संत वैलेंटाइन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
संत वैलेंटाइन का चित्रण

रोम के संत वैलेंटाइन रोम के एक पादरी थे जिनको लगभग 269 AD में शहादत मिली और वाया फ्लेमिनिया में उन्हें दफनाया गया था। उनके अवशेष[1] रोम के सेंट प्राक्स्ड चर्च में और डब्लिन, आयरलैंड के व्हाइटफ्रियर स्ट्रीट कार्मेलाईट चर्च में हैं।[2] टेरनी के वैलेंटाइन AD 197 में इन्तेरामना (आधुनिक टेरनी) के बिशप बने और कहा जाता है कि औरेलियन सम्राट द्वारा ईसाईयों उत्पीडन के दौरान उनकी हत्या की गयी थी। उन्हें भी वाया फ्लेमिनिया में ही दफ़नाया गया है, लेकिन गाड़ने का स्थान रोम के वैलेंटाइन से अलग है। उसके अवशेष टेर्नी में संत वैलेंटाइन के बेसिलिका (बेसिलिका डी सैन वेलेन्टीनो)[3] पर हैं। ईसाई धर्म में १४ फरवरी को उनका संत दिवस मनाया जाता है। उत्तर मध्य युग से उनके संत दिवस को यूरोप में प्रेम की परंपरा से जोड़ा गया है। उन्हें मिर्गी पीड़ितों का संरक्षक संत भी माना जाता है।[4]

पहचान[संपादित करें]

कई शुरुआती क्रिश्चियन शहीदों के नाम वैलेंटाइन थे।[5] 1969 तक, कैथोलिक चर्च ने औपचारिक रूप से ग्यारह वैलेंटाइन दिनों को मान्यता दी।[तथ्य वांछित]14 फ़रवरी को सम्मानित वैलेंटाइन हैं रोम के वेलेटाइन वलेंतिनुस प्रेस्ब.म. रोमे) और टेर्नी के वैलेंटाइन (वलेंतिनुस एप. इन्तेराम्नेंसिस म. रोमे).[6][7] रोम के संत वैलेंटाइन रोम के एक पादरी थे जिनको लगभग 269 ईसवी में शहादत मिली और वाया फ्लेमिनिया में उन्हें दफनाया गया था। उनके अवशेष[8] रोम के सेंट प्राक्स्ड चर्च में और डब्लिन, आयरलैंड के व्हाइटफ्रियर स्ट्रीट कार्मेलाईट चर्च में हैं।[9] टेरनी के वैलेंटाइन 197 ईसवी में इन्तेरामना (आधुनिक टेरनी) के बिशप बने और कहा जाता है कि औरेलियन सम्राट के उत्पीडन के दौरान उनकी हत्या की गयी थी। उन्हें भी वाया फ्लेमिनिया में ही गाड़ा गया है, लेकिन गाड़ने का स्थान रोम के वैलेंटाइन से अलग है। उसके अवशेष टेर्नी में संत वैलेंटाइन के बेसिलिका (बेसिलिका डी सैन वेलेन्टीनो)[10] पर हैं।

संत वैलेंटाइन के अवशेष, सांता मारिया चर्च, कॉस्मेदिन, रोम

कैथोलिक विश्वकोश एक तीसरे संत के बारे में भी उल्लेख करता है जिनका नाम वैलेंटाइन था और जिनका जिक्र शुरुआती शहादतों में 14 फरबरी की तारीख के अन्दर आता है।[11] उनकी शहादत अफ्रीका में अपने अनेकों साथियों के साथ हुई थी, लेकिन उनके बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है।

