ताइपे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ताइपे शहर का दृश्य
ताइपे शहर का झण्डा
ताइवान में ताइपे की स्थिति

ताइपे, चीन गणराज्य (जिसे ताइवान के नाम से ज्यादा जाना जाता है) की राजधानी है। ताइपे ताइवान द्वीप के सबसे बड़े मेट्रोपोलिटन क्षेत्र का केंद्रीय शहर है। यह द्वीप के उत्तरी छोर पर, तम्सुई नदी के किनारे पर स्थित है। ताइपे शहर की आबादी २६,१८,७७२ है। ताइपे, नया ताइपे और कीलूंग मिलकर "ताइपे मेट्रोपोलिटन क्षेत्र" बनाते हैं, जिसकी कुल आबादी ६९,००,२७३ है। केवल "ताइपे" शब्द का प्रयोग मुख्यतः मेट्रोपोलिटन क्षेत्र के लिए और "ताइपे शहर" शब्द का प्रयोग सिर्फ शहर के लिए किया जाता है। ताइपे शहर चारों और से नया ताइपे से घिरा हुआ है।

ताइपे ताइवान की राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक गतिविधियों का केंद्रबिंदु है। यह शहर मध्य-पूर्वी एशिया के प्रमुख शहरों में से एक है। यहाँ दुनिया की दूसरी सबसे ऊँची इमारत है, जिसका नाम ताइपे १०१ है।

इतिहास[संपादित करें]

शुरुआती बसाहट[संपादित करें]

ताइपे बेसिन के नाम से जाना जाने वाला क्षेत्र, अट्ठारहवीं शताब्दी में केतागालान जनजाति का घर था। १७९० में, हान चीनी मुख्यतः चीन के फ़ूज्यान प्रान्त से आकार ताइपे बेसिन में बसने लगे। १९ वीं शताब्दी के अंत में, ताइपे क्षेत्र, जहाँ उत्तरी ताइवान के मुख्य हान चीनी बसाहट और विदेशी व्यापार बंदरगाहों में से एक तम्सुई स्थित थे, तेजी से बढ़ते विदेशी व्यापार की वजह से, विशेष रूप से चाय के निर्यात, आर्थिक रूप से महत्तवपूर्ण हो गया। १८७५ में, ताइवान का उत्तरी हिस्से को ताइवान प्रशासनिक क्षेत्र से अलग कर दिया गया और चीनी सरकार के नये प्रशासनिक ईकाई के रूप में नया ताइपे प्रशासनिक क्षेत्र में शामिल कर दिया गया। १८७५ से १८९५ में जापानी शासन की शुरुआत तक ताइपे शहर, ताइपे प्रशासनिक विभाग के तम्सुई काउंटी का हिस्सा और इसकी राजधानी रहा। १८८६ में, जब ताइवान चीन का प्रान्त घोषित किया गया, तब ताइपे शहर को प्रान्तीय राजधानी बना दिया गया। १८९४ में, आधिकारिक रूप से घोषणा होने तक ताइपे शहर अस्थाई प्रान्तीय राजधानी बना रहा।

जापानी शासन[संपादित करें]

प्रथम चीन-जापान युद्ध में हारने के बाद चीन ने समझौता करके जापान साम्राज्य को १८९५ में ताइवान द्वीप सौंप दिया। जापानी नियंत्रण में जाने के बाद ताइपे (जापानी में ताइहोकू) जापानी औपनिवेशिक सरकार के राजनीतिक केंद्र के रूप में उभरा। उस समय के दौरान शहर में कई नए सार्वजनिक भवन, सिविल सेवकों के लिए आवास आदि बने और इस तरह शहर ने एक प्रशासनिक केंद्र की विशेषताओं का अर्जित किया। ताइपे की वास्तुकला का बहुत हिस्सा जापानी शासन की अवधि से है, जैसे राष्ट्रपति भवन जो ताइवान के गवर्नर जनरल का कार्यालय था।

जापानी शासन के समय, १९२० में, ताइहोकू (ताइपे) को ताइहोकू प्रशासनिक विभाग में शामिल कर लिया गया। जापानियों के प्रशान्त युद्ध में हराने के बाद, अगस्त १९४५ में आत्मसमर्पण करने पर गुओमिंदांग ने ताइवान की कमान संभाल ली। इसके साथ ही, ताइवान प्रान्त के प्रशासनिक गवर्नर का ताइपे शहर में एक अस्थाई कार्यालय बना दिया गया।

