विकिपीडिया:वर्तनी परियोजना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(शुद्ध-अशुद्ध शब्दकोश से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी लेखन में आम तौर पर कई गलतियाँ देखी जा सकती हैं। इनमें से कई गलतियाँ तो इतनी प्रचलित हो जाती हैं कि बहुधा भूलवश उन्हें सही समझ लिया जाता है। इस लेख में इस प्रकार के शब्दों की सूची दी गयी है जिनका उपयोग विकिपीडिया पर गलत वर्तनियों के सुधार, वर्तनी जाँचक (स्पैल चैकर) आदि बनाने में किया जा सकता है।

संदेहास्पद प्रयोगों के लिये विकिपीडिया:विवादास्पद वर्तनियाँ तथा व्याकरण की सामान्य भूलों के लिए विकिपीडिया:हिन्दी में सामान्य गलतियाँ देखें।

आम प्रचलित अशुद्ध वर्तनियाँ

हिन्दी में बहुत से शब्द हैं जिनकी वर्तनी आम तौर पर गलत लिखी जाती है। ये वर्तनियाँ प्रिण्ट मीडिया में मौजूद होने से आम आदमी इन्हें ही सही समझने लगता है।

अशुद्ध शुद्ध
अप्रसंगिक अप्रासंगिक
अनाधिकार अनधिकार
अनेकों अनेक
अन्तरराष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय [1]
अन्तरजाल अन्तर्जाल [1]
उज्जवल उज्ज्वल
चिन्ह चिह्न
अहिल्या अहल्या [2]
पूज्यनीय पूजनीय [3]
पूज्यास्पद पूजास्पद [3]
पुरुस्कार पुरस्कार [4]
सप्ताहिक साप्ताहिक
अतिश्योक्ति अतिशयोक्ति
आर्शीवाद आशीर्वाद
मैंनें मैंने
रूपया रुपया
रुप रूप
क्रपा कृपा
विरहणी विरहिणी
शुश्रुषा शुश्रूषा
सूर्पनखा शूर्पनखा
सम्राज्य साम्राज्य
सहस्त्र सहस्र (हजार)
शारिरिक शारीरिक
देहिक दैहिक
अध्यात्मिक आध्यात्मिक
वृष्टी वृष्टि
निरपराधी निरपराध
प्रमाणिक प्रामाणिक
माधुर्यता माधुर्य, मधुरता
राजनैतिक राजनीतिक
व्यवहरित व्यवहृत
वैधव्यता वैधव्य
षष्ठम षष्ठ
सौन्दर्यता सुन्दरता
केन्द्रिय केन्द्रीय
सौजन्यता सौजन्य
अन्तर्ध्यान अन्तर्धान [5]
उपलक्ष उपलक्ष्य
घनिष्ट घनिष्ठ
अत्याधिक अत्यधिक
अगामी आगामी
आद्र आर्द्र
वाल्मीकी वाल्मीकि
बिमार बीमार
अध्यन अध्ययन
मैथली मैथिली
पुन्य पुण्य
संसारिक सांसारिक
अन्ताक्षरी अन्त्याक्षरी [6]
परिक्षा परीक्षा
प्रोद्योगिकी प्रोद्यौगिकी [7]
भगीरथी भागीरथी
राज्यमहल राजमहल
रावन रावण
पहूँचना पहुँचना
महत्वपूर्ण महत्त्वपूर्ण
हिन्दु हिन्दू
उपरोक्त उपर्युक्त [8]
कालीदास कालिदास
पत्नि पत्नी
उन्नती उन्नति
परिस्थिती परिस्थिति
प्रसंशा प्रशंसा
ब्रम्ह ब्रह्म
भैय्या भैया
परिक्षा परीक्षा
प्रदर्शिनी प्रदर्शनी
भाष्कर भास्कर [9]
सुर्य सूर्य
गोपिनी गोपी
भुजंगिनी भुजंगी *
अनाथिनी अनाथा
सुलोचनी सुलोचना
सुस्वागत स्वागत [10]
निरपराधी निरपराध
विहंगिनी विहंगी *
शताब्दि शताब्दी
अक्षोहिणी अक्षौहिणी
निर्दोषी निर्दोष
निर्दयी निर्दय
निर्गुणी निर्गुण
आंख आँख
सन्यासी संन्यासी
श्रीमति श्रीमती
कृप्या कृपया
इंजनियरिंग, इंजिनीयरंग इंजीनियरिंग (अभियान्त्रिकी)
बढाकर बढ़ाकर
ब्लाग, ब्लोग ब्लॉग
बाक्स बॉक्स
पन्डित पण्डित
विन्डो विण्डो
विन्डोज़ विण्डोज़
फॉन्ट, फोन्ट, फौन्ट फॉण्ट
कल्ब क्लब
दवाईयाँ दवाइयाँ
रोड़ रोड
मोबाईल मोबाइल
हस्पताल अस्पताल
आईना आइना
आईफोन आइफोन
आईपैड आइपैड
विकीपीडिया, विकीपीडीया, विकिपिडिया, विकिपीडीया विकिपीडिया
गल्ती गलती
ढ़ाबा ढाबा
कृप्या कृपया
श्रृंखला शृंखला [11]
श्रृंगार शृंगार
ग्यान ज्ञान [12]
स्त्रोत स्रोत (Source)
स्त्रोत स्तोत्र (स्तुति)
आफ ऑफ
कोलेज कॉलेज
लिनेक्स, लाइनेक्स लिनक्स

