सदस्य वार्ता:Kosare maharaj

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्वागत! Crystal Clear app ksmiletris.png नमस्कार Kosare maharaj जी! आपका हिन्दी विकिपीडिया में स्वागत है।

-- नया सदस्य सन्देश (वार्ता) 18:59, 7 अगस्त 2017 (UTC)[उत्तर दें]

"ठण्ड में हाथ और घमंड में दिमाग काम नहीं करते!![संपादित करें]

"ठण्ड में हाथ और घमंड में दिमाग काम नहीं करते!!" घमंड से आदमी फूल सकता है, फल नहीं सकता. जो मनुष्य अहंकार करता हैं, उसका एक दिन पतन अवश्य ही होगा. घमंड से आदमी का नुकसान होता है। अहंकार से आदमी अपने आप को खो देता है और जीवन भर अकेला रहता है क्योंकि घमंडी आदमी से कोई भी बात करना पसंद नहीं करता। किसी भी परिस्तिथि में इन्सान को घमंड नहीं करना चाहिए।

घमंड न करना जिंदगी में तक़दीर बदलती रहती है, शीशा वही रहता है बस तस्वीर बदलती रहती है। जन्म दुसरे ने दिया, नाम दुसरे ने दिया, शिक्षा दुसरे ने दी, रिश्ता भी दुसरे से जुड़ा, काम करना भी दुसरे ने सिखाया, अंत में शमशान भी दुसरे ले जायेंगे। तुम्हारा इस संसार में है क्या जिसका तुम घमंड करते हो।

आपको जो कुछ मिला है उसका घमंड मत करो, घमंड और ईर्ष्या करने वाले लोगों को कभी मन की शांति नहीं मिलती। ज्ञानी इंसान कभी घमंड नहीं करता और जिसे घमंड होता है ज्ञान उससे कोसों दूर रहता है। इस संसार में हर किसी को अपने ज्ञान का घमंड है लेकिन किसी को भी अपने घमंड का ज्ञान नहीं है मेरे हिसाब से तो घमंड जीवन में बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए। आपने सुना भी होगा "फल देने वाले पेड़ हमेशा झुके होते है। इसलिए घमंड के बिना ही जीवन व्यतीत किया जाए तो अच्छा है।

जो व्यक्ति बिल्कुल धमंड नहीं करता वह इस संसार का सबसे सुखी व्यक्ति होगा। अहंकार आपको उठने नहीं देता और स्वाभिमान आपको गिरने नहीं देता।

अपनी उम्र और पैसों पर कभी घमंड मत करना क्योंकि जो चीजें गिनी जा सके वो यकीनन खत्म हो जाती है।

कभी भी अपनी शोहरत पर घमंड मत करना, जीतने वाला भी अपना पुरस्कार झुककर लेता है। ( कोसारे महाराज ) Kosare maharaj (वार्ता) 18:26, 7 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

सकारात्मक ऊर्जा का यह प्रवाह।[संपादित करें]

मन के भीतर की सकारात्मक वैचारिक ऊर्जा बड़ी से बड़ी समस्याओं को हल करने की राह सुझाती है। जीवन की प्रतिकूल परिस्थितियों में भी खुद को दृढ़ता और संयम के साथ थामे रखता है ये सकारात्मक ऊर्जा का यह प्रवाह। इसीलिए मनोवैज्ञानिक भी मानते हैं कि अगर बीमार भी है तो भी बीमारी की बात रोगी को कम से कम करनी चाहिए । किसी शारीरिक और मानसिक व्याधि को बार बार याद करना भी नकारात्मकता लाता है। आज के दौर में जब दिल और दिमाग को स्वस्थ और तनाव मुक्त रखना मुश्किल होता जा रहा है। विचार प्रवाह की दिशा को समझना ज़रूरी है। सही और सार्थक सोच के ज़रिए ही तनाव को कम किया जा सके तो जीवन काफी बेहतर हो सकता है। सकारात्मक चिंतन की अनमोल सौगात जीवन को अर्थपूर्ण दिशा दे सकती है। सकारात्मक सोच से चाहे कार्यक्षेत्र की समस्याएं हों या पारिवारिक परेशानी, हर जगह सफलता पाना संभव है। सकारात्मक दृष्टिकोण और आत्मविश्वास के बलबूते पर हर काम किया जा सकता है। विचारों की संगति का प्रभाव जीवन की उन्नति पर भी पड़ता है। सकारात्मक सोच आक्रामता को दूर कर विचारों को दृढ़ता देती है। जिसकी आज के दौर में बहुत अधिक आवश्यकता है। तभी तो सम्पूर्ण स्वास्थ्य की बात होती है तो हमारी मेंटल हैल्थ का भी जि़क्र होता है। ऐसे में हम स्वयं समझ सकते हैं कि हमारे विचार, हमारी सोच, मानसिक स्वास्थ्य पर कितना प्रभाव डालती होगी? विचारों की इस नींव का आधार अगर सकारात्मक हो, तो संपूर्ण स्वास्थ्य पाया जा सकता है। ( कोसारे महाराज ) Kosare maharaj (वार्ता) 18:30, 7 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