चीनी गणराज्य के अंतर्गत[संपादित करें]

७ दिसम्बर १९४९ को, च्ह्यांग काई शेक के नेतृत्व में गुओमिंदांग सरकार, जिसे चीनी गृह युद्ध में कम्युनिस्टों द्वारा मुख्य भूमि चीन से पलायन के लिए मजबूर कर दिया गया, ने ताइपे को चीनी गणराज्य की अस्थाई राजधानी और नानकिंग (वर्तमान नानजिंग) को आधिकारिक राजधानी घोषित किया।

१९४९ के बाद के दशकों में ताइपे ने बहुत तेजी से विकास किया। ३० दिसम्बर १९६६ को युआन कार्यपालिका ने ताइपे को विशेष केंद्रीय प्रशासित नगरपालिका घोषित कर दिया। १ जुलाई १९६७ को इसे प्रशासनिक रूप से प्रान्त का दर्जा दे दिया गया। १९६० के दशक की शुरुआत में ताइपे की आबादी १० लाख पहुँच गयी और १९७० दशक के मध्य में २० लाख पार कर गयी। १९९० के दशक के मध्य तक आबादी में थोड़ी स्थिरता आई। १९९० में ताइपे के तत्कालीन १६ जिलों को वर्तमान १२ जिलों में समाहित कर दिया गया।

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

ताइवान की राजधानी के रूप में, ताइपे देश में तेजी से हुए आर्थिक विकास के केंद्र में रहा है और अब उच्च प्रौद्योगिकी और उसके घटकों के उत्पादन में वैश्विक शहरों में से एक बन गया है। यह शहर ताइवान चमत्कार का हिस्सा है, जिसके कारण १९६० के दशक में शहर में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में बहुत तेजी से बढ़ोतरी हुई। देश के महत्वपूर्ण वस्त्र उद्योग ताइपे में हैं, इनके अलावा अन्य उद्योग हैं, जो इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद और उनके घटक, इलेक्ट्रिकल मशीनरी और उपकरण, प्रिंटेड सामग्री आदि का उत्पादन करते हैं।

२००७ में, मूल ताइपे शहर का नाममात्र सकल घरेलू उत्पाद लगभग १६० अरब डॉलर था। ताइपे का प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद ४८,४०० डॉलर है, जो एशिया में टोक्यो के बाद किसी भी शहर से ज्यादा है। पर्यटन, ताइपे की अर्थव्यवस्था का छोटा पर महत्वपूर्ण हिस्सा है। यहाँ २००८ में लगभग ३० लाख अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक आये। ताइपे में कई बेहतरीन पर्यटन स्थल हैं, जो ताइवान के ६.८ अरब डॉलर के पर्यटन उद्योग में बड़ा योगदान देतें हैं।

शिक्षा[संपादित करें]

राष्ट्रीय ताइवान विश्वविद्यालय चिकित्सालय

ताइपे में २० विश्वविद्यालयों के परिसर हैं:

  • राष्ट्रीय ताइवान विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय ताइपे विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय ताइपे शिक्षा विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय ताइवान विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय ताइपे प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • ताइपे राष्ट्रीय कला विश्वविद्यालय
  • चीनी संस्कृति विश्वविद्यालय
  • ताइपे चिकित्सा विश्वविद्यालय
  • चीन प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

प्रशासनिक प्रभाग[संपादित करें]

प्रभाग जनसंख्या क्षेत्रफल पोस्टल कोड
Districts of Taipei-Taiwan.png Hanyu Pinyin 漢字 Wade-Giles 2009 में km²
Zhongzheng 中正區 Chung-cheng 159.464 7,60 100
Datong 大同區 Ta-t'ung 124.466 5,68 103
Zhongshan 中山區 Chung-shan 218.551 13,68 104
Songshan 松山區 Sung-shan 209.903 9,28 105
Da'an 大安區 Ta-an 313.371 11,36 106
Wanhua 萬華區 Wan-hua 190.050 8,85 108
Xinyi 信義區 Hsin-yi 227.232 11,20 110
Shilin 士林區 Shih-lin 285.459 62,36 111
Beitou 北投區 Pei-t'ou 249.319 56,82 112
Neihu 內湖區 Nei-hu 267.120 31,57 114
Nangang 南港區 Nan-kang 113.462 21,84 115
Wenshan 文山區 Wen-shan 261.523 31,50 116
चियांग काई शेक स्मारक

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]