हम किसी से कम नहीं

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हम किसी से कम नहीं
हम किसी से कम नहीं.jpg
हम किसी से कम नहीं का पोस्टर
निर्देशक नासिर हुसैन
निर्माता नासिर हुसैन
लेखक सचिन भौमिक
संगीतकार आर॰ डी॰ बर्मन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 25 अगस्त, 1977
समय सीमा मिनट
देश भारत
भाषा हिन्दी

हम किसी से कम नहीं 1977 में बनी हिन्दी भाषा की संगीतमय फिल्म है। इसका निर्माण और निर्देशन नासिर हुसैन ने किया। यह फिल्म "सुपर हिट" रही थी और अब ज्यादातर आर॰ डी॰ बर्मन द्वारा इसके संगीतबद्ध गीतों के लिए याद की जाती है। फिल्म में तारिक खान, ऋषि कपूर, काजल किरन, अमजद ख़ान, जीनत अमान, ओम शिवपुरी, जलाल आगा और टॉम ऑल्टर किरदार निभाते हैं।

संक्षेप[संपादित करें]

कहानी एक अमीर आदमी के साथ शुरू होती है जो अफ्रीका में अपनी पूरी संपत्ति बेच रहा है और उसे हीरे में परिवर्तित कर रहा है। वह उन्हें बेल्ट में ले जाता है। उसे वाशरूम में दिल का दौरा पड़ता है और वह अपने बेटे राजेश (ऋषि कपूर) को हीरे देने के लिए एक यात्री से अनुरोध करता है।

उस आदमी का गुंडों द्वारा पीछा किया जाता है जो हीरे के पीछे होते हैं। वह उन्हें एक साइकिल के टूलबॉक्स में छुपाता है। साइकिल संजय कुमार (तारिक खान) की होती है, जो इस बात से अनजान हैं कि उसके साइकिल बॉक्स में 25 करोड़ रुपए के हीरे छिपे हुए हैं। सौदागर सिंह (अमजद ख़ान) हीरे के पीछे है। वह और उसका साथी रणबीर कुमार दाना राजेश को एक झूठी कहानी बताते हुए फँसाते हैं।

उसके बाद पूरी साजिश आगे बढ़ती है। राजेश ने मनजीत कुमार दाना के रूप में नाटक करके काजल (काजल किरन) से प्यार किया, जो अपने बचपन के दोस्त संजय से प्यार करती है। दोनों के बीच बैठकों की एक श्रृंखला होती है। कुछ साल पहले जब बिना माँ की काजल के पिता किशोरीलाल गहरे वित्तीय संकट में थे, संजय के पिता ने उन्हें आश्रय दिया था। वो अब बेहद समृद्ध हो गए हैं। अब वह संजय और काजोल का विवाह कराने का वादा भूल गए हैं।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

इस फिल्म के गीत "क्या हुआ तेरा वादा" के लिये मोहम्मद रफी को सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायन के लिये फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार के अलावा राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार भी मिला था।[1] यह उनका पहला और अंतिम राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार है। गीत "बचना ऐ हसीनो" को 2008 की फ़िल्म बचना ऐ हसीनो में शीर्षक के रूप में प्रयोग किया गया जिसमें इसका रीमिक्स संस्करण भी शामिल था।

सभी गीत मजरुह सुल्तानपुरी द्वारा लिखित; सारा संगीत आर॰ डी॰ बर्मन द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."तुम क्या जानो मोहब्बत क्या है"आर॰ डी॰ बर्मन1:36
2."दिल क्या महफिल है"किशोर कुमार1:49
3."ऐ दिल क्या महफिल है"किशोर कुमार2:42
4."हम किसी से कम नहीं"मोहम्मद रफी, आशा भोंसले4:50
5."चाँद मेरा दिल चाँदनी हो तुम"मोहम्मद रफी2:57
6."मिल गया हमको साथी मिल गया"आशा भोंसले, किशोर कुमार3:52
7."क्या हुआ तेरा वादा"मोहम्मद रफी, सुषमा श्रेष्ठ4:22
8."हमको है यारा तेरी यारी"किशोर कुमार, आशा भोंसले4:29
9."बचना ऐ हसीनो लो मैं आ गया"किशोर कुमार6:24
10."ये लड़का हाय अल्लाह कैसा है दीवाना"आशा भोंसले, मोहम्मद रफी5:29

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

वर्ष नामित कार्य पुरस्कार परिणाम
1978 मोहम्मद रफी ("क्या हुआ तेरा वादा") राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार - सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक पुरस्कार जीत
मोहम्मद रफी ("क्या हुआ तेरा वादा") फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक पुरस्कार जीत
मुनीर खान फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ छायाकार पुरस्कार जीत
आर॰ डी॰ बर्मन फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक पुरस्कार नामित
सुषमा श्रेष्ठ फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार नामित
तारिक खान फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार नामित

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. मोहनानंद, झा (2012). भारत के महान संगीतज्ञ (संस्करण 1 संस्करण). दिल्ली: प्रभात प्रकाशन. पृ॰ 203. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789380183428.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]