२०२२ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्षीय निर्वाचन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
२०२२ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्षीय निर्वाचन
INC Flag Official.jpg
← २०१७ १७ अक्टूबर २०२२ निर्धारित किए जाने हेतु →
  ShashiTharoor.jpg Digvijaya Singh (cropped).jpg
उम्मीदवार शशि थरूर दिग्विजय सिंह
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
गृह राज्य केरल मध्य प्रदेश
प्रतिशत निर्धारित किए जाने हेतु निर्धारित किए जाने हेतु
सदस्यों के मत निर्धारित किए जाने हेतु निर्धारित किए जाने हेतु

वर्तमान अध्यक्ष

सोनिया गांधी



२०२२ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्षीय निर्वाचन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस दल के अध्यक्ष पद हेतु २०२२ में हो रहा निर्वाचन है। २०१९ में लोक सभा हेतु साधारण निर्वाचन में कांग्रेस की हार के उपरान्त तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के पदत्याग के कारण इस निर्वाचन की प्रक्रिया हुई। गाँधी ने १० अगस्त २०१९ को अध्यक्ष पद से त्याग किया था। तदुपरान्त अखिल भारतीय कांग्रेस समिति द्वारा पूर्व अध्यक्षा सोनिया गाँधी को कार्यवाहक अध्यक्ष चुना गया था। कोविड-१९ विश्वमारी के कारण अध्यक्षीय निर्वाचन को २०२२ तक स्थगित कर दिया गया था। अगस्त २०२२ में कांग्रेस ने अक्टूबर २०२२ में निर्वाचन नियत किया।

निर्वाचन १७ अक्टूबर २०२२ को होगा एवं परिणाम १९ अक्टूबर २०२२ को अपेक्षित है।[1][2]

निर्वाचन का कार्यक्रम[संपादित करें]

क्र० सं० कार्यक्रम दिनांक
1. निर्वाचन की अधिसूचना जारी करने की तिथि २२ सितंबर २०२२
2. नामांकन करने की प्रथम तिथि २४ सितंबर २०२२
3. नामांकन करने की अन्तिम तिथि ३० सितंबर २०२२
4. नामांकन पत्रों की जांच की तिथि १ अक्टूबर २०२२
5. नामांकन वापस लेने की अन्तिम तिथि ८ अक्टूबर २०२२
6. निर्वाचन अभियान ८ से १६ अक्टूबर २०२२
7. मतदान की तिथि १७ अक्टूबर २०२२
8. मतगणना की तिथि १९ अक्टूबर २०२२

पृष्ठभूमि[संपादित करें]

राहुल गांधी को सर्वसम्मति से २०१७ में अध्यक्ष निर्वाचित किया गया था।[3] हालांकि, २०१९ के लोक सभा साधारण निर्वाचन में पार्टी के असंतोषजनक प्रदर्शन के बाद, गांधी ने पदत्याग कर दिया।[4] सोनिया गांधी को अखिल भारतीय कांग्रेस समिति ने अनन्तिम अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया था। सोनिया गांधी।[5] राहुल गांधी की माँ, और १९९८ से २०१७ तकदल की सबसे लंबे समय तक अध्यक्ष रहीं।[6]

पिछला निर्वाचन[संपादित करें]

दल का पिछला अध्यक्षीय निर्वाचन २०१७ में हुआ था, जिसमें राहुल गांधी ने सर्वसम्मति से विजयी हुए थे। उससे पूर्व निर्वाचन २००१ में हुआ था, जब सोनिया गांधी ने जितेंद्र प्रसाद को ९७% के भारी अंतर से पराजित किया था।[7] बिना किसी निर्वाचन के उन्हें बार-बार इस पद के लिए निर्वाचित किया गया था।

विवाद[संपादित करें]

पारदर्शिता पर विवाद[संपादित करें]

कोंग्रेस नेताओं मनीष तिवारी, शशि थरूर और कार्ति चिदंबरम ने अध्यक्षीय निर्वाचन की पारदर्शिता पर सवाल उठाए थे।[8] इन काग्रेसियों ने अध्यक्षीय निर्वाचन के लिए निर्वाचक मंडल के सदस्यों की सूची को प्रकाशित करने की माँग की थी। कांग्रेस सांसद तिवारी ने निर्वाचन में मत देने के लिए योग प्रत्यायुक्तों की सूची दल की वेबसाइट पर डालने को कहा था।

