वरुण (ग्रह)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
वरुण  Astronomical symbol for Neptune.
Neptune from Voyager 2
वॉयजर 2 से ली गई नेप्च्यून की छवि में विशाल श्याह धब्बा बांए तरफ और छोटा श्याह धब्बा नीचे दांए तरफ है। सफेद बादल मीथेन बर्फ से बने हैं; समग्र नीला रंग लाल प्रकाश के मीथेन अवशोषण के कारण है।
खोज
खोज कर्ता
खोज की तिथि 23 सितंबर 1846[1]
उपनाम
विशेषण Neptunian
युग J2000
उपसौर 4,553,946,490 km
30.44125206 AU
अपसौर 4,452,940,833 km
29.76607095 AU
अर्ध मुख्य अक्ष 4,503,443,661 km
30.10366151 AU
विकेन्द्रता 0.011214269
परिक्रमण काल 60,190.03[3] days
164.79 years
89,666 Neptune solar days[4]
संयुति काल 367.49 days[5]
औसत परिक्रमण गति 5.43 km/s[5]
माध्य कोणान्तर 267.767281°
झुकाव 1.767975° to Ecliptic
6.43° to Sun’s equator
0.72° to Invariable plane[6]
आरोह  पात का अनुलम्ब 131.794310°
Argument of perihelion 265.646853°
उपग्रह 13
भौतिक विशेषताएँ
विषुवतीय त्रिज्या 24,764 ± 15 km[7][b]Refers to the level of 1 बार (100 किलोपास्कल) atmospheric pressure</ref>
3.883 Earths
ध्रुवीय त्रिज्या 24,341 ± 30 km[7][b]
3.829 Earths
सपाटता 0.0171 ± 0.0013
तल-क्षेत्रफल 7.6183×109 km2[3][b]
14.98 Earths
आयतन 6.254×1013 km3[5][b]
57.74 Earths
द्रव्यमान 1.0243×1026 kg[5]
17.147 Earths
5.15×10-5 Suns
माध्य घनत्व 1.638 g/cm3[5][b]
विषुवतीय सतह गुरुत्वाकर्षण 11.15 m/s2[5][b]
1.14 g
पलायन वेग 23.5 km/s[5][b]
नाक्षत्र घूर्णन
काल
0.6713 day[5]
16 h 6 min 36 s
विषुवतीय घूर्णन वेग 2.68 km/s
9,660 km/h
अक्षीय नमन 28.32°[5]
उत्तरी ध्रुव दायां अधिरोहण 19h 57m 20s[7]
299.3°
उत्तरी ध्रुवअवनमन 42.950°[7]
अल्बेडो 0.290 (bond)
0.41 (geom.)[5]
सतह का तापमान
   1 bar level
   0.1 बार (10 किलोपास्कल)
न्यून माध्य अधि
72 K[5]
55 K[5]
स्पष्ट परिमाण 8.02 to 7.78[5][8]
कोणीय व्यास 2.2–2.4[5][8]
वायु-मंडल[5]
स्केल हाईट 19.7 ± 0.6 km
संघटन
80±3.2% hydrogen (H2)
19±3.2% helium (He)
1.5±0.5% methane (CH4)
~0.019% hydrogen deuteride (HD)
~0.00015% ethane (C2H6)

Ices:

वरुण, नॅप्टयून या नॅप्चयून हमारे सौर मण्डल में सूर्य से आठवाँ ग्रह है। व्यास के आधार पर यह सौर मण्डल का चौथा बड़ा और द्रव्यमान के आधार पर तीसरा बड़ा ग्रह है। वरुण का द्रव्यमान पृथ्वी से १७ गुना अधिक है और अपने पड़ौसी ग्रह अरुण (युरेनस) से थोड़ा अधिक है। खगोलीय इकाई के हिसाब से वरुण की कक्षा सूरज से ३०.१ ख॰ई॰ की औसत दूरी पर है, यानि वरुण पृथ्वी के मुक़ाबले में सूरज से लगभग तीस गुना अधिक दूर है। वरुण को सूरज की एक पूरी परिक्रमा करने में १६४.७९ वर्ष लगते हैं, यानि एक वरुण वर्ष १६४.७९ पृथ्वी वर्षों के बराबर है।

