सदस्य वार्ता:मनोज उपाध्याय मतिहीन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्वागत! Crystal Clear app ksmiletris.png नमस्कार मनोज उपाध्याय मतिहीन जी! आपका हिन्दी विकिपीडिया में स्वागत है।

-- नया सदस्य सन्देश (वार्ता) 09:08, 30 जुलाई 2018 (UTC)[उत्तर दें]

भाषा की महत्ता...

भाषा नही होती तो संपूर्ण विश्व गूंगा बन जाता व संसार की समस्त संचार व्यवस्था ठप्प हो जाती! 
             मनोज उपाध्याय मतिहीन

भाषा...[संपादित करें]

भाषा की आवशयकता,महत्ता और विकास

भाषा की आवश्कता ठीक उसी प्रकार है जिस प्रकार जीवन के लिए श्वांसों की है!भाषा की अनुपस्थिति में मानव मन की भावनाएँ कभी व्यक्त नही हो पाती !और वह अंदर ही घुंट के रह जाती !इस लिए भाषा चाहे ध्वनि हो संकेत हो या किसी भी प्रकार की हो उसकी आवश्कता शाश्वत है!मानवीय भावनाओं व संवेदनाओं की स्पषटता के दृष्टिकोण से यह अत्यंत ही महत्वपूर्ण है!मानव जीवन के क्रमिक विकास के साथ साथ इसका भी विकास हुआ है ,और आगे भी होता रहेगा !

                            मनोज उपाध्याय मतिहीन...
                   मनोज उपाध्याय मतिहीन (वार्ता) 19:38, 7 अगस्त 2018 (UTC)[उत्तर दें]

सदस्य:मनोज उपाध्याय मतिहीन पृष्ठ को शीघ्र हटाने का नामांकन[संपादित करें]

नमस्कार, आपके द्वारा बनाए पृष्ठ सदस्य:मनोज उपाध्याय मतिहीन को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के मापदंड स3 के अंतर्गत शीघ्र हटाने के लिये नामांकित किया गया है।

स3 • वेब होस्ट के रूप में विकिपीडिया का स्पष्ट दुरुपयोग

सदस्य स्थान में पृष्ठ ऐसे लेखन, जानकारी, चर्चा, और/या गतिविधियों से मिलकर बना है जिसका विकिपीडिया के लक्ष्यों से बारीकी से संबंध नहीं, जहाँ स्वामी ने सदस्य स्थान के बाहर बहुत कम या कोई संपादन नहीं किया है। कृपया ध्यान दें विकिपीडिया नि:शुल्क वेब होस्ट या वेबसाइट नहीं है।

यदि यह पृष्ठ अभी हटाया नहीं गया है तो आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। यदि आपको लगता है कि यह पृष्ठ इस मापदंड के अंतर्गत नहीं आता है तो आप पृष्ठ पर जाकर नामांकन टैग पर दिये हुए बटन पर क्लिक कर के इस नामांकन के विरोध का कारण बता सकते हैं। कृपया ध्यान रखें कि शीघ्र हटाने के नामांकन के पश्चात यदि पृष्ठ नीति अनुसार शीघ्र हटाने योग्य पाया जाता है तो उसे कभी भी हटाया जा सकता है।

यदि यह पृष्ठ हटा दिया गया है, तो आप चौपाल पर इस पृष्ठ को अपने सदस्य उप-पृष्ठ में डलवाने, अथवा इसकी सामग्री ई-मेल द्वारा प्राप्त करने हेतु अनुरोध कर सकते हैं।हिंदुस्थान वासी वार्ता 13:55, 15 अगस्त 2018 (UTC)[उत्तर दें]

तुम भांड मे जाओ,विद्वान जिस क्षेत्र मे महारत रखता है उसे लोगों को परोसता है, तुम्हारे जैसे चोरी करके दूसरे के रचित लिखित तथ्यो को नही लिखते... तुम्हारे जैसे ग्यानी के साथ मुझे स्वयं नही जुड़ना ,पहले जानता तो पहले ही नही जुड़ता.तुम इतिहास भूगोल से चोरी करी करो...

चेतावनी[संपादित करें]

विकिपीडिया कोई कवि बनने या कविता लिखने के लिये नहीं है। यहाँ हम तथ्यपरक ज्ञानकोश बना रहे हैं। आपके सम्पादन इसके विपरीत प्रतीत होते हैं। कृपया रुकिये और विकिपीडिया के बारे में जाने। ऐसे ही आगे बढ़ते रहे तो आपको प्रतिबंधित भी किया जा सकता है।--हिंदुस्थान वासी वार्ता 19:23, 16 अगस्त 2018 (UTC) जानकारी का प्रकार निश्चित करके क्यों रखे हो, जानकारी तो जानकारी है चाहे पद्य हो या गद्य हो.. जो समझ मे आए करो, मै दुबारा तुम्हारा यह पेज नही खोलने वाला हूँ, समझ गए न!!!?[उत्तर दें]

कवि बनना है[संपादित करें]

मैने अटल जी को श्रद्धान्जलि स्वरूप एक कविता लिखी तो सोचा सांझा कर दूं.नही तो यहां सूनने वालों का आकाल नही है, बहुत फैन है... कवि बनना नही है, मै कवि हूँ, तुममे इतनी विद्वता नही कि तुम किसी को कवि बना सको, आत्मा के सौंदर्य का शब्द रूप है काव्य, मानव होना भाग्य है,कवि होना सौभाग्य !अब समझा कि इसे भी वीकीपीडिया मे खोजेगा...!? मनोज उपाध्याय मतिहीन (वार्ता) 19:56, 17 अगस्त 2018 (UTC)[उत्तर दें]