अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर (AIIMS Raipur) की स्थापना प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के तहत भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा की गई है।[1] नोवल कोरोनावायरस महामारी की जांच हेतु यह संस्थान एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है [2]

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर
All India Institute of Medical Sciences Raipur
AIIMS Raipur Medical College.jpg
ध्येयआरोग्यम सुख सम्पदा
(हे माँ लक्ष्मी- मेरे कल्याण, स्वास्थ्य और खुशी के लिए मुझे आशीर्वाद दे।)[3]
प्रकारसार्वजनिक
स्थापित2012 (2012)
निदेशकप्रोफेसर (डॉ) नितिन मधुसूदन नगरकर
स्थानटाटीबंध, जी ई रोड, रायपुर, मध्य प्रदेश, ४९२ ०९९, भारत
21°15′23″N 81°34′52″E / 21.256335°N 81.581176°E / 21.256335; 81.581176
जालस्थलwww.aiimsraipur.edu.in/hindi/

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Rai, Abhishek Kumar (३१ जनवरी २०२०). "दिल्ली की टीम ने एम्स के वार्डों का किया निरीक्षण". Patrika News (हिन्दी भाषा में). मूल से 3 फ़रवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २७ अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  2. Singh, Ramendra (३ एप्रिल २०२०). "छत्तीसगढ सरकार ने केंद्र से मांगी कोरोना टेस्टिंग सेंटर बढ़ाने की अनुमति". Patrika News (हिन्दी भाषा में). अभिगमन तिथि २७ अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  3. Sciences, All India Institute Of Medical. "संग्रहीत प्रति". AIIMS (हिन्दी भाषा में). मूल से 2 सितंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २७ अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]