* अनिश्चित, कृपया उपयुक्त सन्दर्भ जोड़ें।

टाइपिंग की अशुद्धियाँ (टाइपो)

ये वे अशुद्धियाँ हैं जो आमतौर कम्प्यूटर अथवा अन्य कम्प्यूटिंग डिवाइसों पर टाइपिंग के दौरान होती हैं। अंग्रेजी में इस प्रकार की अशुद्धियों को टाइपो कहा जाता है। कई बार तो इन पर टाइपकर्ता का ध्यान नहीं जाता, कई बार ध्यान जाने पर भी आलस्यवश वह नजरअन्दाज कर देता है। एक अन्य कारण यह भी है कि कई बार टाइपकर्ता को प्रयोग किये जा रहे टाइपिंग औजार द्वारा वह वर्ण या चिह्न टाइप करने का तरीका पता नहीं होता। ऐसा सुविधा के चक्कर में, किसी चिह्न को टाइप करने का सही तरीका न जानने के कारण अथवा चिह्न विशेष को टाइप करने की सुलभता उपलब्ध न होने के कारण होता है।

अशुद्ध शुद्ध
शिर्षक शीर्षक
भि भी
पुरे पूरे
सुरक्षीत सुरक्षित
स्मसान श्मशान
सन्मान सम्मान
स्वास्थ स्वास्थ्य
प्राप्ती प्राप्ति
तृप्ती तृप्ति
शक्ती शक्ति
अतिथी अतिथि
मिस्लिम मुस्लिम
पुर्व पूर्व
काफि काफी
लागु लागू
टुल्स टूल्स (वैसे हिन्दी व्याकरण के अनुसार बहुवचन हेतु भी टूल ही होगा)
. (फुलस्टॉप) (पूर्णविराम) [13]
| (पाइप साइन) (पूर्णविराम)
।। (पूर्णविराम दो बार) (दीर्घ विराम) [14]
. (फुलस्टॉप) (लाघव चिह्न) - देवनागरी संक्षिप्ति चिह्न[15]
 : (कॉलन) (विसर्ग) [16]

विविध वर्तनियाँ

पारम्परिक वर्तनी आधुनिक वर्तनी
शब्दकोष शब्दकोश[17]
अनूदित अनुवादित[18]

