भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड
प्रकार Government-owned corporation
उद्योग Engineering & Manufacturing
स्थापना 1956[1]
संस्थापक Jawaharlal Nehru
मुख्यालय New Delhi, India
क्षेत्र Worldwide[2]
प्रमुख व्यक्ति B. P. Rao (Chairman & Managing Director
उत्पाद Power generation, Industries, Transportation, Renewable energy, Petroleum industry
राजस्व Green Arrow Up Darker.svg US$ 09.07 billion (2012)[3]
प्रबंधन आधीन परिसंपत्तियां Green Arrow Up Darker.svg US$ 01.33 billion (2012)
कुल संपत्ति Green Arrow Up Darker.svg US$ 02.37 billion (2012)[4]
कर्मचारी 49,390 (2012)[4]
वेबसाइट www.bhel.com


परिचय[संपादित करें]

भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (बीएचइएल या भेल) भारत में सार्वजनिक क्षेत्र की इंजीनियरिंग व विनिर्माण क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी है। बीएचईएल आज भारत में ऊर्जा संबंधी मूलभूत संरचना क्षेत्र में विशालतम इंजीनियरिंग एवं विनिर्माण उद्यम है। बीएचईएल की स्थापना हुए 5० वर्ष से अधिक समय बीत चुके है, जिसने भारत में देशी भारी विद्युत उपस्कर उद्योग को जन्म दिया। यह एक ऐसा सपना था, जो निष्पादन के शानदार ट्रैक रिकॉर्ड के साथ कल्पना से अधिक पूरा हुआ। कम्पनी १९७१-७२ से निरन्तर लाभ अर्जित कर रही है और १९७६-७७ से लाभांश का भुगतान कर रही है।

बीएचईएल ३० प्रमुख उत्पाद समूहों के अंतर्गत १८० से अधिक उत्पादों का विनिर्माण करता है और विद्युत उत्पादन एवं पारेषण, उद्योग, परिवहन, दूरसंचार, नवीकरण योग्य ऊर्जा आदि जैसे भारती अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों की पूर्ति करता है। बीएचईएल के १५ विनिर्माण प्रभागों, पावर सेक्टर के ४ क्षेत्रीय केन्द्रों, १५० से अधिक परियोजना साइटों, ८ सेवा केन्द्रों और १८ क्षेत्रीय कार्यालयों का व्यापक नेटवर्क कम्पनी को अपने ग्राहकों की शीघ्रता से सेवा करने और उन्हें दक्षता के साथ एवं प्रतिस्पर्धात्मक मूल्यों पर उपयुक्त उत्पाद, प्रणालियों और सेवाएं उपलब्ध कराने में समर्थ करता है। इसके उत्पादों की गुणवत्ता का उच्च स्तर और विश्वसनीयता, इसके अपने अनुसंधान और विकास केन्द्रों में विकसित प्रौद्योगिकियों के साथ विश्व की अग्रणी कम्पनियों से सर्वोत्तम प्रौद्योगिकियों में से कुछ को प्राप्त करके और अनुकूल बनाकर अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप डिजाइन, इंजीनियरिंग और विनिर्माण पर बल द्ने के कारण है।

बीएचईएल ने गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली (आईएसओ-९००१), पर्यावरण प्रबंधन प्रणाली (आईएसओ-१४००१) और व्यावसायिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा प्रबंधन प्रणाली (ओएचएसएएस १८००१) के लिए प्रमाणन प्राप्त कर चुका है तथा समग्र गुणवत्ता प्रबंधन के मार्ग पर अग्रसर है।

बीएचईएल ने कैप्टिव और औद्योगिक प्रयोगकर्ताओं के लिए ९०,००० मे.वा.यूटिलिटीज से अधिक विद्युत उत्पादन के लिए उपस्कर स्थापित किए हैं।

  • ४०० के.वी. (एसी एवं डीसी) तक पारेषण और वितरण नेटवर्क में प्रचालन में रहने वाले २,२५,००० एमवीए से अधिक क्षमता के ट्रांसफॉर्मरों और अन्य उपस्करों की आपूर्ति की है।
  • विद्युत परियोजनाओं, पेट्रोरसायनों, शोधकों, स्टील, एलुमीनियम, उर्वरक, सीमेंट संयंत्रों आदि के लिए ड्राइव नियंत्रण प्रणाली के साथ २५,००० से अधिक मोटर स्थापित किए हैं।

