सौभाग्य योजना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
PM Modi 2015.jpg यह लेख इसका एक भाग है।
नरेन्द्र मोदी

गुजरात विधान सभा चुनाव
2002  • 2007  • 2012


जनमत सर्वेक्षण


भारत के प्रधान मंत्री
लोक सभा चुनाव, 2014  • शपथग्रहण  • भारतीय आम चुनाव, 2019  • दूसरा शपथ ग्रहण


वैश्विक योगदान


भारत

--- Signature of Narendra Modi (Hindi).svg

Prime Minister of India

सौभाग्य योजना या प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना घरों को बिजली प्रदान करने के लिए भारत सरकार की एक परियोजना है।[1][2]इस परियोजना की घोषणा सितंबर 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी, जिन्होंने कहा था कि दिसंबर 2018 तक विद्युतीकरण प्रक्रिया को पूरा करना है।[3] 2011 के सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) के माध्यम से पहचाने जाने वाले कुछ घरों में मुफ्त बिजली कनेक्शन के लिए पात्र होंगे, जबकि अन्य से ₹ ५०० फीस भुगतान की जायेगी।[4][5] १६ नवंबर २०१ को सरकार ने योजना के बारे में जानकारी प्रसारित करने के लिए एक वेबसाइट saubhagya.gov.in लॉन्च की। [6]परियोजना का कुल परिव्यय रुपये 16, 320 करोड़ है जबकि सकल बजटीय सहायता (GBS) रुपये 12,320 करोड़ है। लाभार्थी परिवार को एक एलईडी लाइट, एक डीसी पावर प्लग मिलेगा। इसमें 5 साल के लिए मीटर की मरम्मत और रखरखाव भी शामिल है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "PM launches 'Saubhagya' scheme to provide power to all". The Hindu Business Online. 25 September 2017.
  2. Rahul Tongia (31 October 2017). "Can the Saubhagya scheme work?". Brookings.
  3. "Government launches Saubhagya scheme for household electrification". The Economic Times. 25 September 2017.
  4. E Prachee Mishra (5 October 2017). "Electrification in India: 'Saubhagya' scheme". The PRS Blog. मूल से 17 February 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 February 2020.
  5. "PM Modi's 16,000-Crore Power Point: Free Electricity Connections For Poor". NDTV. 26 September 2017.
  6. "Govt launches Saubhagya scheme web portal to register citizens for free electricity". India Today. 25 November 2017.