आज़ाद कश्मीर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आज़ाद कश्मीर
آزاد جموں و کشمیر
एक प्रशासनिक क्षेत्र के रूप में पाकिस्तान द्वारा प्रशासित क्षेत्र
View From Sharda Fort, Azad Jammu & Kashmir, Pakistan.jpg
Heavens unleashed Neelum valley.jpg
हरे रंग में दिखाए गए दो पाकिस्तानी प्रशासित क्षेत्रों के साथ विवादित कश्मीर क्षेत्र का नक्शा
हरे रंग में दिखाए गए दो पाकिस्तानी प्रशासित क्षेत्रों के साथ विवादित कश्मीर क्षेत्र का नक्शा
निर्देशांक: 33°50′36″N 73°51′05″E / 33.84333°N 73.85139°E / 33.84333; 73.85139निर्देशांक: 33°50′36″N 73°51′05″E / 33.84333°N 73.85139°E / 33.84333; 73.85139
देशपाकिस्तान
स्थापित24 अक्टूबर 1947 (आज़ाद कश्मीर दिवस)
राजधानीमुज़फ़्फ़राबाद
सबसे बड़ा शहरमुज़फ़्फ़राबाद
शासन
 • प्रणालीपाकिस्तानी प्रशासन के अधीन स्वशासी राज्य[1][2]
 • सभाआज़ाद कश्मीर सरकार
 • राष्ट्रपतिमसूद खान
 • प्रधानमंत्रीफारुक हैदर खान (पीएमएल-एन)
 • मुख्य सचिवमथर नियाज़ राणा[3]
 • विधान मंडलसदनीय (49 सीट)
क्षेत्रफल
 • कुल13,297 किमी2 (5,134 वर्गमील)
जनसंख्या (2017)
 • कुल4,045,366
 • घनत्व300 किमी2 (790 वर्गमील)
वासीनामआज़ाद कश्मीरी[4]
समय मण्डलPST (यूटीसी+05:00)
आई॰एस॰ओ॰ ३१६६ कोडPK-AJK
भाषा(एं)पहाड़ी-पोठवारी, गोजरी, उर्दू, हिंदको, कश्मीरी, कुंडल शाही
एचडीआई (2018)0.611 Decrease[5]
मध्यम
प्रभाग3
ज़िले10
तहसील33
संघ परिषद182
वेबसाइटwww.ajk.gov.pk
आज़ाद जम्मू व कश्मीर का नक़्शा
आज़ाद कश्मीर का झण्डा
Emblem Of Azad Jammu and Kashmir.png

आज़ाद जम्मू और कश्मीर (उर्दू: آزاد جموں و کشمیر), पाकिस्तान के प्रशासनिक प्रभागों में से एक है। यह पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर का एक हिस्सा है।[6]

आज़ाद कश्मीर का इलाक़ा 13,300 वर्ग किलोमीटर (5,135 वर्ग मील) पर फैला है और इसकी आबादी अंदाज़न 40 लाख है। आज़ाद कश्मीर की राजधानी मुज़फ़्फ़राबाद है और इसमें 8 ज़िले, 19 तहसीलें और 182 संघीय काउन्सिलें हैं।

आज़ाद कश्मीर के मीरपुर डवीज़न में भिम्बेर ज़िला, कोटली ज़िला और मीरपुर ज़िला, मुज़फ़्फ़राबाद डवीज़न में बाग़ ज़िला, मुज़फ़्फ़राबाद ज़िला और नीलम ज़िला जबकि पुंछ रावलाकोट डवीज़न में पूंछ ज़िला, रावला कोट और सुधनोती ज़िला शामिल हैं।

आजाद कश्मीर यूरेशियाई प्लेट और भारतीय टेक्टोनिक प्लेटों के क्षेत्र में स्थित है।[7][8] 2005 में एक बड़े भूकंप ने कम से कम 100,000 लोगों की जान ले ली और अन्य तीन मिलियन लोगों को विस्थापित कर दिया, जिससे इस क्षेत्र के बुनियादी ढांचे और अर्थव्यवस्था में व्यापक तबाही हुई।