मैं एक समाज सेवक क्यों बनना चाहता हूँ?[संपादित करें]

सामाजिक कार्य वो चीज है जो मुझे ख़ुशी देता है और एक तरह की संतुष्टि भी। दान आदि के महत्त्व के बारे में हमारी प्राचीन पौराणिक पुस्तकों में भी उल्लेख किया गया है। मगर यहाँ कुछ ही लोग हैं जो इसका पालन करते हैं। हममें से कुछ लोग दान आदि सिर्फ इसलिए करते हैं ताकि उन्हें स्वर्ग में जगह मिल सके। लेकिन सामाजिक कार्य या दान-पुण्य एक ऐसी चीज है जो ह्रदय से की जानी चाहिए और केवल उन लोगों द्वारा की जानी चाहिए जो वास्तव में दूसरों की मदद करना चाहते हैं।

मेरी प्रेरणा

हर किसी को अपने काम से प्यार करने की बस कोई एक वजह चाहिए होती है और मेरी वजह हैं मेरी माँ। मैंने उनसे सीखा है और मैं उनकी तरह ही बनना चाहता हूँ। मैंने उन्हें गरीबों और लाचारों को खाना खिलाते देखा है, जो असहाय थे। हमारे दरवाजे से कोई भी भूखा नहीं जाता था। ये सभी चीजें मुझे काफी ज्यादा प्रेरित करती हैं और में भी एक समाज सेवक के तौर पर कुछ करना चाहता हूँ। Kosare maharaj (वार्ता) 18:57, 7 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

मेरा परिचय[संपादित करें]

मेरा नाम दिलीप है लेकिन मेरा निक नेम है कोसारे महाराज है। मेरे पिता का नाम श्रीराम है मेरा सरनेम कोसारे हैं आम तौर पर मुझे मेरे निक नेम से बुलाते हैं। मेरी जन्म तारीख 16/06/1965 हैं। मेरी जन्मभूमि नागपुर हैं। मेरी शिक्षा B.A.. ग्रेजुएशन है मेरी पढ़ाई लिखाई दीनानाथ हाई स्कूल नागपुर में हो चुकी है मैं बीएसएनएल कर्मचारी था 25 वर्ष नौकरी की है मैंने 5 वर्षों पहले ही 31/03/2020 को बीएसएनल सरकारी नौकरी से सेवानिवृत्ती ली है मेरी एक संस्था है सन 2002 को स्थापना की थी मैं उस संस्था का संस्थापक उस संस्था का नाम है मानव हित कल्याण सेवा संस्था अभी मेरा काम समाज सेवक का चालू है Kosare maharaj (वार्ता) 19:44, 7 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

संस्थापक :- डि. एस. कोसारे जन्म तारीख  :- १६/०६/१९६५ जन्म भूमि :- नागपुर शिक्षण पात्रता :- बी.ए. ग्रेजुएशन मेरी पढ़ाई लिखाई दीनानाथ हाई स्कूल नागपुर में हो चुकी हैं मेरा नाम दिलीप हैं पिता का नाम श्रीराम हैं वैसे मेरा उपनाम कोसारे हैं लेकिन मेरा निक नेम कोसारे महाराज के नाम से मुझे समाज में जानते हैं संस्था :- मानव हीत कल्याण सेवा संस्था नागपुर संस्था स्थापना :- सन् -२००२ संस्था रजि. नंबर :-एफ -१९६४० काम :- समाज कार्य नौकरी :- बीएसएनएल सरकारी कर्मचारी २५ वर्ष नौकरी की है। स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति :- बीएसएनएल सरकारी कंपनी से ५ वर्ष पहले ही नौकरी छोड़ दी हैं। काम करने की शैली :- समाज सेवा और आध्यात्मिक क्षेत्रों में रूचि Kosare maharaj (वार्ता) 08:19, 8 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

