जातिंगा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जातिंगा ((English : Jatinga) भारत के पूर्वोत्तर राज्य असम घाटी में एक गांव है। यह  गुवाहाटी के दक्षिण में 330 कि.मी. दूरी पर स्थित है। यह गांव  पक्षियों के सामूहिक रूप से   गोपनीयता आत्महत्या के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है।[1]

पक्षियों की मौत[संपादित करें]

मानसून के अंत में, विशेष रूप से चंद्रमा ना होने पर, ,पक्षी कोहरे भरी रात काली रातों  में शाम 6 बजे से रात 9:30 बजे  तक के बीच में परेशान हो कर प्रकाश की और जाते हैं। इस समय वह मदहोशी में होते हैं  और चारों ओर पेड़ के साथ टकरा कर मर जाते हैं।[2] डॉ। सेन गुप्ता ने अपनी शोध में बताया  है कि यह घाटी में चुंबकीय शक्ति  अचानक बदलने  लगती है जिस वजह से पक्षी साधारण से अलग विवहार करते हैं[ 

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. चौधरी, ए. यू (7 सितम्बर, 1986).
  2. "Jatinga पक्षी रहस्य".