यारकन्द ज़िला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चीन के शिंजियांग प्रांत के काश्गर विभाग (पीला रंग) के अन्दर स्थित यारकन्द ज़िला (गुलाबी रंग)
यारकन्द शहर में एक सड़क

यारकन्द ज़िला (उइग़ुर: يەكەن, चीनी: 莎车县, अंग्रेज़ी: Yarkand) चीन के शिंजियांग प्रांत के काश्गर विभाग में स्थित एक ज़िला है। इसका क्षेत्रफल ८,९६९ वर्ग किमी है और सन् २००३ की जनगणना में इसकी आबादी ३,७३,४९२ अनुमानित की गई थी। इसकी राजधानी यारकंद नाम का ही एक ऐतिहासिक शहर है जिसका भारतीय उपमहाद्वीप के साथ गहरा सांस्कृतिक और व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। यारकन्द तारिम द्रोणी और टकलामकान रेगिस्तान के दक्षिणी छोर पर स्थित एक नख़लिस्तान (ओएसिस) क्षेत्र है जो अपना जल कुनलुन पर्वतों से उत्तर की ओर उतरने वाली यारकन्द नदी से प्राप्त करता है। इसके मरूद्यान (ओएसिस) का क्षेत्रफल लगभग ३,२१० वर्ग किमी है लेकिन कभी इस से ज़्यादा हुआ करता था। तीसरी सदी ईस्वी में यहाँ रेगिस्तान के फैलने से यह उपजाऊ इलाक़ा थोड़ा घट गया।

यारकन्द में अधिकतर उइग़ुर लोग बसते हैं। यहाँ कपास, गेंहू, मक्की, अनार, ख़ुबानी, अख़रोट और नाशपाती उगाए जाते हैं। इस ज़िले के ऊँचे इलाक़ों में याक और भेड़ पाले जाते हैं। यहाँ की धरती के नीचे बहुत से मूल्यवान खनिज मौजूद हैं, जैसे की पेट्रोल, प्राकृतिक गैस, सोना, ताम्बा, सीसा और कोयला

भूगोल और मौसम[संपादित करें]

यारकन्द शिंजियांग प्रांत के महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक काश्गर और ख़ोतान शहरों के बीच स्थित है। किसी ज़माने में कश्मीर से व्यापारी लद्दाख़ और काराकोरम दर्रे से होते हुए यहाँ माल लिए हुए आया करते थे।[1][2] आधुनिक युग में चीन का शिंजियांग-तिब्बत राजमार्ग (चीन राजमार्ग २१९) यहाँ से शुरू होकर, अक्साई चिन के रस्ते से होकर तिब्बत के ल्हात्से शहर तक जाता है। यहाँ से एक और ऐतिहासिक रास्ता दक्षिण-पश्चिम की तरफ निकलता है जो ताशकुरगान शहर से होते हुए अफ़्ग़ानिस्तान के वाख़ान गलियारे में दाख़िल होता है और फिर ब्रोग़िल दर्रे से गुज़रते हुए अफ़्ग़ानिस्तान के बदख़्शान क्षेत्र पहुँचता है।

यारकन्द का मौसम शुष्क है और कुल मिलाकर हर वर्ष सिर्फ ५३ मिलीमीटर की बर्फ़-बारिश पड़ती है। जनवरी में औसत तापमान −५.५ °सेंटीग्रेड और जुलाई में २५.४ °सेंटीग्रेड रहता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Moved on! From Kashgar to Kashmir, Pavel Stepanovich Nazároff, G. Allen & Unwin, Ltd., 1935
  2. India and Central Asia: classical to contemporary periods, Braj Bihari Kumar, Astha Bharati, Indian Council for Cultural Relations, Concept Publishing Company, 2007, ISBN 978-81-8069-457-8