नाम[संपादित करें]

आजाद कश्मीर मुस्लिम कांफ्रेंस पार्टी द्वारा 1945 में पुंछ में आयोजित १३वें आम सत्र में जारी एक पैम्फलेट का शीर्षक था।[9] ऐसा माना जाता है कि यह नेशनल कॉन्फ्रेंस के नया कश्मीर की प्रतिक्रिया थी (न्यू कश्मीर) कार्यक्रम।[10] सूत्रों का कहना है कि यह पार्टी द्वारा पारित विभिन्न प्रस्तावों के संकलन से अधिक कुछ नहीं था।[11] लेकिन ऐसा लगता है कि इसकी मंशा यह घोषित करने की रही है कि जम्मू और कश्मीर के मुसलमान मुस्लिम लीग के एक अलग मातृभूमि (पाकिस्तान) के संघर्ष के लिए प्रतिबद्ध थे,[12] और वह मुस्लिम सम्मेलन उनका एकमात्र प्रतिनिधि संगठन था।[10] हालांकि, अगले वर्ष, पार्टी ने एक "आजाद कश्मीर प्रस्ताव" पारित किया जिसमें मांग की गई कि महाराजा एक विस्तारित मताधिकार पर निर्वाचित एक संविधान सभा की स्थापना करें।[13] विद्वान चित्रलेखा जुत्शी के अनुसार, संगठन का घोषित लक्ष्य महाराजा के तत्वावधान में भारत या पाकिस्तान के सहयोग के बिना जिम्मेदार सरकार प्राप्त करना था।[14] अगले साल 19 जुलाई 1947 को पार्टी के कार्यकर्ता सरदार इब्राहिम के घर पर इकट्ठे हुए। निर्णय, यह मांग करते हुए कि महाराजा पाकिस्तान में शामिल हों। [15][16]

इसके तुरंत बाद, सरदार इब्राहिम पाकिस्तान भाग गए और पाकिस्तान के प्रधान मंत्री लियाकत अली खान और अन्य अधिकारियों की सहायता से पुंछ विद्रोह का नेतृत्व किया। लियाकत अली खान ने "स्वतंत्रता की घोषणा" का मसौदा तैयार करने के लिए मियां इफ्तिखारुद्दीन की अध्यक्षता में एक समिति नियुक्त की।[17] 4 अक्टूबर को एक आजाद कश्मीर अनंतिम सरकार को लाहौर में गुलाम नबी गिलकर के साथ राष्ट्रपति के रूप में "मिस्टर अनवर" और सरदार इब्राहिम को प्रधान मंत्री के रूप में घोषित किया गया था। गिलकर ने श्रीनगर की यात्रा की और उन्हें महाराजा की सरकार ने गिरफ्तार कर लिया। बाद में पाकिस्तानी अधिकारियों ने सरदार इब्राहिम को राष्ट्रपति नियुक्त किया।[18][20]

भूगोल[संपादित करें]

आज़ाद जम्मू और कश्मीर का उत्तरी भाग हिमालय के निचले क्षेत्र को समाहित करता है, जिसमें जामगढ़ पीक (4,734 मीटर या 15,531 फीट) शामिल है। हालांकि, नीलम घाटी में सरवाली चोटी (6326 मीटर) राज्य की सबसे ऊंची चोटी है।[1]

इस क्षेत्र में सर्दी और गर्मी दोनों में वर्षा होती है। मुज़फ़्फ़राबाद और पट्टन पाकिस्तान के सबसे गर्म इलाकों में से हैं। अधिकांश क्षेत्र में, औसत वर्षा 1400 मिमी से अधिक है, जिसमें मुज़फ़्फ़राबाद (लगभग 1800 मिमी) के पास सबसे अधिक औसत वर्षा होती है। गर्मी के मौसम में झेलम और लीपा नदियों में अत्यधिक बारिश और बर्फ के पिघलने के कारण मानसूनी बाढ़ आना आम बात है।

