पैंगोलिन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वज्रशल्क या पैंगोलिन
Pangolin
Pangolin borneo.jpg
सुन्दा पैंगोलीन
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: जंतु
संघ: रज्जुकी (Chordata)
वर्ग: स्तनधारी (Mammalia)
गण: फ़ोलीडोटा (Pholidota)
वेबर, १९०४
कुल: मैनिडाए (Manidae)
ग्रे, १८२१
वंश
Manis ranges.png

वज्रशल्क या पंगोलीन (pangolin) फोलिडोटा गण का एक स्तनधारी प्राणी है। इसके शरीर पर केराटिन के बने शल्क (स्केल) नुमा संरचना होती है जिससे यह अन्य प्राणियों से अपनी रक्षा करता है। पैंगोलिन ऐसे शल्कों वाला अकेला ज्ञात स्तनधारी है। यह अफ़्रीका और एशिया में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। इसे भारत में सल्लू साँप भी कहते हैं। इनके निवास वाले वन शीघ्रता से काटे जा रहे हैं और अंधविश्वासी प्रथाओं के कारण इनका अक्सर शिकार भी करा जाता है, जिसकी वजह से पैंगोलिन की सभी जातिया अब संकटग्रस्त मानी जाती हैं और उन सब पर विलुप्ति का ख़तरा मंडरा रहा है।[1][2]

आहार[संपादित करें]

4anteater.jpg

पैंगोलिन की जिह्वा चींटीख़ोरों की तरह होती है और इस से वह चींटीदीमक खाने में सक्षम होता है, और यही उसका मुख्य आहार है। इसलिए पैंगोलिन को कभी-कभी शल्कदार चींटीख़ोर (scaly anteater) भी कहा जाता है। [3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Eating pangolins to extinction," 29 Jul 2014, International Union for Conservation of Nature
  2. "Manis pentadactyla". IUCN Red List. 2014. मूल से 9 February 2015 को पुरालेखित.
  3. "'Asian unicorn' and scaly anteater make endangered list". Phys.org. 19 November 2010. मूल से 11 December 2014 को पुरालेखित.