उपदेश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

उपदेश का अर्थ है- शिक्षा, सीख, नसीहत, हित की बात का कहना, दीक्षा या गुरुमन्त्र।

शब्द-साधन उपदेश शब्द के विभिन्न, संबंधित अर्थ हैं:

  • "सूचना," "स्पष्टीकरण," "विनिर्देश"
  • "उपदेश," "नुस्खा"
  • "निर्देश," "मार्गदर्शन," "की ओर इशारा करते हुए"
  • "दीक्षा," "दीक्षा मंत्र या सूत्र का संचार"
  • आध्यात्मिक मार्गदर्शन

भारतीय धर्मों में, हिंदू धर्म और बौद्ध धर्म दोनों में, उपदेश गुरु द्वारा प्रदान किया गया आध्यात्मिक निर्देश और उदाहरण है:

गुरु केवल अपने शिष्य को कार्य करने के लिए नहीं कहते; वह उसके साथ रहकर और उसे निर्देशित करके उसकी मदद करता है, वास्तव में अपने दिल के करीब रहता है और शिष्य को वह रास्ता दिखाता है जिसका उसे इस जीवन में अनुसरण करना चाहिए।[1]

इस शब्द का प्रयोग बौद्ध अभिधम्म और अन्य धार्मिक टिप्पणियों के लिए भी किया जा सकता है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उपदेश". अभिगमन तिथि 25 मई 2022.
  2. "उपदेश - बौद्ध धर्म". अभिगमन तिथि 25 मई 2022.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]