इतिहास[संपादित करें]

सरकार[संपादित करें]

विकास[संपादित करें]

एशियाई विकास बैंक की परियोजना रिपोर्ट के अनुसार, बैंक ने स्वास्थ्य, शिक्षा, पोषण और सामाजिक विकास के क्षेत्रों में आज़ाद कश्मीर के लिए विकास लक्ष्य निर्धारित किए हैं। पूरी परियोजना पर US$76 मिलियन खर्च होने का अनुमान है।[21] जर्मनी ने २००६ से २०१४ के बीच एजेके हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोग्राम के लिए ३८ मिलियन डॉलर का दान दिया है।[22]

प्रशासनिक प्रभाग[संपादित करें]

जलवायु[संपादित करें]

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

जनसंख्या[संपादित करें]

आज़ाद कश्मीर की जनसंख्या, 2017 की जनगणना के प्रारंभिक परिणामों के अनुसार, 4.045 मिलियन है।[23] एजेके सरकार की वेबसाइट पर साक्षरता दर 74% दर्ज़ की हुई है, जिसमें प्राथमिक विद्यालय में नामांकन दर क्रमशः लड़कों और लड़कियों के लिए 98% और 90% है।[24]

आज़ाद कश्मीर की आबादी लगभग पूरी तरह से मुस्लिम है। इस क्षेत्र के लोग सांस्कृतिक रूप से जम्मू और कश्मीर की कश्मीर घाटी में रहने वाले कश्मीरियों से भिन्न हैं और जम्मू की संस्कृति के करीब हैं। मीरपुर, कोटली और भिम्बेर जम्मू क्षेत्र के सभी पुराने शहर हैं।[25]

Religion[संपादित करें]

Religion in Azad Kashmir, Pakistan (2017 Census)[26][27] ██ Islam (99%)██ Hinduism (0.6%)██ Buddhism (0.3%)██ Other (0.1%)

Azad Jammu and Kashmir has an almost entirely Muslim population. According to data maintained by Christian community organizations, there are around 4,500 Christian residents in the region. Bhimber is home to most of them, followed by Mirpur and Muzaffarabad. A few dozen families also live in Kotli, Poonch, and Bagh. However, the Christian community has been struggling to get residential status and property rights in AJK. There is no official data on the total number of Bahais in AJK. Only six Bahai families are known to be living in Muzaffarabad with others living in rural areas. The followers of the Ahmadi faith are estimated to be somewhere between 20,000 and 25,000, and most of them live in Kotli, Mirpur, Bhimber, and Muzaffarabad.[28]

Ethnic groups[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Azad Kashmiri diaspora

Most residents of the region are not ethnic Kashmiris.[29] Rather, the majority of people in Azad Kashmir are Pahari people, who are ethnically related to Punjabis.[30][31]

The main communities living in this region are:[32]

  • Gujjars – They are an agricultural tribe and are estimated to be the largest community living in the ten districts of Azad Kashmir.[32][33][34]
  • Sudhans – (also known as Sadozai, Sardar) are the second largest tribe, living mainly in the districts of Poonch, Sudhanoti, Bagh, and Kotli in Azad Kashmir, and allegedly originating from the Pashtun areas.[35][32][33] Together with the Rajputs, they are the source of most of Azad Kashmir's political leaders.[36]
  • Jats – They are one of the larger communities of AJK and primarily inhabit the districts of Mirpur, Bhimber, and Kotli. A large Mirpuri population lives in the U.K. and it is estimated that more people of Mirpuri origins are now residing in the U.K. than in the Mirpur district, which retains strong ties with the U.K.[32][37]
  • Rajputs – They are spread across the territory, and they number a little under half a million. Together with the Sundhans, they are the source of most of Azad Kashmir's political class.[36]
  • Mughals – Largely located in the Bagh and Muzaffarabad districts.[34]
  • Awans – A clan with significant numbers in Azad Jammu and Kashmir, living mainly in the Bagh, Poonch, Hattian Bala, and Muzaffarabad. Awans also reside in Punjab and Khyber Pakhtunkhwa in large numbers.[32][33][34]
  • Dhund – They are a large clan in Azad Jammu and Kashmir and live mostly in the Bagh, Hattian Bala, and Muzaffarabad districts. They also inhabit Abbottabad and upper Potohar Punjab in large numbers.[32][33][34]
  • Kashmiris – Ethnic Kashmiri populations are found in the Neelam Valley and the Leepa Valley (see Kashmiris in Azad Kashmir).[38]