हमारे सौर मण्डल में चार ग्रहों को गैस दानव कहा जाता है, क्योंकि इनमें मिटटी-पत्थर की बजाय अधिकतर गैस है और इनका आकार बहुत ही विशाल है। वरुण इनमे से एक है - बाकी तीन बृहस्पति, शनि और अरुण (युरेनस) हैं। इनमें से अरुण की बनावट वरुण से बहुत मिलती-जुलती है। अरुण और वरुण के वातावरण में बृहस्पति और शनि के तुलना में बर्फ़ अधिक है - पानी की बर्फ़ के अतिरिक्त इनमें जमी हुई अमोनिया और मीथेन गैसों की बर्फ़ भी है। इसलिए कभी-कभी खगोलशास्त्री इन दोनों को "बर्फ़ीले गैस दानव" नाम की श्रेणी में डाल देते हैं।

खोज और नामकरण[संपादित करें]

वरुण पर बादल

वरुण पहला ग्रह था जिसकी अस्तित्व की भविष्यवाणी उसे बिना कभी देखे ही गणित के अध्ययन से की गयी थी और जिसे फिर उस आधार पर खोजा गया। यह तब हुआ जब अरुण की परिक्रमा में कुछ अजीब गड़बड़ी पायी गयी जिनका अर्थ केवल यही हो सकता था के एक अज्ञात पड़ौसी ग्रह उसपर अपना गुरुत्वाकर्षक प्रभाव डाल रहा है। खगोल में खोजबीन करने के बाद यह अज्ञात ग्रह २३ सितम्बर १८४६ को पहली दफ़ा दूरबीन से देखा गया और इसका नाम "नॅप्टयून" रख दिया गया।[1] "नॅप्टयून" प्राचीन रोमन धर्म में समुद्र के देवता थे, जो स्थान प्राचीन भारत में "वरुण" देवता का रहा है, इसलिए इस ग्रह को हिन्दी में वरुण कहा जाता है। रोमन धर्म में नॅप्टयून के हाथ में त्रिशूल होता था इसलिए वरुण का खगोलशास्त्रिय चिन्ह ♆ है।

रंग-रूप और मौसम[संपादित करें]

जहाँ अरुण ग्रह सिर्फ एक गोले का रूप दिखता है जिसपर कोई निशान या धब्बे नहीं हैं, वहाँ वरुण पर बादल, तूफ़ान और मौसम का बदलाव साफ़ नज़र आता है। माना जाता है के वरुण पर तूफ़ानी हवा सौर मण्डल के किसी भी ग्रह से ज़्यादा तेज़ चलती है और २,१०० किमी प्रति घंटा तक की गतियाँ देखी जा चुकी हैं। जब १९८९ में वॉयेजर द्वितीय यान वरुण के पास से गुज़रा तो वरुण पर एक "बड़ा गाढ़ा धब्बा" नज़र आ रहा था, जिसकी तुलना बृहस्पति के "बड़े लाल धब्बे" से की गयी है। क्योंकि वरुण सूरज से इतना दूर है, इसलिए उसका ऊपरी वायुमंडल बहुत ही ठंडा है और वहाँ का तापमान -१२८ °सेंटीग्रेड (५५ कैल्विन) तक गिर सकता है। इसके बड़े अकार की वजह से इस ग्रह के केंद्र में इसके गुरुत्वाकर्षण के भयंकर दबाव से तापमान ५,००० °सेंटीग्रेड तक पहुँच जाता है। वरुण के इर्द-गिर्द कुछ छितरे-से उपग्रही छल्ले भी हैं जिन्हें वॉयेजर द्वितीय ने देखा था। वरुण का हल्का नीला रंग अपने ऊपरी वातावरण में मौजूद मीथेन गैस से आता है।

परिक्रमा एवं घूर्णन[संपादित करें]

नेप्च्यून (लाल चाप) सूर्य का एक चक्कर हर 164.79 पृथ्वी वर्षों में पूरा करता है। हल्के नीले रंग की वस्तु यूरेनस का प्रतिनिधित्व करती है।

नेप्च्यून एवं सूर्य के बीच की औसत दूरी 4.50 अरब किमी (लगभग 30.1 एयू) है, एवं यह औसतन हर 164.79 ± 0.1 वर्षों में सूर्य की परिक्रमा पूरी करता है।

