हैं।
  • दूसरे संयुक्त निकाय में छठी शताब्दी पूर्व के राजनीतिक जीवन पर प्रकाश पड़ता है,
  • तीसरे मझिम निकाय को भगवान बुद्ध को दैविक शक्तियों से युक्त एक विलक्षण व्यक्ति मानता है। और
  • चौथे, अंगुत्तर निकाय में सोलह महानपदों की सूची मिलती हैं।[2]

इसके अतिरिक्त पाँचवें, खुद्दक निकाय लघु ग्रंथों का संग्रह है जो छठी शताब्दी ई. पूर्व से लेकर मौर्य काल तक का इतिहास प्रस्तुत करता है। अमिधम्म पिटक में बौद्ध धर्म के दार्शनिक सिद्धान्त हैं। कुछ अन्य बौद्ध ग्रंथ भी हैं। मिलिंदमन्ह में यूनानी शाशक मिनेण्डर और बौद्ध मिक्षु नागसेन के वार्तालाप का उल्लेख है।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "नेपाल नेशनल लाइब्रेरी" (अंग्रेज़ी में) (पीएचपी). नेपाल सरकार. http://www.nnl.gov.np/bookdetail.php?id=20117. अभिगमन तिथि: 2007. 
  2. "रुहेलखण्ड का संक्षिप्त इतिहास" (एचटीएम). टेक्नालॉजी डेवलेपमेंट फ़ॉर इंडियन लैंगुएजेज़. http://tdil.mit.gov.in/CoilNet/IGNCA/ruh0002.htm. अभिगमन तिथि: 2007. 
  3. "प्राचीन भारत का राजनीतिक और सांस्कृतिक इतिहास" (पीएचपी). भारतीय साहित्य संग्रह. http://www.pustak.org/bs/home.php?bookid=4528. अभिगमन तिथि: 2007. 

[[1]]