The culture of Azad Kashmir has many similarities to that of the northern Punjabi (Potohar) culture in Punjab province, whereas the Sudhans have the oral tradition of the Pashtuns. The Peshawari turban is worn by some Sudhans in the area.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

The traditional dress of the women is the shalwar kameez in Pahari style. The shalwar kameez is commonly worn by both men and women. Women use a shawl to cover their head and upper body.

Languages[संपादित करें]

The official language of Azad Kashmir is Urdu,[39][note 1] while English is used in higher domains. The majority of the population, however, are native speakers of other languages. The foremost among these is Pahari–Pothwari with its various dialects. There are also sizeable communities speaking Gujari and Kashmiri as well as pockets of speakers of Shina, Pashto, and Kundal Shahi. With the exception of Pashto and English, those languages belong to the Indo-Aryan language family.

The dialects of the Pahari-Pothwari language complex cover most of the territory of Azad Kashmir. Those are also spoken across the Line of Control in the neighbouring areas of Indian Jammu and Kashmir, and are closely related both to Punjabi to the south and Hinko to the northwest. The language variety in the southern districts of Azad Kashmir is known by a variety of names – including Mirpuri, Pothwari and Pahari – and is closely related to the Pothwari proper spoken to the east in the Pothohar region of Punjab. The dialects of the central districts of Azad Kashmir are occasionally referred to in the literature as Chibhali or Punchi, but the speakers themselves usually call them Pahari, an ambiguous name that is also used for several unrelated languages of the lower Himalayas. Going north, the speech forms gradually change into Hindko. Today, in the Muzaffarabad District the preferred local name for the language is Hindko, although it is still apparently more closely related to the core dialects of Pahari.[40] Further north in the Neelam Valley the dialect, locally also known as Parmi, can more unambiguously be subsumed under Hindko.[41]

Another major language of Azad Kashmir is Gujari. It is spoken by several hundred thousand[note 2] people among the traditionally nomadic Gujars, many of whom are nowadays settled. Not all ethnic Gujars speak Gujari, the proportion of those who have shifted to other languages is probably higher in southern Azad Kashmir.[42] Gujari is most closely related to the Rajasthani languages (particularly Mewati), although it also shares features with Punjabi.[43] It is dispersed over large areas in northern Pakistan and India. Within Pakistan, the Gujari dialects of Azad Kashmir are more similar, in terms of shared basic vocabulary and mutual intelligibility, to the Gujar varieties of the neighbouring Hazara region than to the dialects spoken further to the northwest in Khyber Pakhtunkhwa and north in Gilgit.[44]

There are scattered communities of Kashmiri speakers,[45] notably in the Neelam Valley, where they form the second-largest language group after speakers of Hindko.[46] There have been calls for the teaching of Kashmiri (particularly in order to counter India's claim of promoting the culture of Kashmir), but the limited attempts at introducing the language at the secondary school level have not been successful, and it is Urdu, rather than Kashmiri, that Kashmiri Muslims have seen as their identity symbol.[47] There is an ongoing process of gradual shift to larger local languages,[39] but at least in the Neelam Valley there still exist communities for whom Kashmiri is the sole mother tongue.[48]

In the northernmost district of Neelam, there are pockets of other languages. Shina, which like Kashmiri belongs to the Dardic group, is present in two distinct varieties spoken altogether in three villages. The Iranian language Pashto, the major language of the neighbouring province of Khyber Pakhtunkhwa, is spoken in two villages in Azad Kashmir, both situated on the Line of Control. The endangered Kundal Shahi is native to the eponymous village and it is the only language not found outside Azad Kashmir.[49]