मानव हित कल्याण सेवा संस्थान नागपुर पृष्ठ को शीघ्र हटाने का नामांकन[संपादित करें]

नमस्कार, आपके द्वारा बनाए पृष्ठ मानव हित कल्याण सेवा संस्थान नागपुर को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के मापदंड व2 के अंतर्गत शीघ्र हटाने के लिये नामांकित किया गया है।

व2 • परीक्षण पृष्ठ

इसमें वे पृष्ठ आते हैं जिन्हें परीक्षण के लिये बनाया गया है। यदि आपने यह पृष्ठ परीक्षण के लिये बनाया था तो उसके लिये प्रयोगस्थल का उपयोग करें। यदि आप विकिपीडिया पर हिन्दी टाइप करना सीखना चाहते हैं तो देवनागरी में कैसे टाइप करें पृष्ठ देखें।

यदि यह पृष्ठ अभी हटाया नहीं गया है तो आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। यदि आपको लगता है कि यह पृष्ठ इस मापदंड के अंतर्गत नहीं आता है तो आप पृष्ठ पर जाकर नामांकन टैग पर दिये हुए बटन पर क्लिक कर के इस नामांकन के विरोध का कारण बता सकते हैं। कृपया ध्यान रखें कि शीघ्र हटाने के नामांकन के पश्चात यदि पृष्ठ नीति अनुसार शीघ्र हटाने योग्य पाया जाता है तो उसे कभी भी हटाया जा सकता है।

रोहितबातचीत 07:39, 8 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

परिचय:-[संपादित करें]

संस्थापक :- डि. एस. कोसारे जन्म तारीख  :- १६/०६/१९६५ जन्म भूमि :- नागपुर शिक्षण पात्रता :- बी.ए. ग्रेजुएशन मेरी पढ़ाई लिखाई दीनानाथ हाई स्कूल नागपुर में हो चुकी हैं मेरा नाम दिलीप हैं पिता का नाम श्रीराम हैं वैसे मेरा उपनाम कोसारे हैं लेकिन मेरा निक नेम कोसारे महाराज के नाम से मुझे समाज में जानते हैं संस्था :- मानव हीत कल्याण सेवा संस्था नागपुर संस्था स्थापना :- सन् -२००२ संस्था रजि. नंबर :-एफ -१९६४० काम :- समाज कार्य नौकरी :- बीएसएनएल सरकारी कर्मचारी २५ वर्ष नौकरी की है। स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति :- बीएसएनएल सरकारी कंपनी से ५ वर्ष पहले ही नौकरी छोड़ दी हैं। काम करने की शैली :- समाज सेवा और आध्यात्मिक क्षेत्रों में रूचि Kosare maharaj (वार्ता) 08:16, 8 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

जरूरतमंद लोगों की मदद करना संस्था का उद्देश्य[संपादित करें]

जरूरतमंद लोगों की मदद करना संस्था का उद्देश्य संस्था कर रही गरीबों की मदद के साथ समाज सेवा

संस्था -मानव हित कल्याण सेवा संस्था नागपुर कोसारे महाराज :- नागपुर मानव हित कल्याण सेवा संस्था नागपुर समिति के पदाधिकारी सदस्य मिलकर सेवा कार्यों को आगे बढ़ा रहे हैं। विगत एक वर्ष से समिति द्वारा गरीब निर्धन लोगों की मदद की दिशा में कार्य किए जा रहे हैं। सर्दी और बरसात के मौसम में गरीबों में कंबल वितरण के अलावा जरूरतमंद लोगों की हर संभव मदद के लिए प्रयासरत इस संस्था के पदाधिकारी समय-समय पर आयोजन करते हैं। समिति के सलाहकार विजय चौधरी ने बताया कि एसोसिएशन अस्पतालों में जाकर मरीजों को फल वितरित करना समिति का प्रमुख कार्य है। इसके अलावा गरीबों की सेवा के लिए समिति हमेशा तत्पर रहती है।

स्वतंत्रतादिवस पर बांटे कंबल

हालही में समिति की ओर से स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नागपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भर्ती मरीजों में कंबल का वितरण किया गया। यहां समिति अध्यक्ष विजय चौधरी सहित कई पदाधिकारी सदस्यगण मौजूद रहे। मरीजों को कंबल के साथ चादरें भी बांटे गए। विजय चौधरी ने बताया कि समिति द्वारा हर साल बुजुर्गों को कंबल और गरीब वर्ग के युवा महिलाओं को स्वेटर ऊनी कपड़ों का वितरण भी किया जाता है।



