कुसाल परेरा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कुसाल परेरा
කුසල් ජනිත් පෙරේරා
व्यक्तिगत जानकारी
पूरा नाम मथुरागे डॉन कुसाल जनिथ परेरा
जन्म 17 अगस्त 1990 (1990-08-17) (आयु 29)
कालुबोविला, श्रीलंका
उपनाम लिटल साना, कुसाला
कद 5 फीट 6 इंच (1.68 मी॰)
बल्लेबाजी की शैली बाएं हाथ से बल्लेबाजी
भूमिका विकेट-कीपर बल्लेबाज
अंतर्राष्ट्रीय जानकारी
राष्ट्रीय पक्ष
टेस्ट में पदार्पण (कैप 130)28 अगस्त 2015 बनाम भारत
अंतिम टेस्ट26 दिसम्बर 2016 बनाम दक्षिण अफ्रीका
वनडे पदार्पण (कैप 155)13 जनवरी 2013 बनाम ऑस्ट्रेलिया
अंतिम एक दिवसीय8 जून 2017 बनाम भारत
एक दिवसीय शर्ट स॰8
टी20ई पदार्पण (कैप 48)26 जनवरी 2013 बनाम ऑस्ट्रेलिया
अंतिम टी20ई6 अप्रैल 2017 बनाम बांग्लादेश
टी20 शर्ट स॰88
घरेलू टीम की जानकारी
वर्षटीम
वायम्बा क्रिकेट टीम
2013 – वर्तमान राजस्थान रॉयल्स (शर्ट नंबर 8)
रुहाना क्रिकेट टीम
कैरियर के आँकड़े
प्रतियोगिता टेस्ट वनडे टी २० अं प्रथम श्रेणी
मैच 10 70 27 49
रन बनाये 565 1,726 716 3,549
औसत बल्लेबाजी 31.38 27.83 26.51 49.98
शतक/अर्धशतक 1/2 3/8 0/6 11/12
उच्च स्कोर 110 135 84 336
गेंद किया
विकेट
औसत गेंदबाजी
एक पारी में ५ विकेट
मैच में १० विकेट
श्रेष्ठ गेंदबाजी
कैच/स्टम्प 16/8 27/2 7/2 88/19
स्रोत : ईएसपीएन क्रिकइन्फो, १५ नवम्बर २०१७

मथुरागे डॉन कुसाल जनिथ परेरा (अंग्रेज़ी: Mathurage Don Kusal Janith Perera ; जन्म; १७ अगस्त १९९०) श्रीलंका क्रिकेट टीम के एक पेशेवर खिलाड़ी]] हैं। इन्हें आमतौर पर 'कुसाल परेरा' के नाम से जाना जाता है। ये श्रीलंका की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के लिए सभी प्रकार केप्रारूपों में खेल खेलते हैं, और वर्तमान में सभी प्रारूपों में स्थायी विकेट-कीपर हैं। ये २०१४ आईसीसी विश्व ट्वेन्टी-20 के विजेता टीम के एक प्रमुख सदस्य थे। वनडे इतिहास में इन्होंने संयुक्त रूप से संयुक्त दूसरे सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाले खिलाड़ी है। घरेलू क्रिकेट में, वे वायम्बा क्रिकेट टीम के लिए खेलते हैं। [1]

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

ये कोट्टावा धर्मपाल महाविद्यालय और रॉयल कॉलेज कोलंबो में शिक्षित हुए थे, उन्होंने प्रतिष्ठित रॉयल-थामियन वार्षिक [2] क्रिकेट टूर्नामेंट में उत्तरार्द्ध का प्रतिनिधित्व किया। हालांकि कुसाल परेरा 11 से 13 साल की उम्र में दाएं हाथ के बल्लेबाज़ थे, लेकिन बाद में उन्होंने एक बाएं हाथ के बल्लेबाज बनने के लिए अपना रुख बदल दिया। माना जाता है कि श्रीलंका के महान बल्लेबाज और पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या - उनकी बचपन की मूर्ति और नायक थे।[3]