11 जुलाई 2011 को नेप्च्यून ने 1846 में इसकी खोज के बाद से अपनी पहली द्रव्यकेंद्रीयEn परिक्रमा पूरी की, हालांकि यह हमारे आसमान में अपनी सटीक खोज स्थिति में नहीं दिखा था, क्योंकि पृथ्वी अपनी 365.25 दिवसीय परिक्रमा में एक भिन्न स्थान में थी। Because of the motion of the Sun in relation to the barycentre of the Solar System, on 11 जुलाई Neptune was also not at its exact discovery position in relation to the Sun; if the more common heliocentric coordinate system is used, the discovery longitude was reached on 12 जुलाई 2011.[3][9][10]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Hamilton, Calvin J. (4 अगस्त 2001). "Neptune". Views of the Solar System. http://www.solarviews.com/eng/neptune.htm. अभिगमन तिथि: 13 अगस्त 2007. 
  2. Yeomans, Donald K.. "HORIZONS Web-Interface for Neptune Barycenter (Major Body=8)". JPL Horizons On-Line Ephemeris System. http://ssd.jpl.nasa.gov/horizons.cgi?find_body=1&body_group=mb&sstr=8. अभिगमन तिथि: 8 अगस्त 2007.  At the site, go to the "web interface" then select "Ephemeris Type: Elements", "Target Body: Neptune Barycenter" and "Center: Sun".
  3. Munsell, K.; Smith, H.; Harvey, S. (13 नवम्बर 2007). "Neptune: Facts & Figures". NASA. http://solarsystem.nasa.gov/planets/profile.cfm?Object=Neptune&Display=Facts. अभिगमन तिथि: 14 अगस्त 2007. 
  4. Seligman, Courtney. "Rotation Period and Day Length". http://cseligman.com/text/sky/rotationvsday.htm. अभिगमन तिथि: 13 अगस्त 2009. 
  5. Williams, David R. (1 सितंबर 2004). "Neptune Fact Sheet". NASA. http://nssdc.gsfc.nasa.gov/planetary/factsheet/neptunefact.html. अभिगमन तिथि: 14 अगस्त 2007. 
  6. "The MeanPlane (Invariable plane) of the Solar System passing through the barycenter". 3 अप्रैल 2009. http://home.surewest.net/kheider/astro/MeanPlane.gif. अभिगमन तिथि: 10 अप्रैल 2009.  (produced with Solex 10 written by Aldo Vitagliano; see also Invariable plane)
  7. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; Seidelmann_Archinal_A.27hearn_et_al._2007 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  8. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; ephemeris नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  9. Nancy Atkinson (26 अगस्त 2010). "Clearing the Confusion on Neptune’s Orbit". Universe Today. http://www.universetoday.com/72088/clearing-the-confusion-on-neptune%E2%80%99s-orbit/. अभिगमन तिथि: 2011-07-10.  (Bill Folkner at JPL)
  10. Anonymous (16 नवम्बर 2007). "Horizons Output for Neptune 2010–2011". http://home.surewest.net/kheider/astro/nept2011.txt. अभिगमन तिथि: 25 फ़रवरी 2008. —Numbers generated using the Solar System Dynamics Group, Horizons On-Line Ephemeris System.
  वा  
सौर मण्डल
सूर्य बुध शुक्र चन्द्रमा पृथ्वी Phobos and Deimos मंगल सीरिस) क्षुद्रग्रह बृहस्पति बृहस्पति के उपग्रह शनि शनि के उपग्रह अरुण अरुण के उपग्रह वरुण के उपग्रह नेप्चून Charon, Nix, and Hydra प्लूटो ग्रह काइपर घेरा Dysnomia एरिस बिखरा चक्र और्ट बादलSolar System XXVII.png
सूर्य · बुध · शुक्र · पृथ्वी · मंगल · सीरीस · बृहस्पति · शनि · अरुण · वरुण · यम · हउमेया · माकेमाके · एरिस
ग्रह · बौना ग्रह · उपग्रह - चन्द्रमा · मंगल के उपग्रह · क्षुद्रग्रह · बृहस्पति के उपग्रह · शनि के उपग्रह · अरुण के उपग्रह · वरुण के उपग्रह · यम के उपग्रह · एरिस के उपग्रह
छोटी वस्तुएँ:   उल्का · क्षुद्रग्रह (क्षुद्रग्रह घेरा‎) · किन्नर · वरुण-पार वस्तुएँ (काइपर घेरा‎/बिखरा चक्र) · धूमकेतु (और्ट बादल)


सन्दर्भ त्रुटि: "lower-alpha" नामक सन्दर्भ-समूह के लिए <ref> टैग मौजूद हैं, परन्तु समूह के लिए कोई <references group="lower-alpha"/> टैग नहीं मिला। यह भी संभव है कि कोई समाप्ति </ref> टैग गायब है।