मंडी डबवाली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मंडी डबवाली
Mandi Dabwali
मंडी डबवाली की हरियाणा के मानचित्र पर अवस्थिति
मंडी डबवाली
मंडी डबवाली
हरियाणा में स्थिति
निर्देशांक: 29°56′53″N 74°43′55″E / 29.948°N 74.732°E / 29.948; 74.732निर्देशांक: 29°56′53″N 74°43′55″E / 29.948°N 74.732°E / 29.948; 74.732
ज़िलासिरसा ज़िला
प्रान्तहरियाणा
देशFlag of India.svg भारत
जनसंख्या (2011)
 • कुल52,873
भाषा
 • प्रचलितहरियाणवी, पंजाबी, हिन्दी
समय मण्डलIST (यूटीसी+5:30)

मंडी डबवाली (Mandi Dabwali) भारत के हरियाणा राज्य के सिरसा ज़िले में स्थित एक नगर है।[1][2][3]

विवरण[संपादित करें]

मंडी डबवाली एक नगर परिषद शहर है। यह हरियाणा और पंजाब की सीमा पर स्थित है। यह जिला मुख्यालय सिरसा से 60 किमी की दूरी पर है। मंडी डबवाली तहसील डबवाली और डबवाली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। मंडी डबवाली का पिन कोड 125104 है। भारत की 2001 की जनगणना में, मंडी डबवाली की जनसंख्या 53811 थी। पुरुषों की 53% और महिलाओं की 47% जनसंख्या थी। अगली जनगणना, 2011 में, ने दिखाया कि मंडी डबवाली की आबादी 269,929 थी। पुरुषों की 141945 जनसंख्या और महिलाओं की 127984 जनसंख्या हो गई।

यह शहर 2000 के दशक की शुरुआत में खुली बॉडी की जीपों के विनिर्माण और विपणन केंद्र रहा है। मंडी डबवाली में एक रेलवे स्टेशन है जो इसे बठिंडा (पंजाब) और हनुमानगढ़ (राजस्थान) से जोड़ता है। शहर में इंडोर स्टेडियम की सुविधा है।

डबवाली आग त्रासदी[संपादित करें]

डबवाली की आग दुर्घटना 23 दिसंबर 1995 को हुई थी जिसमें लगभग 400 लोगों की मौत हो गई थी, जिनमें से ज्यादातर स्कूली बच्चों की मौत हो गई थी और 160 लोग घायल हो गए थे, जिनमें से आधे गंभीर रूप से जल गए थे। यह हादसा राजीव मैरिज पैलेस में एक स्थानीय डीएवी पब्लिक स्कूल द्वारा आयोजित एक समारोह के दौरान हुआ था। आग की मुख्य वजह बिजली की तारों से निकली चिंगारी को माना जाता है। अब उसी स्थान पर उन लोगों की याद में एक पुस्तकालय और एक स्मारक स्थापित किया गया है।[4][5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "General Knowledge Haryana: Geography, History, Culture, Polity and Economy of Haryana," Team ARSu, 2018
  2. "Haryana: Past and Present Archived 29 सितंबर 2017 at the वेबैक मशीन.," Suresh K Sharma, Mittal Publications, 2006, ISBN 9788183240468
  3. "Haryana (India, the land and the people), Suchbir Singh and D.C. Verma, National Book Trust, 2001, ISBN 9788123734859
  4. Mukherjee, Bhaskar. "Agony alive six years after Dabwali fire". The Times of India. अभिगमन तिथि 6 March 2012.
  5. Angry India Mourners Protest Handling of Fire Archived 6 मार्च 2016 at the वेबैक मशीन.. Los Angeles Times. Retrieved 6 March 2012.