ओलचिकी लिपि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
ऑल चिकी
Ol Chiki.svg
प्रकार वर्णमाला
भाषाएँ संथाली भाषा
आईएसओ 15924 Olck, 261
दिशा बाएँ-से-दाएँ
यूनिकोड एलियास Ol Chiki
यूनिकोड रेंज U+1C50–U+1C7F
नोट: इस पृष्ठ पर आइपीए ध्वन्यात्मक प्रतीक हो सकते हैं।

ऑल चिकी एक भारतीय लिपि है, जो संथाली भाषा लिखने में प्रयुक्त होती है। इसका आविष्कार पंडित रघुनाथ मुर्मू ने वर्ष 1925 में किया था, संताली के लिए आधिकारिक लेखन प्रणाली है, जो भारत में एक आधिकारिक क्षेत्रीय भाषा के रूप में मान्यता प्राप्त एक आग्नेय भाषा है। इसमें 30 अक्षर हैं, जिनके रूपों का उद्देश्य प्राकृतिक आकृतियों को उद्घाटित करना है। लिपि बाएँ से दाएं लिखी गई है, और इसके दो रूप हैं (चपा और उसरा); बाद वाले का यूनिकोड नहीं है। दोनों रूपों में, इस वर्णमाला का आविष्कार बिना किसी अक्षर केस के हुआ था।

वर्णमाला[संपादित करें]

वर्ण वर्ण का नाम आईपीए (IPA)[1] लिप्यन्तरण स्वरूप/आकार[2]
ALA-LC[3] Zide[1] देवनागरी[4] बंगाली[4] ओड़िया[4]
la /ɔ/ a अ/ऑ जलती

अग्नि

laa /a/ ā a कुदाल से खेत में काम करना
li /i/ i i झुकने वाला पेड़
lu /u/ u u रसोई के लिए उपयुक्त बर्तन
ov /w̃/ उं अनुनासिक
le /e/ e e अतिप्रवाहित नदियों की बदल रही धारा
lo /o/ o o इस वर्ण का उच्चारण करते समय मुख
aak /k/ k k पक्षी
ag /k’/, /g/ g k’ उल्टी मुख जो वर्ण के नाम के समान ध्वनि उत्पन्न करता है
ang /ŋ/ फूंक
uch /c/ c c ऊँची पर्वतीय चोटी
aaj /c’/, /j/ j c’ व्यक्ति दाहिने हाथ से तीसरे व्यक्ति की ओर इशारा करता है
iny /ɲ/ ñ ñ व्यक्ति बाएँ हाथ से स्वयं की ओर इशारा करता है
ott /ʈ/ उष्ट्र कुब्ज
edd /ɖ/ दो पैरों वाला व्यक्ति अपनी छाती और मुंह की ओर फैला हुआ है
err /ɽ/ ड़ ড় रास्ता जो रुकावट या खतरे से बचने के लिए मुड़ता है
unn /ɳ/ उड़ती हुई मधुमक्षी की चित्र
at /t/ t t पृथ्वी
ud /t’/, /d/ d t’ मश्रूम
en /n/ n n अनाज को दो पैरों से कुचलना
ep /p/ p p दोनों हाथों से प्राप्त करने वाला व्यक्ति
ob /p’/, /b/ b p’ घुंघ्राले बाल
aam /m/ m m बाएं हाथ से दूसरे व्यक्ति की ओर इशारा करने वाला व्यक्ति
uy /j/ y y য় किसी चीज को काटने के लिए जमीन की ओर झुकता हुआ व्यक्ति
ir /r/ r r काटने या काटने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला दरांती
al /l/ l l लेखन
aaw /w/, /v/ w w ওয় ओठ खोलना
is /s/ s s हल
ih /ʔ/, /h/ h हाथ ऊपर
oh /ʰ/ h h व्यक्ति एक हाथ से कुछ फेंक रहा है

}

Aspirated consonants are written as digraphs with the letter :[5][4] ᱛᱷ /tʰ/, ᱜᱷ /ɡʰ/, ᱠᱷ /kʰ/, ᱡᱷ /jʱ/, ᱪᱷ /cʰ/, ᱫᱷ /dʱ/, ᱯᱷ /pʰ/, ᱰᱷ /ɖʱ/, ᱲᱷ /ɽʱ/, ᱴᱷ /ʈʰ/, and ᱵᱷ /bʱ/.