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

शिक्षा[संपादित करें]

आज़ाद कश्मीर में साक्षरता दर 2004 में 62% थी, जो पाकिस्तान के किसी भी अन्य क्षेत्र की तुलना में अधिक थी।[50] 2018 में आजाद कश्मीर की वर्तमान साक्षरता दर 76.60% थी[51] और 2019 में यह 76.80% पर रही।[52] हालांकि, पाकिस्तान के औसत 2.9% की तुलना में यहां केवल 2.2% स्नातक थे।[53]

विश्वविद्यालय[संपादित करें]

पाकिस्तान के उच्च शिक्षा आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों की सूची निम्नलिखित है: [54]

विश्वविद्यालय स्थित स्थापित प्रकार विशेषज्ञता जालस्थल
मीरपुर विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय मीरपुर 1980 (2008)* लोक अभियांत्रिकी और प्रौद्योगिकी [1]
आज़ाद जम्मू और कश्मीर विश्वविद्यालय मुज़फ़्फ़राबाद 1980 लोक सामान्य [2]
आज़ाद जम्मू और कश्मीर विश्वविद्यालय (नीलम कैम्पस) नीलम 2013 लोक सामान्य [3]
आज़ाद जम्मू और कश्मीर विश्वविद्यालय (झेलम घाटी कैम्पस) झेलम घाटी ज़िला 2013 लोक सामान्य [4]
अल-ख़ैर विश्वविद्यालय मीरपुर 1994 (2011*) निजी सामान्य [5]
मोही-उद्-दीन इस्लामिक विश्वविद्यालय नेरियन शरीफ़ 2000 निजी सामान्य [6]
पुंछ विश्वविद्यालय (रावलाकोट कैम्पस) रावलाकोट 1980 (2012)* लोक सामान्य [7]
पुंछ विश्वविद्यालय (एसएम कैम्पस, मोंग) सुधनोती ज़िला 2014 लोक सामान्य [8]
पुंछ विश्वविद्यालय (कहुटा कैम्पस) हवेली ज़िला 2015 लोक सामान्य [9]
Women University of Azad Jammu and Kashmir Bagh बाग़ 2013 लोक सामान्य [10]
प्रबंधन विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कोटली 2014 लोक सामान्य [11]
मीरपुर विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (भिम्बेर कैम्पस) भिम्बेर 2013 लोक विज्ञान और मानविकी [12]

* विश्वविद्यालय का दर्जा दिया गया।

कैडेट कॉलेज पलंद्री[संपादित करें]

  • कैडेट कॉलेज पलंद्री इस्लामाबाद से लगभग 100 किमी (62 मील) की दूरी पर स्थित है।

मेडिकल कॉलेज[संपादित करें]

पाकिस्तान मेडिकल एंड डेंटल काउंसिल (पीएमडीसी) द्वारा 2013 तक मान्यता प्राप्त स्नातक चिकित्सा संस्थानों की सूची निम्नलिखित है।[55]

निजी मेडिकल कॉलेज[संपादित करें]

  • मोही-उद्-दीन इस्लामिक मेडिकल कॉलेज, मीरपुर

खेलकूद[संपादित करें]

आजाद कश्मीर में फुटबॉल, क्रिकेट और वॉलीबॉल बहुत लोकप्रिय हैं। पूरे साल कई प्रतयोगिताएं आयोजित की जाती हैं और रमज़ान के पवित्र महीने में रात के समय बाढ़ की रोशनी वाली प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाती हैं।

