साँचा:आज का आलेख २७ मार्च २००९

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
देवताओं की साल व वीरों का दालान भारत के राजस्थान प्रान्त में स्थित जोधपुर नगर के मंडोर बगीचे में स्थित एक दर्शनीय स्थल है। राजस्थानी भाषा में साल का अर्थ कक्ष और दालान का अर्थ बरामदा है। अजीत पोल से प्रवेश करते ही एक लम्बा बरामदा दिखाई पड़ता है इसे ही देवताओं की साल व वीरों का दालान कहा जाता है। इस बरामदे में विभिन्न देवताओं व विभिन्न स्थानीय वीरों की विशालकाय प्रतिमाओं का समूह बना है, सभी प्रतिमाएँ एक ही समूची चट्टान में उत्कीर्ण की गई है। ये शिला पर उत्कीर्ण प्रतिमाएँ इस बात की परिचायिक हैं कि मारवाड़ राज्य में कला की परम्परा १८वी. सदी में भी पर्याप्त विकसित अवस्था में विद्यमान थी। इस देवताओं की साल में वीरों का दालान का निर्माण कार्य जोधपुर के महाराजा अजीत सिंह जी (१७०७-१७२४) के शासन काल में हुआ था। विस्तार में...