भारतीय उपमहाद्वीप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
भारतीय उपमहाद्वीप का भौगोलिक मानचित्र

भारतीय उपमहाद्वीप, एशिया के दक्षिणी भाग में स्थित एक उपमहाद्वीप है। इस उपमहाद्वीप को दक्षिण एशिया भी कहा जाता है भूवैज्ञानिक दृष्टि से भारतीय उपमहाद्वीप का अधिकांश भाग भारतीय प्रस्तर (या भारतीय प्लेट) पर स्थित है, हालांकि इस के कुछ भाग इस प्रस्तर से हटकर यूरेशियाई प्रस्तर पर भी स्थित हैं।

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

'भारतीय उपमहाद्वीप' को कभी-कभी 'हिन्द महाद्वीप' भी कहते हैं। फ़ारसी में इसे 'बर्र-ए-सग़ीर-ए-हिंद' या केवल 'बर्र-ए-सग़ीर' (برصغیر) कहा जाता है - इसमें 'ग़' अक्षर के उच्चारण पर ध्यान दें क्योंकि यह बिना बिंदु वाले 'ग' से थोड़ा अलग है। अंग्रेज़ी में इसे 'इंडियन सबकांटीनेंट' (Indian subcontinent) कहा जाता है।

परिभाषा[संपादित करें]

"भारतीय उपमहाद्वीप" और "दक्षिण एशिया" जैसे पारिभाषिक-शब्द विनिमेयतानुसार प्रयुक्त किए जाते हैं। राजनैतिक संवेदनशीलता के कारण कई बार "भारतीय उपमहाद्वीप" के बजाए "दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप", "भारत-पाक उपमहाद्वीप", "उपमहाद्वीप", या केवल "दक्षिण एशिया" का भी उपयोग किया जाता है।

भूगोल[संपादित करें]

भौतिक भूगोल[संपादित करें]

इस उपमहाद्वीप में आमतौर पर भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश सम्मिलित किए जाते हैं; और नेपाल, भूटान और श्रीलंका को भी प्रायः सम्मिलित किया जाता है और कभी कभार अफ़्गानिस्तान और मालदीव भी सम्मिलित किए जाते हैं। इस क्षेत्र में अक्साई चिन का विवादित क्षेत्र भी है जो ब्रिटिश राज के रियासती राज्य जम्मू और कश्मीर का भाग था, पर वर्तमान में चीन के शिंग्जियांग स्वायत्तशासी प्रान्त का एक भाग है। जब कभी भारतीय उपमहाद्वीप का उपयोग दक्षिण एशिया के सन्दर्भ में किया जाता है तो इसमें कभी-कभी श्रीलंका और मालदीव को सम्मिलित नहीं किया जाता, जबकि नेपाल और तिब्बत को प्रकरणानुसार इसमें सम्मिलित किया या नहीं किया जाता।

मानव भूगोल[संपादित करें]

भौगोलिक रूप से, भारतीय उपमहाद्वीप एक प्रायद्वीपीय क्षेत्र है जो दक्षिण-मध्य एशिया में स्थित है। इस क्षेत्र में सम्मिलित सभी सातों देशों का कुल क्षेत्रफल ४४ लाख वर्ग किमी है, जो एशियाई महाद्वीप का लगभग १०% या विश्व के भूमि क्षेत्रफल का २.४% है। कुल मिलाकर यहां एशिया के ३४% (विश्व के १६.५%) लोग निवास करते हैं और यहां बड़ी संख्या में विभिन्न जनसमूहों के लोग रहते हैं।

भारत का इतिहास[संपादित करें]

भारत के इतिहास के विषय में इतिहासकारों के विभिन्न मत हैं।

यह भी देखें[संपादित करें]