सयौं थुँगा फूलका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सयौं थुँगा फूलका
हिन्दी: हम सैंकड़ों फूल हैं
नेपाल के राष्ट्रगान का संगीत पत्र.png
"सयौं थुंगा फूलका" के लिए संगीत पत्र
राष्ट्रीय जिसका राष्ट्रगान है Flag of Nepal.svg नेपाल
बोल व्याकुल माइला
संगीत अम्बर गुरंग
घोषित २००७
संगीत के नमूने

सयौं थुँगा फूलका (हिन्दी अर्थ: हम सैंकड़ों फूल हैं) नेपाल का राष्ट्रगान है। यह गान व्याकुल माइला द्वारा रचित है। इस गान को ३ अगस्त, २००७ को सिंघा दरबार में स्थित राष्ट्रीय योजना आयोग के कॉन्फ़्रेन्स हॉल में आयोजित एक समारोह में श्री सुभाष चन्द्र नेमवांग ने नेपाल का राष्ट्रगान घोषित किया गया।

गान के बोल प्रदीप कुमार राय द्वारा लिखे गए थे। संगीतकार अम्बर गुरंग हैं। राष्ट्रगान में नेपाल की विविधता को सरल शब्दों में बताया गया है।

गान[संपादित करें]

सयौं थुँगा फूलका हामी, एउटै माला नेपाली
सार्वभौम भई फैलिएका, मेची-महाकाली।
प्रकृतिका कोटी-कोटी सम्पदाको आंचल
वीरहरूका रगतले, स्वतन्त्र र अटल।
ज्ञानभूमि, शान्तिभूमि तराई, पहाड, हिमाल
अखण्ड यो प्यारो हाम्रो मातृभूमि नेपाल।
बहुल जाति, भाषा, धर्म, संस्कृति छन् विशाल
अग्रगामी राष्ट्र हाम्रो, जय जय नेपाल।

हिन्दी अनुवाद[संपादित करें]

हम सैंकड़ो फूल हैं, एक ही माला नेपाली
सा‍र्वभौम होकर फैले हुए है मेची से महाकाली।
हम सैंकड़ो फूल हैं, एक ही माला नेपाली
सा‍र्वभौम होकर फैले हुए है मेची से महाकाली।
प्रकृति के करोड़ों-करोड़ सम्पदा के आंचल
वीरों के रक्त से स्वतन्त्र और अटल।
ज्ञानभूमि, शान्तिभूमि तराई, पहाड़ी और पर्वत
अखण्ड है यह हमारी प्यारी मातृभूमि नेपाल।
बहुल जाति, भाषा, धर्म, संस्कृति है विशाल
अग्रगामी राष्ट्र हमारा, जय जय नेपाल।