अन्य प्रतीक[संपादित करें]

Ol Chiki employs several marks which are placed after the letter they modify (there are no combining characters):

Mark Name Description
साँचा:Huge găhlă ṭuḍăg This baseline dot is used to extend three vowel letters for the Santal Parganas dialect of Santali:[5] ᱚᱹ ŏ /ɔ/, ᱟᱹ ă /ə/, and ᱮᱹ ĕ /ɛ/. The phonetic difference between and ᱚᱹ is not clearly defined and there may be only a marginal phonemic difference between the two. ᱚᱹ is rarely used. ALA-LC transliterates ᱚᱹ as "ạ̄".[3]
साँचा:Huge mũ ṭuḍăg This raised dot indicates nasalization of the preceding vowel: ᱚᱸ /ɔ̃/, ᱟᱸ /ã/, ᱤᱸ /ĩ/, ᱩᱸ /ũ/, ᱮᱸ /ẽ/, and ᱳᱸ /õ/. ALA-LC transliteration uses "m̐" after the affected vowel.[3]
साँचा:Huge mũ găhlă ṭuḍăg This colon-like mark is used to mark a nasalized extended vowel. It is a combination of mũ ṭuḍăg and găhlă ṭuḍăg: ᱚᱺ /ɔ̃/, ᱟᱺ /ə̃/, and ᱮᱺ /ɛ̃/.
साँचा:Huge relā This tilde-like mark indicates the prolongation of any oral or nasalized vowel. Compare /e/ with ᱮᱻ /eː/. It comes after the găhlă ṭuḍăg for extended vowels: ᱮᱹᱻ /ɛː/. It is omitted in ALA-LC transliteration.[3]
साँचा:Huge ahad This special letter indicates the deglottalization of a consonant in the word-final position. It preserves the morphophonemic relationship between the glottalized (ejective) and voiced equivalents of consonants.[5] For example, represents a voiced /g/ when word initial but an ejective /k’/ when in the word-final position. A voiced /g/ in the word-final position is written as ᱜᱽ. The ahad is used with , , , , and which can form cursive ligatures with in handwriting (but not usually in printed text).[4] ALA-LC transliteration uses an apostrophe (’) to represent an ahad.[3]
साँचा:Huge phārkā This hyphen-like mark serves as a glottal protector (the opposite function as the ahad.) It preserves the ejective sound, even in the word-initial position. Compare ᱜᱚ /gɔ/ with ᱜᱼᱚ /k’ɔ/. The phārkā is only used with , , , and . It is omitted in ALA-LC transliteration.[3]

अंक[संपादित करें]

Digit 0 1 2 3 4 5 6 7 8 9
ओल चिकी
बांग्ला
देवनागरी
ओड़िया

विराम चिह्न[संपादित करें]

Some Western-style punctuation marks are used with Ol Chiki: comma (,), exclamation mark (!), question mark (?), and quotation marks (“ and ”).

Period (.) is not used because it is visually confusable with the găhlă ṭuḍăg mark (ᱹ).[4] Instead of periods the script uses two dandas:

  • (mucăd) marks a minor break
  • ᱿ (double mucăd) marks a major break

यूनिकोड[संपादित करें]

ओलचिकी लिपि को अप्रैल २००८ में यूनिकोड में सम्मिलित किया गया था, जब यूनिकोड का 5.1 संस्करण निकला था।

ओलचिकी का यूनिकोड खण्ड ( Unicode block) U+1C50 से U+1C7F तक है।

ओल चिकी
ओल चिकी वर्णों के यूनिकोड (PDF)
0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 A B C D E F
U+1C5x
U+1C6x
U+1C7x ᱿

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Zide, Norman (1996). Daniels, Peter T.; Bright, William (संपा॰). The World's Writing Systems. Oxford University Press, Inc. पपृ॰ 614-615. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0195079937. मूल से 15 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 मार्च 2020.
  2. "Ol Chiki Script". A portal for Santals. 2002. मूल से 8 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2017-09-12.
  3. "Santali (in Ol script)" (PDF). ALA-LC Romanization Tables. Library of Congress. मूल से 4 दिसंबर 2018 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 2017-09-12.
  4. Everson, Michael (2005-09-05). "L2/05-243R: Final proposal to encode the Ol Chiki script in the UCS" (PDF). मूल से 31 जुलाई 2015 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 14 मार्च 2020.
  5. "The Unicode Standard, Chapter 13.10: Ol Chiki" (PDF). Unicode Consortium. March 2019. मूल से 13 जून 2019 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 14 मार्च 2020.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]