रूप - मर्द का नया स्वरूप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रूप - मर्द का नया स्वरूप एक भारतीय हिन्दी धारावाहिक है, जिसका प्रसारण कलर्स में 28 मई 2018 से होने लगा है। इसका निर्माण रश्मि शर्मा टेलीफिल्म्स लिमिटेड के रश्मि शर्मा ने किया है।

कहानी[संपादित करें]

इस कहानी की शुरुआत एक आठ साल के बच्चे, रूप से शुरू होती है। रूप के परिवार में उसके पिता शमशेर (यश टोंक), उसकी माँ कमला (मिताली नाग) और उसकी तीन बड़ी बहने, हिमानी (निक्की शर्मा), जिगना (अनन्या अगरवाल) और किंजल (तशीन शाह) हैं। रूप के पिता, शमशेर महिलाओं को और अधिक अधिकार देने के खिलाफ होते हैं।

शमशेर को रूप या महिलाओं या लकड़ियों के साथ रहना बिलकुल पसंद नहीं होता है। इनमें उसकी माँ और तीनों बहने भी शामिल हैं। शमशेर को रूप का पलक के साथ दोस्ती रखना भी पसंद नहीं आता है, लेकिन वो इस बारे में रूप से कुछ नहीं कहता, क्योंकि वो उसके दोस्त जीतू की बेटी है।

एक साइकल रेस प्रतियोगिता में रणवीर धोके से जीतने की कोशिश करता है, लेकिन रूप जीत जाता है। ये हार रणवीर के मन में जलन के रूप पैदा हो जाती है। कहानी में बड़ा बदलाव तब आता है, जब शमशेर अपने बेटे को परिवार में रहने वाली महिलाओं से भी दूर करने का निर्णय लेता है और रूप को मिलिटरी स्कूल में भेज देता है।

दस साल बाद

रूप (शशांक व्यास), किंजल (कृतिका शर्मा), पलक (चाँदनी भगवनानी) और जिगना (शुभांगी सिंह), सभी बड़े हो जाते हैं। हिमानी और जिगना की थोड़े समय पहले शादी हो चुकी होती है। घर में बस रूप की माँ कमला और उसकी बहन किंजल ही रहते हैं। 15 सालों बाद रूप वापस अपने घर आता है।

कलाकार[संपादित करें]

  • शशांक व्यास - रूपेन्द्र 'रूप' सिंह वाघेला
  • चाँदनी भगवनानी - पलक गोरडिया, रूप की बचपन की दोस्त
  • नील भट्ट - रणवीर सिंह वाघेला
  • डोनल बिष्ट - ईशिका पटेल

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]