इनमें से किसी भी शहीद की शुरुआती मूल मध्यकालीन जीवनियों में रोमानी तत्वों का कोई जिक्र नहीं है। जिस समय तक एक सेंट वैलेंटाइन का सम्बन्ध चौदहवीं सदी में प्रेम के साथ जुड़ता, रोम के वैलेंटाइन और टेरनी के वैलेंटाइन के बीच के भेद बिलकुल खो गए। वर्तमान संतों के रोमन कैथोलिक कैलेंडर के 1969 के संशोधन में, फ़रवरी 14 पर संत वैलेंटाइन के फीस्टडे को जनरल रोमन कैलेंडर से निकाल कर विशिष्ट कैलेंडरों (स्थानीय या फिर राष्ट्रीय भी) में निम्नलिखित कारणों से डाल दिया गया: हालाँकि सेंट वैलेंटाइन की यादगार प्राचीन है, उसे विशिष्ट कैलेंडरों के लिए छोड़ दिया गया, क्योंकि, उनके नाम के अलावा, सेंट वैलेंटाइन के बारे में कुछ भी ज्ञात नहीं है सिवाय इसके की इन्हें वाया फ्लेमिनिया में १४ फरबरी को दफनाया गया था। फीस्ट डे आज भी बाल्ज़न(माल्टा) में मनाया जाता है जहाँ ऐसा दावा किया जाता है कि सेंट के अवशेष मिले हैं और पूरी दुनिया में भी उन परम्परावादी कैथोलिकों के द्वारा मनाया जाता है जो पुराने प्री- वैटिकन द्वितीय कैलेंडर को मानते हैं।

शुरुआती मध्यकालीन एक्टा का उद्धरण बीड के द्वारा किया गया था और लेगेंडा ओरिया में संक्षेप में व्याख्यान किया गया है। उस संस्करण के अनुसार, सेंट वैलेंटाइन का क्रिश्चियन के नाते उत्पीडन किया गया था और रोम के सम्राट क्लोडिअस द्वितीय के द्वारा व्यक्तिगत रूप से पूछ ताछ की गयी थी। क्लोडिअस वैलेंटाइन से प्रभावित थे और उनके साथ चर्चा की थी, कोशिश की थी कि रोमन पागानिस्म में उनका धर्मान्तरण हो जाये ताकि उनकी जान बचायी जा सके। वैलेंटाइन से इनकार कर दिया और उल्टा कोशिश की कि क्लोडिअस ईसाई बन जाये इस वजह से, उसे शहीद कर दिया गया था। ऐसा कहा जाता है कि मारे जाने से पहले उन्होनें जेलर की अंधी बेटी को ठीक करने का चमत्कार किया था।

लेगेंडा ओरिया अभी भी प्रेम के साथ कोई सम्बन्ध नहीं जोड़ पा रही थी, इसलिए दंतकथाओं को आधुनिक समय में जोड़ दिया गया। इनमें वैलेंटाइन को एक ऐसे पादरी के रूप में दिखाया गया जिसने रोमन सम्राट क्लोडिअस द्वितीय के एक कानून को मानाने से इंकार कर दिया था जिसके अनुसार जवान लड़कों को शादी न करने का हुक्म दिया गया था। सम्राट ने संभवतः ऐसा अपनी सेना बढ़ाने के लिए किया होगा, उसका ये विश्वास रहा होगा की शादीशुदा लड़के अच्छे सिपाही नहीं होते हैं। पादरी वैलेंटाइन इस बीच चुपके से जवान लोगों की शादियाँ करवाया करते थे। जब क्लोडिअस को इस बारे में पता चला, उसने वैलेंटाइन को गिरफ्तार करवाकर जेल में फेंक दिया। इस सुन्दर दंत कथा को और अलंकृत करने के लिए कुछ अन्य किस्से जोड़े गए। मारे जाने से एक शाम पहले, उन्होंने पहला "वैलेंटाइन" स्वयं लिखा, उस युवती के नाम जिसे उनकी प्रेमिका माना जाता था।[12] ये युवती जेलर की पुत्री थी जिसे उन्होंने ठीक किया था और बाद में मित्रता हो गयी थी।[13] ये एक नोट था जिसमें लिखा हुआ था "तुम्हारे वैलेंटाइन के द्वारा"[14]

ऐसा ही एक दिवस प्राचीन फारस में वैलेंटाइन दिवस के भी बहुत पहले से मनाया जाता था। इसे प्रेम और प्रेमियों के दिवस के रूप में जाना जाता था।

वैलेंटाइन्स डे[संपादित करें]