पाकिस्तान के टी20 घरेलू प्रतियोगिता में आज़ाद कश्मीर की टी20 क्रिकेट टीम है।

न्यू मीरपुर शहर में एक क्रिकेट स्टेडियम (कायद-ए-आज़म स्टेडियम) है जिसे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अंतरराष्ट्रीय मानकों तक लाने के लिए नवीनीकरण के लिए अपने कब्जे में ले लिया है। मुज़फ़्फ़राबाद में 8,000 लोगों की क्षमता वाला एक क्रिकेट स्टेडियम भी है। इस स्टेडियम ने इंटर डिस्ट्रिक्ट अंडर 19 टूर्नामेंट 2013 के 8 मैचों की मेज़बानी की है।

पंजीकृत फुटबॉल क्लब भी हैं:

  • पायलट फुटबॉल क्लब
  • यूथ फुटबॉल क्लब
  • कश्मीर राष्ट्रीय एफसी
  • आजाद सुपर एफसी

पर्यटन[संपादित करें]

आज़ाद कश्मीर देश के उत्तरी भाग में स्थित पाकिस्तान का प्रशासनिक क्षेत्र है। आज़ाद जम्मू और कश्मीर का उत्तरी भाग हिमालय के निचले हिस्से को समेटे हुए है, जिसमें जामगढ़ चोटी (15,531 फीट या 4,734 मीटर) शामिल है। हालांकि, नीलम घाटी में सरवाली चोटी राज्य की सबसे ऊंची चोटी है।[56] उपजाऊ, हरी-भरी, पहाड़ी घाटियाँ आज़ाद कश्मीर के भूगोल की विशेषता हैं, जो इसे उपमहाद्वीप के सबसे खूबसूरत क्षेत्रों में से एक बनाती है।[1]

आज़ाद कश्मीर में नीलम घाटी एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है
नीलम घाटी में हरे-भरे जंगलों की प्रधानता है
बाग़ ज़िले में कोटला
लीपा घाटी में धान का खेत

प्रमुख जगह[संपादित करें]

घाटी[संपादित करें]

झील[संपादित करें]

