मच्चाट्टु मामांकम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

स्थान - मच्चाट्टु तिरुवाणिक्काव, वडक्कांचेरी, तृश्शूर जिला।

'मच्चाट्टु वेला', 'मच्चाट्टु मामांकम्' आदि नाम से प्रसिद्ध यह उत्सव तिरुवाणिक्काव भगवती मंदिर में मनाया जाता है। पाँच दिनों तक चलनेवाले इस उत्सव के समापन दिन सुसज्जित अश्व मूर्तियों की झाँकी मंदिर में सजाई जाती है। हाथियों की शोभा यात्रा के साथ चेण्डा मेलम् (वाद्य यंत्रों) का आयोजन 'मच्चाट्टुवेला' की शोभा को अदृभुत बनाता है।

कैसे पहुँचें - निकटतम रेल्वे स्टेशन - तृश्शूर 21 कि. मी.। निकटतम एयरपोर्ट - कोच्चि अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा नेडुम्बाश्शेरी 58 कि.

देखें[संपादित करें]