वैलेंटाइन दिवस को 14 फ़रवरी को द्वारा दुनिया भर में संत वैलेंटाइन के संत दिवस के रूप में मनाया जाता है। अंग्रेजी बोलने वाले देशों में, ये एक पारंपरिक दिवस है, जिसमें प्रेमी एक दूसरे के प्रति अपने प्रेम का इजहार वैलेंटाइन कार्ड भेजकर, फूल देकर, या चॉकलेट आदि देकर करते हैं। जेफ्री चौसर के आस पास इस दिवस का सम्बन्ध रूमानी प्रेम के साथ हो गया।

ये दिन प्रेम पत्रों के "वैलेंटाइन" के रूप में पारस्परिक आदान प्रदान के साथ गहरे से जुड़ा हुआ है। आधुनिक वैलेंटाइन के प्रतीकों में शामिल हैं दिल के आकार का प्रारूप, कबूतर और पंख वाले क्यूपिड का चित्र.19वीं सदी के बाद से, हस्तलिखित नोट्स की जगह बड़े पैमाने पर बनाने वाले ग्रीटिंग कार्ड्स ने ले ली है।[15] ग्रेट ब्रिटेन में उन्नीसवीं शताब्दी में वैलेंटाइन का भेजा जाना एक फैशन था और, 1847 में, एस्थर हौलैंड ने अपने वोर्सेस्टर, मैस्साचुसेट्स स्थित घर में ब्रिटिश मॉडलों पर आधारित घर में ही बने कार्ड्स द्वारा एक सफल व्यवसाय विकसित कर लिया था। 19 वीं सदी के अमेरिका में वैलेंटाइन कार्ड की लोकप्रियता जहां कई वैलेंटाइन कार्ड अब सामान्य ग्रीटिंग कार्ड प्यार की घोषणाओं के बजाय, संयुक्त राज्य अमेरिका में छुट्टियों के भविष्य व्यावसायीकरण के एक अग्रदूत था रहे हैं।[16]

अमेरिका के ग्रीटिंग कार्ड एसोसिएशन का अनुमान है कि लगभग एक अरब वैलेंटाइन हर साल पूरी दुनिया में भेजे जाते हैं, जिसके कारण, क्रिसमस के बाद, इस छुट्टी को कार्ड भेजने वाले दूसरे सबसे बड़े दिवस के रूप में जाना जाता है। एसोसिएशन का अनुमान है कि औसतन अमरीका में पुरुष महिलाओं के मुकाबले दुगना पैसा खर्चा करते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Saint Valentine's Day: Legend of the Saint". मूल से 5 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  2. "Valentine of Terni". मूल से 16 जनवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  3. "Basilica of Saint Valentine in Terni". मूल से 16 फ़रवरी 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  4. Palacios-Sánchez, Leonardo; Díaz-Galindo, Luisa María; Botero-Meneses, Juan Sebastián (2017). "Saint Valentine: Patron of lovers and epilepsy". Repertorio de Medicina y Cirugía. 26 (4): 253–255. डीओआइ:10.1016/j.reper.2017.08.004.
  5. हेनरी एन्स्गर केली, में,
  6. '
  7. "Valentine of Rome". मूल से 1 अप्रैल 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  8. "Saint Valentine's Day: Legend of the Saint". मूल से 5 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  9. "Valentine of Terni". मूल से 16 जनवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  10. "Basilica of Saint Valentine in Terni". मूल से 16 फ़रवरी 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  11. "Catholic Encyclopedia: St. Valentine". मूल से 3 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  12. "अमेरिकन ग्रीटिंग्स, inc द्वारा हिस्ट्री.कोम को प्रदान की गयी सामग्री". मूल से 20 मार्च 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 जून 2020.
  13. "वैलेंटाइन दिवस का इतिहास". मूल से 11 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 मार्च 2020.
  14. "अमेरिकन ग्रीटिंग्स inc. के द्वारा हिस्ट्री.कॉम को प्रदान की गयी समंग्री". मूल से 20 मार्च 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 जून 2020.
  15. ली एरिक श्मिट, "द फैशनिंग ऑफ़ ए मॉडर्न हौलिडे"
  16. लिह एरिक श्मिट, "इस कैलेंडर का व्यावसायीकरण

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]