नदी[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Azad Kashmir" at britannica.com
  2. "Kashmir profile". BBC News. November 26, 2014. मूल से July 16, 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि July 24, 2015.
  3. Raza, Ghalib. "Chief Secretary Of AJ&K". cs.ajk.gov.pk.
  4. दक्षिण एशियाई हलकों में "कश्मीरी" का उपनाम केवल उन लोगों का वर्णन करने के लिए आरक्षित है जो जातीय रूप से कश्मीरी हैं। जातीय कश्मीरी कश्मीर घाटी के मूल निवासी हैं, जो भारत और पाकिस्तान के बीच पहले कश्मीर युद्ध की समाप्ति के बाद से भारतीय प्रशासन के अधीन है। इस प्रकार, जो आज़ाद जम्मू और कश्मीर से हैं, उन्हें "आज़ाद कश्मीरी" के रूप में संदर्भित किया जाता है ताकि उन्हें (आमतौर पर) गैर-जातीय कश्मीरियों के रूप में अलग किया जा सके और यह दर्शाया जा सके कि वे कश्मीर के पाकिस्तानी प्रशासित हिस्से से हैं।The demonym of "Kashmiri" in South Asian circles tends to be reserved to describing only those who are ethnically Kashmiri. Ethnic Kashmiris are native to the Kashmir Valley, which has been under Indian administration since the end of the First Kashmir War between India and Pakistan. Thus, those who are from Azad Jammu and Kashmir are referred to as "Azad Kashmiris" to distinguish them as (usually) non-ethnic Kashmiris and to denote that they hail from the Pakistani-administered portion of Kashmir.
  5. "Sub-national HDI - Area Database - Global Data Lab". hdi.globaldatalab.org. अभिगमन तिथि March 15, 2020.
  6. Chandra, Bipan; Mukherjee, Aditya; Mukherje, Mridula (2008). India since Independence. Penguin Books India. पृ॰ 416. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0143104098.
  7. "subduction zone of Azad Kashmir".
  8. "2005 Kashmir Earthquake: All you need to know about one of the deadliest earthquakes".
  9. बेहरा, डेमिस्टीफाइंग कश्मीर (2007), पृ॰ 20.
  10. कपूर, जम्मू और कश्मीर में विरोध की राजनीति (2014).
  11. गनई, डोगरा राज और कश्मीर में स्वतंत्रता के लिए संघर्ष (१९९९).
  12. बेहरा, डेमिस्टिफाइंग कश्मीर (2007).
  13. सरफ, कश्मीरी स्वतंत्रता के लिए लड़ाई, खंड 1 (2015), पृ॰ 663.
  14. जुत्शी, चित्रलेखा (2004), संबंधित भाषाएँ: इस्लाम, क्षेत्रीय पहचान, और कश्मीर का निर्माण, C. हर्स्ट एंड कंपनी पब्लिशर्स, पृ॰ 302, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-85065-700-2
  15. सराफ, कश्मीरी स्वतंत्रता के लिए लड़ाई, खंड 2 (2015), पृ॰ 9.
  16. पुरी, बलराज (नवंबर 2010), "प्रवेश का प्रश्न", Epilogue, 4 (11): 5
  17. सरफ, कश्मीरी स्वतंत्रता के लिए लड़ाई, खंड 2 2015.
  18. सरफ, कश्मीरी फाइट फॉर फ्रीडम, खंड 2 (2015), पृ॰ 547.
  19. सराफ, कश्मीरी स्वतंत्रता के लिए लड़ाई, खंड 2 (2015), पृ॰ 547.
  20. अधिकारी प्रत्यक्ष भागीदारी के साथ मामले में रावलपिंडी डिवीजन के आयुक्त ख्वाजा अब्दुल रहीम थे। कर्नल अकबर खान की पत्नी नसीम जहान द्वारा उनकी सहायता की गई थी। [19]
  21. "आज़ाद जम्मू और कश्मीर के लिए बहुक्षेत्रीय पुनर्वास और सुधार परियोजना के लिए पाकिस्तान के इस्लामी गणराज्य को प्रस्तावित ऋण पर निदेशक मंडल को राष्ट्रपति की रिपोर्ट और सिफारिश" (PDF). एशियाई विकास बैंक. नवंबर 2004. अभिगमन तिथि अप्रैल ६, २०२०.
  22. "पाकिस्तान डोनर प्रोफाइल और मैपिंग" (PDF). पाकिस्तान में संयुक्त राष्ट्र. अगस्त 2014. .un.org.pk/wp-content/uploads/2014/04/Pakistan-Donor-Profile-and-Mapping-by-UN.pdf मूल जाँचें |url= मान (मदद) (PDF) से 15 दिसंबर, 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 फरवरी, 2017. |access-date=, |archive-date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  23. "Census 2017: AJK population rises to over 4m". The Nation. August 26, 2017. अभिगमन तिथि June 10, 2018.
  24. "AJ&K at a Glance". अभिगमन तिथि June 10, 2018.
  25. (September 2006) With Friends Like These.... Human Rights Watch. (Report).
  26. "Population by Religion" (PDF). pbs.gov.pk. Pakistan Bureau of Statistics.
  27. "SALIENT FEATURES OF FINAL RESULTS CENSUS-2017" (PDF). अभिगमन तिथि 20 May 2021.
  28. "The Plight of Minorities in 'Azad Kashmir'". Asianlite.com. January 14, 2019. अभिगमन तिथि April 6, 2020.
  29. Snedden, Christopher (2015). Understanding Kashmir and Kashmiris. Oxford University Press. पृ॰ 23. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-84904-622-0. Confusingly, the term 'Kashmiri' also has wider connotations and uses. Some people in Azad Kashmir call themselves 'Kashmiris'. That is despite the fact that most Azad Kashmiris are not of Kashmiri ethnicity.
