क्वार्क

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Three colored balls (symbolizing quarks) connected pairwise by springs (symbolizing gluons), all inside a gray circle (symbolizing a proton). The colors of the balls are red, green, and blue, to parallel each quark's color charge. The red and blue balls are labeled "u" (for "up" quark) and the green one is labeled "d" (for "down" quark).
क्वार्क

क्वार्क {quark} मूलभूत कण में से एक है, जिससे पदार्थ बनता है। प्रोटॉनन्यूट्रॉन इन्ही मूलभूत कणो से बने होते है। क्वार्क को उनके फ्लेवर से जाना जाता है और यह छ्: प्रकार के होते हैं:-अप क्वार्क, चार्म क्वार्क, टाप क्वार्क, डाउन क्वार्क, स्ट्रेन्ज क्वार्क और बाटम क्वार्क। इनके प्रतिक चिन्ह क्रमश: u, c, t, d, s और b है। पहले तीन प्रकार के क्वार्क अप-टाइप क्वार्क तथा शेष डाउन-टाइप क्वार्क कहलाते हैं। अप और डाउन क्वार्क का द्रव्यमान सभी क्वार्को में सबसे कम होता है। भारी द्रव्यमान वाले क्वार्क, द्रव्यमान के क्षय के कारण तेजी से अप व डाउन क्वार्क में परिवर्तित होते हैं, क्योंकि अप व डाउन क्वार्क साधारणतया स्थायी होते हैं और ब्रह्मान्ड में सबसे अधिक पाये जाते हैं। क्वार्क का प्रतिकण {anti partical} एन्टी-क्वार्क कहलाता है,प्रत्येक प्रकार के क्वार्क के प्रतिकण होते है,जो क्रमश: एन्टी-अप क्वार्क---- एन्टी-बाटम क्वार्क कहलाते है।

क्वार्क अकेले नहीं पाये जाते,वरन हमेंशा समूह में पाये जाते है।क्वार्क से मिलकर बनने वाले अवयव हेड्रॉन {hadrons} कहलाते है। तीन क्वार्क के संयोंजन से बेर्यॉन {baryons},तीन एन्टी-क्वार्क के संयोजन से एन्टी-बेर्यॉन तथा एक क्वार्क एवं एक एन्टी-क्वार्क के संयोजन से मेसॉन {mesons} बनते है। दो अप क्वार्क एवं एक डाउन क्वार्क के संयोजन से प्रोटॉन तथा एक अप क्वार्क एवं दो डाउन क्वार्क के संयोजन से न्यूट्रॉन बनते है। बेर्यान,मेसान,प्रोटान,न्यूट्रान, न्यूक्लिआन {एक प्रोटान + एक न्यूट्रॉन} और परमाणु नभिक,यह सभी हेड्रॉन कहलाते है क्योंकि सभी क्वार्क से मिलकर बने होते है। क्वार्क का सांख्यिकीय व्यवहार फर्मिऑन होता है।

क्वार्क में कई प्रकार के गुण होते है,जैसे विद्युत आवेश, कलर चार्ज {color charge},भ्रमि या प्रचक्रण {spin} और द्रव्यमान। प्रतिकण में भी यह सभी गुण पाये जाते है,परंतु विपरीत होते है।

विद्युत आवेश[संपादित करें]

अप-टाइप क्वार्क का विद्युत आवेश +२/३ और डाउन-टाइप क्वार्क का -१/३ होता है। इनके प्रतिकण {anti partical} का आवेश विपरीत क्रमश: -२/३ और +१/३ होता है। क्वार्क के संयोजन से बनने वाले कणो का विद्युत आवेश,उसमें पाये जाने वाले क्वार्को के कुल विद्युत आवेशो के योग के बराबर होता है। जैसे:- प्रोटान का विद्युत आवेश, दो अप-क्वार्क और एक डाउन-क्वार्क् के विद्युत आवेशो के कुल योग के बराबर अर्थात होता है। इसी तरह न्युट्रान का विद्युत आवेश शून्य होता है।



कण संयोजन विद्युत आवेश्
प्रोटान 2u+d {+२/३}+{+२/३}+{-१/३}=१
न्यूट्रान u+2d {+२/३}+{-१/३}+{-१/३}=०

कलर चार्ज[संपादित करें]

क्वार्क में तीन तरह के कलर चार्ज पाये जाते है- हरा, लाल, नीला। एन्टी क्वार्क में तीन एन्टी कलर चार्ज पाये जाते है-मेजेन्टा, स्यान और पीला। कलर चार्ज केवल क्वार्क और ग्लुऑन में पाया जाता है।


भ्रमि[संपादित करें]

क्वार्क की भ्रमि या प्रचक्रण १/२ होती है।


संदर्भ व स्त्रोत[संपादित करें]