सदस्य:Sushmitha56/प्रयोगपृष्ठ/अग्नि बीमा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लंदन ग्रेट फायर (१९५६) जिसने अग्नि बीमा को जन्म दिया।

अग्नि बीमा[संपादित करें]

१९५६ में लंदन में ग्रेट फायर ने चार दिनों में १३,००० मकानों को नष्ट कर दिया [1]। इस 'महान आग' ने अग्नि बीमा को जन्म दिया।

अग्नि बीमा आग के कारण संपती में क्षति या नुकसान को भरता हैं [2]। एक अग्नी बीमा दो पक्षों, अर्थात बीमाकर्ता और बीमाधारक के बीच एक अनुबंध है, जिससे बीमाकर्ता बीमाधारक को 'प्रीमियम' नामक निश्चित राशि का भुगतान करने के लिए नुकसान में क्षतिपूर्ति करने का वचन देता है। यह अनुबंध आग को नियंत्रित करने या रोकने में मदद नहीं करता है, लेकिन यह क्षतिपूर्ति के लिए एक वादा है। यहा पे 'अग्नि' शब्द को दो शर्तों को पूरा करना चाहिए : १) वास्तविक आग या प्रज्वलन होना चाहिए ; २) आग आकस्मिक होना चाहिए। यदि सिर्फ गर्मी या धुएं से संपत्ति क्षतिग्रस्त हो जाती है तो इसे 'अग्नी' शब्द के तहत कवर नहीं किया जाएगा।

अग्नि बीमा संपत्ती बीमा के अतिरिक्त एक विशिष्ट प्रकार है जो प्रतिस्थापन या मरम्मत और पुनरनिर्माण कि लागत को भरता हैं। इस बीमा का पॉलिसी संपत्ति और पास के संरचनाओं के भी नुकसान को भराई देता हैं। घर मालिकों को संपत्ति और उसकी सामग्री को दस्तावेज करना चाहिए, जिससे आग के कारण क्षतिग्रस्त वस्तुओं के मूल्य को निर्धारित करना आसान हो जाता है। भारत में अग्नी बीमा व्यवसाय अखिल भारतीय फायर टैरिफ द्वारा नियंत्रित होता है जो कवरेज, प्रीमियम दर और अग्नि पॉलिसी की शर्तों को बताता है। अग्नि बीमा पॉलिसी का नाम "स्टान्डर्ड ऑड स्पेशल पेरिल्स पॉलिसी" के रूप में बदल दिया गया है। यह बीमा में कवर किए गए जोखिम निम्नानुसार हैं

बीमा कवरेज[संपादित करें]

  • संग्राहण जोखिम और आदी भी हैं।

इस पॉलिसी में आम तौर पर आग की वजह से पानी या धुएं की क्षति के लिए अतिरिक्त कवरेज शामिल हैं [3]। एक अग्नि बीमा पॉलिसी आमतौर पर एक वर्ष के लिए स्थापित की जाती हैं और पॉलिसी की समाप्ति के बाद दो सप्ताह को अनुग्रह अवधि के रूप में दिया जाता है [4]। पॉलिसीधाराक इन अनुग्रह अवधि के भीतर मे पॉलिसी की शर्तों के अनुसार पॉलिसी का नवीनीकरण कर सकता हैं। कुछ मकान मालिक की बीमा पॉलिसियों में आग कवरेज शामिल होते है, लेकिन बहुत शामिल नहीं करते हैं। इस कवरेज को अलग से खरीदा जाना पड़ सकता है, खासकर अगर संपत्ति में मूल्यवान वस्तु शामिल हो और जिन्हें कवरेज से बाहर रखा गया था। अग्नि बीमा के तीन महत्वपूर्ण सिद्धांत हैं : अत्यंत सद्भावन , संपत्ति में बीमा योग्य हित, क्षतिपूर्ति का सिद्धांत।

पॉलिसी कवरेज[संपादित करें]

इस बीमा मे हानी के निम्नलिखित कारणो को कवर किया गया है जैसे आग, आकाशीय बिजली, विस्फोट, इम्प्लोज़न, विमान क्षत, दंगा, प्राकृतिक आपदाएं, और टैंक या पाइपों के फटने से बहते हुए पानी, हड़ताल, आतंक आदी हैं [5]। अधिकांश नीतियां एक घर को कवर करती हैं चाहे आग घर के भीतर से या घर के बाहर से उत्पन्न हुआ है या नहीं। कवरेज की सीमाएं आग के कारणों पर निर्भर हैं। पॉलिसी पॉलिसीधारक को संपत्ति की नुकसान के दौरान क्षतिपूर्ति के लिए प्रतिपूर्ति करता है। अगर अधिकांश संपत्ति या घर का पूरा नुकसान हुआ है तो बीमा कंपनी मौजूदा बाजार मूल्य के लिए मालिक की प्रतिपूर्ति कर सकती है। बीमा कंपनियों के पास लक्जरी पेंटिंग, हीरे के अंगूठी, फर कोट आदि जैसी वस्तुओं के भुगतान पर सीमाएं हैं।

कवरेज आकलन[संपादित करें]

निम्नलिखित कारणो को बीमा कवरेज से बाहर रखा गया है :

  • परमाणु गतिविधि के कारण नुकसान या क्षति
  • तापमान में परिवर्तन के कारण ठंडे भंडार के सामान को नुकसान
  • विद्युत और / या इलेक्ट्रॉनिक मशीनों के अधिक से अधिक चलने के कारण हानि या क्षति

एक पॉलिसीधारक हर साल अपने घर के मूल्य को जांचना चाहिए ताकी वह निर्धारित कर सके कि कवरेज बढ़ाने की आवश्यकता है या नहीं। 

दावा (क्लेम्स)[संपादित करें]

अग्नि बीमा पॉलिसी के अंतर्गत आने वाली आग के नुकसान की स्थिति में, बीमाकर्ता तुरंत बीमा कंपनी को नोटिस देना चाहिये। ऐसे नुकसान की घटना के पन्द्रह दिनों के भीतर, बीमाकर्ता को लिखित रूप में एक दावा प्रस्तुत करना चाहिए जिसमें नुकसान का ब्योरा और उनके अनुमानित मूल्य शामिल हैं। उसी संपत्ति पर अन्य बीमा का विवरण भी घोषित किया जाना चाहिए।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. https://en.wikipedia.org/wiki/Property_insurance
  2. https://www.investopedia.com/terms/f/fire-insurance.asp
  3. https://www.insurancepandit.com/industrial/fire-insurance-in-india.php
  4. http://www.yourarticlelibrary.com/insurance/fire-insurance-meaning-procedure-and-principles-of-fire-insurance/42112
  5. https://www.bharti-axagi.co.in/others/commercial/fire
  6. https://economictimes.indiatimes.com/wealth/insure/-5-smart-things-to-know-about-fire-insurance/articleshow/56701524.cms