यलगार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
यलगार
यलगार.jpg
यलगार का पोस्टर
निर्देशक फ़िरोज़ ख़ान
निर्माता फ़िरोज़ ख़ान
लेखक राजीव कौल
कमलेश पांडे
प्रफुल्ल पारिख
अभिनेता फ़िरोज़ ख़ान,
संजय दत्त,
कबीर बेदी,
मनीषा कोइराला,
नगमा,
मुकेश खन्ना,
विकी अरोड़ा
संगीतकार चन्नी सिंह
प्रदर्शन तिथि(याँ) 23 अक्तूबर, 1992
देश भारत
भाषा हिन्दी

यलगार 1992 में बनी हिन्दी भाषा की एक्शन फ़िल्म है। इसका निर्देशन और निर्माण फ़िरोज़ ख़ान ने किया जिसकी मुख्य भूमिका में वो स्वयं और संजय दत्त, नगमा, कबीर बेदी, मनीषा कोइराला, मुकेश खन्ना और विकी अरोड़ा हैं। इसके गीत लोकप्रिय रहे थे।

संक्षेप[संपादित करें]

बचपन के दोस्त दुश्मन बन गए जब एक महेंद्र अश्विनी कुमार (मुकेश खन्ना) अतिरिक्त पुलिस आयुक्त बना और अन्य राज प्रताप सिंघल (कबीर बेदी) एक तस्कर बन गया। महेंद्र के दो बेटे हैं- राजेश और ब्रजेश जो भी पुलिस अधिकारी भी हैं, जबकि दूसरी ओर सिंघल के भी दो बेटें हैं;- विशाल (संजय दत्त) जो अपने पिता के व्यवसाय को विकसित करने में मदद करता है और विकी जो गैराज में रोजगार पाता है। जब महेंद्र के गुंडे में से एक ने ब्रजेश की हत्या कर दी तो राजेश अपने भाई की मौत का बदला लेने के लिए कसम खाता है। भले ही कानून उसे अपने हाथों में लेना पड़े। ब्रजेश की मृत्यु के बाद वह उसकी विधवा पत्नी कौशल्या और एक छोटी बेटी मेघना (मनीषा कोइराला) के पीछे छोड़ देता है। मेघना और विकी दोनों की साथ मुलाकात होती है और दोनों प्यार में पड़ते हैं। कुमार विकी को मंजूरी देता है उसके परिवार की पृष्ठभूमि से अनजान होते हुए। फिर महेंद्र को पुलिस आयुक्त के रूप में पदोन्नति दी जाती है। इसे सिंघल सहन करने में असमर्थ महेंद्र की हत्या के लिए अपने एक और गुंडे को भेजता है। पुलिस और सरकारी अधिकारियों से बचने के लिए सिंघल और उसका परिवार दुबई चला जाता है। अपनी पत्नी, बेटे, बहू अनु (नगमा) के साथ और उन्होंने राजेश के क्रोध से अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मेघना के अपहरण कर लिया। मेघना को यह पता चला है कि विकी वास्तव में सिंघल का दूसरा पुत्र है और अब उसने अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत सुदर्शन फाकिर और अज़ीज़ कैसी द्वारा लिखित; सारा संगीत चन्नी सिंह द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."आखिर तुम्हें आना है"उदित नारायण, सपना मुखर्जी4:59
2."दिल दिल दिल"चन्नी सिंह, सपना मुखर्जी5:08
3."है दिल में लगन"मोहम्मद अज़ीज़, नितिन मुकेश, सुरेश वाडकर6:57
4."हो जाता है कैसे प्यार"कुमार सानु, सपना मुखर्जी5:40
5."कौन सी बात है"उदित नारायण, कविता कृष्णमूर्ति5:51
6."कोई पिछले जनम किये"उदित नारायण, कविता कृष्णमूर्ति5:01
7."शहर में गाँव में"कुमार सानु5:13
8."तेरी चुन्नी पे सितारे"उदित नारायण, कविता कृष्णमूर्ति6:51

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]