पञ्माक्षर की वर्तनियाँ

आधुनिक हिन्दी में व्य़ञ्जन सन्धि में पञ्चम वर्ण से बनने वाले संयुक्ताक्षर वाली वर्तनियों के स्थान पर अनुस्वार के प्रयोग को भी सरलता हेतु स्वीकार्य माना गया।

आधुनिक सरल वर्तनी शुद्ध पारम्परिक वर्तनी
पंडित पण्डित
गंगा गङ्गा
अंक अङ्क
मंगल मङ्गल
संजय सञ्जय
चंचल चञ्चल
कुंजी कुञ्जी
विण्डोज़ विण्डोज़
मंदिर मन्दिर
परंपरा परम्परा

हलान्त शब्द

पारम्परिक वर्तनी आधुनिक वर्तनी
एवम् एवं
भगवान् भगवान
महान् महान
वाक् वाक

नुक्ते वाली वर्तनियाँ

सामान्य वर्तनी नुक्ते युक्त वर्तनी
खान ख़ान

तत्सम-तद्भव वर्तनियाँ

तत्सम वर्तनी तद्भव वर्तनी
श्राप शाप

सन्दर्भ

  1. यहाँ पर "फर्क" वाला "अन्तर" नहीं बल्कि "अन्तर्" नामक अव्यय है जिससे "रकारस्योर्ध्वगमनम्" के नियम से र् ऊपर चला गया है।
  2. वाल्मीकि रामायण के अनुसार गौतम ऋषि की पत्नी का नाम "अहल्या" था।
  3. "पूज्य" का अर्थ स्वयं ही "पूजा करने योग्य" है, अतः "पूज्य" तथा "पूजनीय" एक ही अर्थ हुआ। इसलिये "पूज्य" के आगे "नीय" या "स्पद" लगाने में दोहराव का दोष है।
  4. पुरः करोति इति पुरस्कार।
  5. अन्तर्धान में "धृ" (धारण करने) धातु करने का भाव है, "ध्यान" का नहीं।
  6. अन्त्याक्षरी "अन्त्य" शब्द से बना है जिसका का अर्थ है "अन्त में"।
  7. प्रोद्यौगिकी = प्र + उद्यौगिकी
  8. उपरि + उक्त = उपर्युक्त
  9. भा दीप्तिम् प्रकाशम् करोतीति भास्करः
  10. स्वागत = सु + आगत, इसलिये स्वागत से पहले "सु" उपसर्ग लगाने से दोहराव का दोष है।
  11. देवनागरी “श” का रहस्य
  12. देवनागरी संयुक्ताक्षर "ज्ञ" का रहस्य
  13. विकिपीडिया:हिन्दी में सामान्य गलतियाँ#टाइपिंग की गलतियाँ#फुलस्टॉप तथा पूर्णविराम की गलती
  14. विकिपीडिया:हिन्दी में सामान्य गलतियाँ#टाइपिंग की गलतियाँ#पूर्णविराम तथा डबल डण्डे की गलती
  15. विकिपीडिया:हिन्दी में सामान्य गलतियाँ#टाइपिंग की गलतियाँ#फुलस्टॉप तथा लाघव चिह्न की गलती
  16. विकिपीडिया:हिन्दी में सामान्य गलतियाँ#टाइपिंग की गलतियाँ#कॉलन तथा विसर्ग की गलती
  17. अद्भुत सुगमतम शब्दकोष
  18. डॉ॰ हरदेव बाहरी के शब्दकोष में अंग्रेज़ी-हिन्दी शब्दकोष translated के दोनों ही अर्थ हैं: अनुवादित एवं अनूदित। बाहरी, डॉ॰ हरदेव (१९९६), अंग्रेज़ी-हिन्दी शब्दकोश, प्रथम (ग्यारहवाँ ed.), कश्मीरी गेट, नई दिल्ली: राजपाल ऍण्ड संस  Check date values in: |date= (help)

इन्हें भी देखें