भारतीय जीवन बीमा निगम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
भारतीय जीवन बीमा निगम

भारतीय जीवन बीमा निगम, भारत की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी है और देश की सबसे बड़ी निवेशक कंपनी भी है | यह पूरी तरह से भारत सरकार के स्वामित्व में है | इसकी स्थापना सन् १९५६ में हुई |

इसका मुख्यालय भारत की वित्तीय राजधानी मुंबई में है | भारतीय जीवन बीमा निगम के ८ आंचलिक कार्यालय और १०१ संभागीय कार्यालय भारत के विभिन्न भागों में स्थित हैं | इसके लगभग २०४८ कार्यालय देश के कई शहरों में स्थित हैं और इसके १० लाख से ज्यादा एजेंट भारत भर में फैले हैं |

भारतीय जीवन बीमा निगम, भारत की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी है और देश की सबसे बड़ी निवेशक कंपनी भी है | यह पूरी तरह से भारत सरकार के स्वामित्व में है | इसकी स्थापना सन् १९५६ में हुई |

इसका मुख्यालय भारत की वित्तीय राजधानी मुंबई में है | भारतीय जीवन बीमा निगम के ८ आंचलिक कार्यालय और १०१ संभागीय कार्यालय भारत के विभिन्न भागों में स्थित हैं | इसके लगभग २०४८ कार्यालय देश के कई शहरों में स्थित हैं और इसके १० लाख से ज्यादा एजेंट भारत भर में फैले हैं |

इतिहास[संपादित करें]

ओरिएण्टल जीवन बीमा कंपनी भारत की पहली बीमा कंपनी थी जी सन् १८१८ में कोलकाता में बिपिन दासगुप्ता एवं अन्य लोगों के द्वारा स्थापित की गयी | बॉम्बे म्यूचुअल लाइफ अस्युरंस सोसाइटी, जो १८७० में गठित हुई, देश की पहली बीमा प्रदाता इकाई थी | अन्य बीमा कंपनियां जो स्वतंत्रता के पहले गठित हुईं -

  • भारत बीमा कंपनी - १८९६
  • यूनाइटेड कंपनी - १९०६
  • नेशनल इंडियन - १९०६
  • नेशनल इंश्योरेंस - १९०६
  • कोऑपरेटिव अस्युरंस - १९०६
  • हिंदुस्तान कोऑपरेटिव - १९०७
  • इंडियन मर्केंटाइल
  • जनरल अस्युरंस
  • स्वदेशी लाइफ

राष्ट्रीयकरण[संपादित करें]

भारतीय संसद ने १९ जून १९५६ को भारतीय जीवन बीमा विधेयक पारित किया | जिसके तहत ०१ सितम्बर १९५६ को भारतीय जीवन बीमा निगम अस्तित्व में आया | भारतीय जीवन बीमा व्यापार का राष्ट्रीयकरण औद्योगिक नीति संकल्प १९५६ का परिणाम है |

यह भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]