संस्कृत भाषा में रचित बौद्ध ग्रन्थ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बौद्ध धर्म के धर्मग्रन्थ केवल पालि में ही नहीं हैं बल्कि बहुत बड़ी संख्या में संस्कृत में भी हैं। कुछ ग्रन्थ पालि और संस्कृत के मिश्रित भाषा में भी रचे गये हैं। बुद्धवचनों के अलावा बौद्ध विद्वानों ने दर्शन, न्याय (तर्कशास्त्र), आदि के ग्रन्थ संस्कृत में लिखे हैं। बहुत से ग्रन्थ काल के गाल में समा गये किन्तु उसके बावजूद संस्कृत में रचित बौद्ध गर्न्थ विपुल मात्रा में मिलते हैं।

संस्कृत में रचित कुछ प्रमुख बौद्धग्रन्थ[संपादित करें]

प्रज्ञापारमिता सूत्र
  • शतसाहस्रिका - 100000 पंक्तियाँ
  • Pañcaviṃśatisāhasrikā - 25000 lines
  • Aṣṭadaśasāhasrikā - 18000 lines (fragments)
  • Daśasāhasrikā - 10,000 (fragments)
  • Aṣtasahasrika - 8000 lines
  • Adhyardhasāhasrikā - 2500 lines
  • Ratnagunasañcayagāthā
  • Advayaśatikā
  • Suvikrāntivikrāmiparipr̥cchā
  • Pañcaśatikā - 500 lines
  • Vajracchedikā Prajñāpāramitā Sūtra-300 lines
  • Prajñāpāramitā Hṛdaya Sūtra
अवतांशक सूत्र
महारत्नकूट सूत्र
अन्य महायान सूत्र
विनय
अभिधर्म
  • Arthaviniscaya Sutra
  • Abhidharma-kosa-bhasya of Vasubandhu
  • Abhidharma-samuccaya of Asanga
  • Abhidharma-samuccaya-bhasya
  • Jnanaprasthan shastra - Arya Katyayaniputra (fragmentary)
  • Abhidharmamrita-Ghosaka
  • Satyasiddhisastra of Haribhadra
  • Prajnaptipada - Maudgalyayana / Maha Katyayana
  • Sputarthabhidharmakosavyakhya of Yasomitra
धरणी - नेपाल से प्राप्त अनेक ग्रन्थ
  • अपरिमितायुर्धरणी
अवदान
  • Avadanasataka (100 stories)
  • Kalpadrumavadanamala (26 stories)
  • Asokavadanamala
  • Vicitrakarnika Avadanamala (32 stories)
  • Divyavadana (38 stories)
  • Vrata Avadana (3 stories)
  • Bhadrakalpa Avadana (34 stories)
  • Mahavastu Avadana
  • Dvavimsatya Avadana (22 stories)
  • Sugata Avadana
  • Ratnamala Avadana (12 stories)
  • Avadanakalpalata (108 stories)
  • Bodhisattvavadana
  • Uposadhavadana
  • Suchandravadana
  • Lalitavistara Sūtra
  • Kumaralata's Kalpanamanditika (fragmentary, prose and verse)
जातक
  • आर्यशूर द्वारा रचित जातकमाला
  • हरिभट्ट द्वारा रचित जातकमाला
स्तोत्र
  • प्रज्ञापारमितास्तोत्र - मान्यता है कि इसकी रचना राहुल भद्र ने की थी।
  • धर्मधातुस्तव - नागार्जुन द्वारा रचित
  • मातृचेत द्वारा रचित शतपंचाशिका तथा चतुःशतक
  • आर्यदेव द्वारा रचित चतुःशतक
शास्त्र
तन्त्र
अन्य (practice manuals, philosophical treatises, etc.)
महाकाव्य
संस्कृत नाटक

इन्हें भी देखें[संपादित करें]