घरेलू क्रिकेट कैरियर[संपादित करें]

ये हाल में आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेले थे जबकि कुसाल परेरा ने 13 जनवरी, 2013 को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के खिलाफ एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की थी, जिसमें घायल दिनेश चांदीमल की जगह दी खेलाया गया था। उनका पहला ट्वेन्टी -20 इंटरनेशनल मैच भी 26 जनवरी, 2013 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी श्रृंखला में आया था।

ये एक त्वरित स्कोरर के रूप में जाने जाते है, और गेंद को बहुत जोर से मारते है जैसे श्रीलंका के पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या मारते थे, सनथ जयसूर्या की भी बल्लेबाजी शैली भी ऐसी ही रही थी। इन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट के मैच में उन्होंने 270 गेंदों में 330 रन बनाये जो कि एक शानदार घरेलू रिकॉर्ड है।

एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर[संपादित करें]

परेरा जनवरी २०१३ में ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने वाली श्रीलंका की १५ सदस्यीय टीम में शामिल थे। जिन्हें श्रृंखला के दूसरे वनडे मैच में खेलने का मौका दिया गया था। उस मैच में ये ४ नम्बर पर बल्लेबाजी करने आये और १६ गेंदों में नाबाद १४ रन बनाकर श्रीलंका ने ८ विकेट से जीत हासिल की थी।

परेरा ने २२ फरवरी २०१४ को बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला वनडे मैच शतक लगाया था। उस मैच में परेरा ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए १२४ गेंदों में १०६ रन बनाए थे और उन्हें "मैन ऑफ द मैच" पुरस्कार भी मिला था।

टी२० अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर[संपादित करें]

परेरा ने जनवरी २०१३ में ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पहला ट्वेन्टी-ट्वेन्टी मैच खेलकर कैरियर की शुरुआत की और ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल के हाथों आउट होने से पहले २२ गेंदों में ३३ रन बनाए थे। इस मैच में उन्होंने कुछ आक्रामक शॉट खेले और बहुत सी उनकी तुलना सनथ जयसूर्या के साथ हुई।[4]

१३ दिसंबर २०१३ को उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ ५९ गेंदों पर ८४ रन बनाए और श्रीलंका ने २११ रनों का विशाल स्कोर बनाया। श्रीलंका ने वो मैच २४ रनों से मैच जीत लिया था और परेरा को मैन ऑफ द मैच का ख़िताब मिला था।

टेस्ट क्रिकेट कैरियर[संपादित करें]

कुमार संगकारा के संन्यास के बाद, उनकी स्थिति एक नए खिलाड़ी के लिए रिक्त रही और कुसाल को टीम में जगह मिल गयी। उन्होंने २८ अगस्त २०१५ को भारत के खिलाफ श्रीलंका के लिए अपनी टेस्ट मैचों की शुरुआत करने का मौका मिल गया। टेस्ट टीम में उनका आगमन अच्छा नहीं था, जब उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली का काफी आसान कैच छोड़ दिया। लेकिन उस पारी में उन्होंने 2 कैच और 1 स्टंपिंग कर लिए।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Kushal Janith Perera". ईएसपीएन क्रिकइन्फो. ईएसपीएन आई एन सी. अभिगमन तिथि 16 नवम्बर 2017.
  2. संडे ओबसर्वर. "Kusal shines as Royal regain Mustangs Trophy". अभिगमन तिथि 15 नवम्बर 2017.
  3. डैली न्यूज़. "Kusal Janith :The little Master Blaster". अभिगमन तिथि 15 नवम्बर 2017.
  4. ईएसपीएन क्रिकइन्फो. ""SL retain top ranking with series-levelling win"". अभिगमन तिथि 16 नवम्बर 2017.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]