संगमर्मर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ताजमहल, एक विश्व प्रसिद्ध स्मारक, जो कि प्रेम हेतु सृजित है, एक संगमरमर में तराशी कलाकृति
रोमन देवी, वीनस की मूर्ती

संगमरमर या सिर्फ मरमर (फारसी:سنگ مرمر) एक कायांतरित शैल है, जो कि चूना पत्थर के कायांतरण का परिणाम है। यह अधिकतर कैलसाइट का बना होता है, जो कि कैल्शियम कार्बोनेट (CaCO3) का स्फटिकीय रूप है। यह शिल्पकला के लिये निर्माण अवयव हेतु प्रयुक्त होता है। इसका नाम फारसी से निकला है, जिसका अर्थ है मुलायम पत्थर।

संग-पत्थर, -का, मर्मर-मुलायम = मुलायम पत्थर।

इसके नाम पर स्थानों के नाम भी हैं, जैसे: -

Monobook-bullet-star.png  मार्बल आर्च, लंदन;
Monobook-bullet-star.png  सी ऑफ मर्मर;
Monobook-bullet-star.png  भारत की संगमरमर की चट्टानें,
Monobook-bullet-star.png  मार्बल माइनेस्सोटा, Monobook-bullet-star.png  मार्बल, कोलोरैडो, एवं
Monobook-bullet-star.png  मार्बल हिल, मैनहैटन, न्यू यॉर्क शहर आदि ।

एल्जिन मार्बल के संगमरमर शिल्प जो कि ब्रिटिश संग्रहालय में प्रदर्शित हैं।

मूल[संपादित करें]

संगमरमर.

संगमरमर एक कायांतरित चट्टान है जिसका निर्माण अवसादी कार्बोनेट चट्टानों के क्षेत्रीय और कभी कभी संपर्क कायांतरण के फलस्वरूप होता है। यह अवसादी कार्बोनेट चट्टानें चूना पत्थर या डोलोस्टोन, या फिर पुराना संगमरमर हो सकती है। कायांतरण की इस प्रक्रिया के दौरान मूल चट्टान का पुनर्क्रिस्टलीकरण होता है। अवसादी निक्षेपों से संगमरमर बनने की इस प्रक्रिया में उच्च तापमान और दबाव के चलते मूल चट्टान मे उपस्थित किसी भी प्रकार के जीवाश्मिक अवशेष और चट्टान की मूल बनावट नष्ट हो जाती है।

संगमरमर के प्रकार[संपादित करें]

निर्माण का संगमरमर[संपादित करें]

संगमरमर का औद्योगिक प्रयोग[संपादित करें]

उत्पादन[संपादित करें]

सांस्कृतिक संगठन[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कडि़याँ[संपादित करें]