पर्यावरणसुधार के कार्य

समितिके सदस्यों द्वारा समय-समय पर क्षेत्र में पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जा रहा है। इसके लिए स्कूलों में जाकर विद्यार्थियों को पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया जाता है। कई स्कूलों के विद्यार्थियों ने पौधरोपण भी किया है।

मरीजोंको बांटते हैं फल

मानव हित कल्याण सेवा संस्था नागपुर समिति अस्पतालों में फल बांटने का काम करती है। मेडिकल अस्पताल नागपुर में जाकर गरीब मरीजों को फल देती है। इसके साथ ही उन्हें कपड़े वितरित करती है। इस तरह के सेवा कार्य समिति के सभी पदाधिकारी सदस्य हमेशा ही एक साथ मिलकर करते रहते है।

सेवा कार्यों में मानव हित कल्याण सेवा संस्था नागपुर समिति के पदाधिकारी लगातार जुटे हुए हैं। समिति पदाधिकारी समय-समय पर जरूरतमंदों की मदद के लिए आयोजन करते रहते है Kosare maharaj (वार्ता) 08:18, 8 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

चित्र:श्री दिलीप श्रीराम कोसारे ( उपनाम ) कोसारे महाराज.jpg पृष्ठ को शीघ्र हटाने का नामांकन[संपादित करें]

नमस्कार, आपके द्वारा बनाए पृष्ठ चित्र:श्री दिलीप श्रीराम कोसारे ( उपनाम ) कोसारे महाराज.jpg को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के मापदंड फ़1 के अंतर्गत शीघ्र हटाने के लिये नामांकित किया गया है।

फ़1 • 14 दिन(2 सप्ताह) से अधिक समय तक कोई लाइसेंस न होना

इसमें वे सभी फाइलें आती हैं जिनमें अपलोड होने से दो सप्ताह के बाद तक भी कोई लाइसेंस नहीं दिया गया है। ऐसा होने पर यदि फ़ाइल पुरानी होने के कारण सार्वजनिक क्षेत्र(पब्लिक डोमेन) में नहीं होगी, तो उसे शीघ्र हटा दिया जाएगा।

ध्यान रखें कि विकिपीडिया पर केवल मुक्त फ़ाइलें ही रखी जा सकती हैं। यह फ़ाइल तभी रखी जा सकती है यदि इसका कॉपीराइट धारक इसे किसी मुक्त लाइसेंस के अंतर्गत विमोचित करे। यदि ऐसा न हो तो इसे विकिपीडिया पर नहीं रखा जा सकता। यदि इस फ़ाइल के कॉपीराइट की जानकारी आपको नहीं है तो आप चौपाल पर सहायता माँग सकते हैं। सहायता माँगते समय कृपया इसका स्रोत (जहाँ से आपको यह फ़ाइल मिली) अवश्य बताएँ। यदि आपको इसके कॉपीराइट की जानकारी है तो कृपया श्रेणी:कॉपीराइट साँचे में से कोई उपयुक्त साँचा फ़ाइल पर लगा दें।

यदि यह पृष्ठ अभी हटाया नहीं गया है तो आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। यदि आपको लगता है कि यह पृष्ठ इस मापदंड के अंतर्गत नहीं आता है तो आप पृष्ठ पर जाकर नामांकन टैग पर दिये हुए बटन पर क्लिक कर के इस नामांकन के विरोध का कारण बता सकते हैं। कृपया ध्यान रखें कि शीघ्र हटाने के नामांकन के पश्चात यदि पृष्ठ नीति अनुसार शीघ्र हटाने योग्य पाया जाता है तो उसे कभी भी हटाया जा सकता है।

केप्टनविराज (चर्चा) 12:50, 28 मई 2021 (UTC)[उत्तर दें]

Biography[संपादित करें]

Date of Birth 16 June 1965 117.228.185.145 (वार्ता) 03:11, 23 सितंबर 2021 (UTC)[उत्तर दें]

Biography of Kosare Maharaj[संपादित करें]

Born : Dilip Shriram Kosare 16 June 1965 State Maharashtra, District Nagpur, Country India Occupation : BSNL Retired Employees Known for : Social worker Trust : Manav Hit Kalyan Seva Sanstha Nagpur for all over india Spouse : Nirmala Dilip Kosare Children : Shailesh, Jayshree, Shivam Parents : Shriram Kosare ( father) Kamlabai Kosare ( Mother) 117.228.185.145 (वार्ता) 05:01, 23 सितंबर 2021 (UTC)[उत्तर दें]