अन्तरराष्ट्रीय व्यवसाय[संपादित करें]

बीएचईएल, विश्व के प्रमुख संयंत्र उपस्कर आपूर्तिकर्ताओं में स्थान रखते हुए, भारत से इंजीनियरिंग उत्पादों और सेवाओं के ब‹डे निर्यातकों में से एक है। गत वर्षों में, बीएचईएल ने पश्चिम में अमेरिका से लेकर सुदूरपूर्व में न्यूजीलैंड तक संसार के लगभग ६५ देशों में अपने संदर्भ स्थापित किए हैं। बीएचईएल के निर्यात विस्तार में एकल उत्पादों से लेकर सम्पूर्ण विद्युत स्टेशन, विद्युत संयंत्र हेतु टर्नकी संविदाएं, ईपीसी संविदाएं एचवी/ईएचवी सब स्टेश्न, सुपरिचित प्रौद्योगिकियों के लिए प्रचालन एवं अनुरक्षण सेवाएं, अवशिष्ट काल निर्धारण (आरएलए) अध्ययन और रीट्रोफिटिंग जैसी विपणन बाद की विशिष्ट सेवाएं, मरम्मत एवं पुनरुद्धार तथा विनिर्माताओं और ईपीसी संविदाकारों को आपूर्तियां शामिल हैं।

बीएचईएल ने विश्व की अग्रणी कम्पनियों से विद्युत और औद्योगिक उपस्करों के क्षेत्रों में आधुनिकतम प्रौद्योगिकियों को आत्मसात और अद्यतन किया तथा अपनाया है। बीएचईएल ने टर्नकी परियोजनाओं को स्वयं सफलतापूर्वक पूरा किया है और उसमें विशाल परियोजनाओं के लिए अंतर्राष्ट्रीय कम्पनियों के साथ इंटरफेस और कॉम्प्लिमेंट हेतु अपेक्षित लचीलापन है तथा उसने अन्य विनिर्माताओं एवं मूल उपस्कर विनिर्माताओं (ओईएम्स) के डिजाइनों के अनुरुप अंतर्वर्ती उत्पादों का विनिर्माण और आपूर्ति करके अनुकूलनीयता भी प्रदर्शित की है। विद्युत परियोजनाओं के जीर्णोद्धार एवं काल विस्तार के क्षेत्र में सफलता ने बीएचईएल को ऐसी परिेयोजनाओं के लिए मूल उपस्कर विनिर्माताओं के विश्वसनीय विकल्प के रुप में स्थापित किया है

अनुसंधान एवं विकास[संपादित करें]

प्रतिस्पर्धी बने रहने और ग्राहकों की अपेक्षाओं की पूर्ति हेतु बीएचईएल उत्पादों और संबंधित प्रौद्योगिकियों के लगातार उन्नयन तथा नए उत्पादों के निरंतर विकास पर अत्यधिक बल देता है। बीएचईएल की प्रौद्योगिकी के उन्नयन में वचनबद्धता, फ्यूल सेल्स और सुपर कंडक्टिंग ज्नरेटरों जैसी भविष्य की प्रौद्योगिकियों के विकास में इसके शामिल होने से प्रदर्शित होती है। बीएचईएल का अनुसंधान एवं विकास में निवेश, भारत में कॉर्पोरेट सेक्टर के विशालतम निवेशों में है। गत पाँच वर्षों के दौरान घर्लू स्तर पर विकसित उत्पादों का २००५ - ०६ के राजस्व में लगभग ७% का योगदान है।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "India Today". Indiatoday.intoday.in. 2009-10-08. http://www.indiatoday.intoday.in/site/Story/65466/Cover%20Story/BHEL:+Heavy+Duty.html. अभिगमन तिथि: 2010-12-22. [मृत कड़ियाँ]
  2. "For Website" (PDF). http://www.bhel.com/images/pdf/annual_report_2008-09.pdf. अभिगमन तिथि: 2010-12-22. 
  3. "Business Standard". Business Standard. http://www.business-standard.com/india/news/bhel-disinvestment-puthold/470052/. अभिगमन तिथि: 2012-04-04. 
  4. "bhel.com". bhel.com. http://www.bhel.com/financial_information/bhelglance.php. अभिगमन तिथि: 2010-12-22. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]