  30. Kennedy, Charles H. (August 2, 2004). "Pakistan: Ethnic Diversity and Colonial Legacy". प्रकाशित John Coakley (संपा॰). The Territorial Management of Ethnic Conflict. Routledge. पृ॰ 153. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781135764425.
  31. Ballard, Roger (2 March 1991), "Kashmir Crisis: View from Mirpur" (PDF), Economic and Political Weekly, 26 (9/10): 513–517, JSTOR 4397403, मूल (PDF) से March 4, 2016 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि July 19, 2020, ... they are best seen as forming the eastern and northern limits of the Potohari Punjabi culture which is otherwise characteristic of the upland parts of Rawalpindi and Jhelum Districts
  32. Snedden 2013, Role of Biradaries (pp. 128–133)
  33. "District Profile - Rawalakot/Poonch" (PDF). Earthquake Reconstruction and Rehabilitation Authority. July 2007. मूल (PDF) से September 24, 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि August 31, 2015.
  34. "District Profile - Bagh" (PDF). Earthquake Reconstruction and Rehabilitation Authority. June 2007. मूल (PDF) से September 24, 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि August 31, 2015.
  35. Snedden, Christopher (2012). The Untold Story of the People of Azad Kashmir. Columbia University Press. पृ॰ xix. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780231800204. Sudhan/Sudhozai – one of the main tribes of (southern) Poonch, allegedly originating from Pashtun areas.
  36. ""With Friends Like These...": Human Rights Violations in Azad Kashmir: II. Background". Human Rights Watch. अभिगमन तिथि June 14, 2019.
  37. Moss, Paul (November 30, 2006). "South Asia | The limits to integration". BBC News. अभिगमन तिथि June 5, 2010.
  38. Snedden, Christopher (2015). Understanding Kashmir and Kashmiris. Oxford University Press. पृ॰ 23. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-84904-622-0.
  39. Rahman 1996, पृ॰ 226.
  40. The preceding paragraph is mostly based on Lothers & Lothers (2010). For further references, see the bibliography in Pahari-Pothwari.
  41. Akhtar & Rehman 2007, पृ॰ 68. The conclusion is based on lexical similarity and the comparison is with the Hindko of the Kaghan Valley and with the Pahari of the Murree Hills.
  42. Hallberg & O'Leary 1992, पृ॰प॰ 96, 98, 100.
  43. Hallberg & O'Leary 1992, पृ॰प॰ 93–94.
  44. Hallberg & O'Leary 1992, पृ॰प॰ 111–12, 126.
  45. Rahman 2002, पृष्ठ 449; Rahman 1996, पृष्ठ 226
  46. Akhtar & Rehman 2007, पृ॰ 70.
  47. Rahman 1996, पृष्ठ 226; Rahman 2002, पृष्ठ 449–50. The discussion in both cases is in the broader context of Pakistan.
  48. Akhtar & Rehman 2007, पृ॰प॰ 70, 75.
  49. Akhtar & Rehman 2007.
  50. "Literacy Rate in Azad Kashmir nearly 62 pc". Pakistan Times. MUZAFFARABAD (Azad Kashmir). September 27, 2004. मूल से February 27, 2005 को पुरालेखित.
  51. "AJK at a Glance 2018 pndajk.gov.pk" (PDF). Planning & Development Department AJK.
  52. "Ajk at a Glance 2019" (PDF).
  53. Hasan, Khalid (April 17, 2005). "Washington conference studies educational crisis in Pakistan". Daily Times. Washington. मूल से June 7, 2011 को पुरालेखित. Grace Clark told the conference that only 2.9% of Pakistanis had access to higher education.
  54. "Our Institutions". Higher Education Commission of Pakistan. मूल से October 29, 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि November 19, 2013.
  55. "Recognized medical colleges in Pakistan". Pakistan Medical and Dental Council. मूल से August 19, 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि November 19, 2013.
  56. "Archived copy". मूल से 2015-07-10 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2015-06-14.सीएस1 रखरखाव: Archived copy as title (link)



सन्दर्भ त्रुटि: "note" नामक सन्दर्भ-समूह के लिए <ref> टैग मौजूद हैं, परन्तु समूह के लिए कोई <references group="note"/> टैग नहीं मिला। यह भी संभव है कि कोई समाप्ति </ref> टैग गायब है।