तिवारी ने ट्वीट किया था "मधुसूदन मिस्त्री जी से पूरे सम्मान से पूछना चाहता हूँ कि निर्वाचक सूची के सार्वजनिक रूप से उपलब्ध हुए बिना निष्पक्ष और स्वतंत्र निर्वाचन कैसे हो सकता है? निष्पक्ष और स्वतंत्र निर्वाचन का आधार यही है कि प्रत्यायुक्तों के नाम और पते कांग्रेस पार्टी की वेबसाइट पर पारदर्शी तरीके से प्रकाशित होने चाहिए।"[9] चिदंबरम ने निर्वाचन पारदर्शिता पर प्रश्नचिह्न लगाते हुए ट्वीट कर लिखा था "प्रत्येक निर्वाचन के लिए एक सुपरिभाषित और स्पष्ट निर्वाचक मंडल की आवश्यकता होती है। निर्वाचक मंडल के गठन की प्रक्रिया भी स्पष्ट, सुपरिभाषित और पारदर्शी होनी चाहिए। एक तदर्थ निर्वाचक मंडल कोई निर्वाचक मंडल नहीं है।"[10] इसका तिवारी ने समर्थन किया।[11] कई कांग्रेसियों ने इस माँग को सही बताया किन्तु तरीके को गलत कहा।[12] मनीष तिवारी, शशि थरूर, कार्ति चिदंबरम, प्रद्युत बोरदोलोई, अब्दुल खालीक पार्टी ने दल के केंद्रीय निर्वाचन प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री को इस विषय के सम्बन्ध में चिट्ठी भी लिखी थी।[13]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "17 अक्टूबर को चुनाव, 19 को मिलेगा कांग्रेस को नया अध्यक्ष, CWC में इलेक्शन शेड्यूल की घोषणा". आज तक. 2022-08-28. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  2. "Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव 17 अक्तूबर को, खुर्शीद बोले- राहुल अब भी पहली पसंद". Amar Ujala. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  3. "राहुल गांधी बने कांग्रेस अध्यक्ष, मोदी ने भी दी बधाई, कहा- सफल हो कार्यकाल". आज तक. 2017-12-11. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  4. Hindi, Dainik Bhaskar. "राहुल गांधी ने छोड़ा कांग्रेस अध्यक्ष पद, इस्तीफा मंजूर होने तक बने रहेंगे अध्यक्ष". Dainik Bhaskar Hindi (hindi में). अभिगमन तिथि 2022-09-20.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  5. "नए नेता के चयन तक सोनिया गांधी रहेंगी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष, यह होंगी चुनौतियां". Amar Ujala. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  6. "19 साल पहले जब सोनिया बनी थीं अध्यक्ष, तब कहां खड़ी थी कांग्रेस?". आज तक. 2017-12-04. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  7. "Congress President: 22 साल पहले सोनिया गांधी और जितेंद्र प्रसाद के बीच हुआ था मुकाबला, रोचक किस्‍सा पढ़ें". Prabhat Khabar. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  8. "कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव प्रक्रिया में पारदर्शिता की मांग, शशि थरूर समेत कई नेताओं ने उठाए सवाल". News18 हिंदी. 2022-08-31. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  9. "https://twitter.com/manishtewari/status/1564820923995549696". Twitter. अभिगमन तिथि 2022-09-20. |title= में बाहरी कड़ी (मदद)
  10. "https://twitter.com/kartipc/status/1564812147095642112". Twitter. अभिगमन तिथि 2022-09-20. |title= में बाहरी कड़ी (मदद)
  11. "https://twitter.com/manishtewari/status/1564853400684359680". Twitter. अभिगमन तिथि 2022-09-20. |title= में बाहरी कड़ी (मदद)
  12. "मनीष तिवारी की मांग वाजिब, प्रक्रिया पर सवाल उठाना गलत, कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव पर बोले संदीप दीक्षित". आज तक. 2022-08-31. अभिगमन तिथि 2022-09-20.
  13. "अध्यक्ष के चुनाव से पहले थरूर समेत 5 कांग्रेस नेताओं की चिट्ठी, बोले- पारदर्शिता की चिंता है". The Lallantop (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2022-09-20.