वी॰ एस॰ रमादेवी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
वी एस रमादेवी

पद बहाल
26 नवम्बर 1990 – 12 दिसम्बर 1990
पूर्वा धिकारी आर वी एस पेरी सास्त्री
उत्तरा धिकारी टी एन शेषन

जन्म १५ जनवरी १९३४
आन्ध्र प्रदेश, भारत
मृत्यु 17 अप्रैल 2013(2013-04-17) (उम्र 79)[1]
बंगलौर, कर्नाटक, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
व्यवसाय सिविल सेवक

वी॰ एस॰ रमादेवी (जन्म 15 जनवरी 1934 – 17 अप्रैल 2013) एमए, एलएलएम, २६ नवम्बर १९९० से ११ दिसम्बर १९९० तक भारत की मुख्य चुनाव आयुक्त रहीं। वो प्रथम महिला थी जिन्होंने भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त का पदभार सम्भाला। उनके बाद टी एन शेषन मुख्य चुनाव आयुक्त बने।

करियर[संपादित करें]

रमादेवी का जन्म १५ जनवरी १९३४ (जो पोंगल का दिन था) को भारतीय राज्य आन्ध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी जिले के चेब्रोलु में हुआ। उन्होंने एलूरू से शिक्षा प्राप्त की। एमए और एलएलबी करने के बाद उन्होंने आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में अपने आप को वकील के रूप में पंजीकृत करवाया। वो २६ जुलाई १९९७ से १ दिसम्बर १९९९ तक हिमाचल प्रदेश की राज्यपाल[2] रही और २ दिसम्बर १९९९ से २० अगस्त २००२ तक कर्नाटक की राज्यपाल रहीं।

17 अप्रैल 2013 को उनका एचएसाअर ले-आउट बंगलौर स्थित अपने निवास पर निधन हो गया।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Former Governor Ramadevi passes away" [पूर्व राज्यपाल रमादेवी चल बसी] (अंग्रेज़ी में). डेक्कन हेराल्ड डॉट कॉँम. 17 अप्रैल 2013. मूल से 27 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 सितम्बर 2013.
  2. "Past Governors in Raj Bhavan, Himachal Pradesh". मूल से 2 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 सितंबर 2013.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]