खूबसूरत (1999 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
खूबसूरत
खूबसूरत.jpg
खूबसूरत का पोस्टर
निर्देशक संजय छेल
निर्माता राहुल सुगंध
लेखक संजय छेल
अभिनेता संजय दत्त,
उर्मिला मातोंडकर,
ओम पुरी,
परेश रावल,
फरीदा ज़लाल
संगीतकार जतिन-ललित
प्रदर्शन तिथि(याँ) 26 नवंबर, 1999
देश भारत
भाषा हिन्दी

खूबसूरत 1999 में बनी हिन्दी भाषा की हास्य प्रेमकहानी फिल्म है। इसका निर्देशन संजय छेल ने किया और मुख्य भूमिकाओं में संजय दत्त और उर्मिला मातोंडकर हैं। ये फिल्म सफल रही थी।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

कहानी ठग आदमी संजू (संजय दत्त) के चारों ओर घूमती है, जो दयालु है। उसे जोगिया सेठ (परेश रावल), एक तस्कर को 50 लाख रुपये एक महीने में चुकाने है। अगर वह खुद को बचा लेना चाहता है और साथ ही गुड़िया को जो एक अनाथ है जिसे बंधक बना लिया गया। इस समय, नटवर (जॉनी लीवर) संजू के बचाव के लिए आता है। नटवर ने सुझाव दिया कि संजू के लिए चौधरी परिवार में "संजू शास्त्री" (जिसे परिवार कभी नहीं मिला) के रूप में जाकर उनसे त्वरित धन पाने का एक तरीका है।

चूंकि संजू के पास कोई अन्य विकल्प नहीं है, इसलिए वह अपने दोस्त के सुझाव को गंभीरता से लेने का फैसला करता है और चौधरी कोठी में उनके एनआरआई रिश्तेदार के रूप में जाने में सफल होता है। संजू चौधरी परिवार के सदस्यों से मित्रतापूर्वक शुरू होता है। चौधरी परिवार में तीन भाई हैं - दिलीप, महेश और सतीश जो सब मिलकर रहते हैं। सबसे बड़ा भाई दिलीप (ओम पुरी) एक ईमानदार और दयालु व्यक्ति है और पूरे परिवार और परिवार के व्यवसाय का ख्याल रखता है। आहेश (अशोक सर्राफ) दूसरा भाई है, जो ईमानदारी या कड़ी मेहनत में इतना अच्छा नहीं है, और जुआरी है। तीसरा, सतीश (जतिन कनकिया), को चीजों को भूलने की आदत है।

शिवानी (उर्मिला मातोंडकर) चौधरी भाइयों के सबसे बड़े दिलीप की बेटी है। शिवानी सुंदर है, लेकिन आत्म-सम्मान या आत्मविश्वास की उसमें कमी है और पूरा परिवार शिवानी की वैवाहिक संभावनाओं के बारे में चिंतित रहता है। जब संजू आता है, तो वह सादी और उबाऊ शिवानी समेत सबकी समस्याओं को हल करके हर किसी के दिल को जीतता है। बाकी की फिल्म इस बारे में है कि कैसे संजू ने एक साधारण लड़की से एक सुंदर महिला में शिवानी को बदल दिया। और, इस प्रक्रिया में, पूरा परिवार को एकजुट होता है और फिर शिवानी उसे अपना पैसा जल्दी से प्राप्त करने में मदद करती है और फिर वे दोनों खुशी से बाद में रहते हैं।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत जतिन-ललित द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."बहुत खूबसूरत हो"गुलज़ारअभिजीत, नीरजा पंडित4:44
2."ए शिवानी तू लगती है नानी"संजय छेलसंजय दत्त, श्रद्धा पंडित4:53
3."मेरा एक सपना है"संजय छेलकुमार सानु, कविता कृष्णमूर्ति5:43
4."गश खा के हो गया"सुखविंदर सिंहसुखविंदर सिंह5:58
5."घूँघट में चाँद होगा"संजय छेलकुमार सानु, कविता कृष्णमूर्ति5:59
6."आना जरा पास तो आ"गुलज़ारकुमार सानु, अनुराधा पौडवाल5:47
7."आजमाले ये फॉर्मुलें"गुलज़ारअभिजीत, श्रद्धा पंडित6:07
8."बरसे क्यों बरसात"संजय छेलनारायण परशुराम, संजीवनी भेलंडे1:27
9."मंत्र"संजय छेलनारायण परशुराम0:54
10."मैं अधूरी सी एक उदासी हूँ"गुलज़ारअनुराधा पौडवाल5:47

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संजय दत्त की 'खूबसूरत' को हुए 17 साल, फिल्म के सॉन्ग ने क्रिएट की थी हिस्ट्री". दैनिक भास्कर. 27 नवंबर 2016. अभिगमन तिथि 19 सितम्बर 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]