वार्ता:लघुकथा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

यह पृष्ठ लघुकथा लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

स्रोत चाहिए[संपादित करें]

@Chandresh Chhatlani जी: आपने लेख में बड़े बदलाव किये हैं यहाँ तक कि पुराने लेख से उल्ट कर दिया है। क्या आपके पास इसके विश्वसनीय स्रोत हैं? ☆★संजीव कुमार (✉✉) 14:04, 26 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]

नमस्कार संजीव कुमार जी.
लघुकथा कहानी का संक्षिप्त रूप नहीं है. इसके विश्वसनीय स्त्रोत आपकों निम्न प्रकार प्राप्त हो सकते हैं:
  1. किसी भी लघुकथाकार , यहाँ तक कि जिनको आपने उद्धृत किया है, से आप सीधे ही बात कर सकते हैं. ये सभी सोशल मीडिया पर भी हैं.
  2. लघुकथा की मानक पुस्तकें, यथा पडाव और पड़ताल जो कि https://booksdisha.blogspot.com/ पर उपलब्ध हैं, को भी आप पढ़ सकते हैं, उन सभी में लघुकथा के बारे में यही कहा गया है. इनके अतिरिक्त लघुकथा का प्रबल पक्ष (https://www.amazon.in/%E0%A4%B2%E0%A4%98%E0%A5%81%E0%A4%95%E0%A4%A5%E0%A4%BE-%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%AC%E0%A4%B2-%E0%A4%AA%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B7-Balram-Agarwal/dp/8181872185/ref=sr_1_6?keywords=%E0%A4%B2%E0%A4%98%E0%A5%81%E0%A4%95%E0%A4%A5%E0%A4%BE&qid=1637941142&sr=8-6), कथा समय - दस्तावेजी लघुकथाएं (https://www.amazon.in/s?k=%E0%A4%95%E0%A4%A5%E0%A4%BE+%E0%A4%B8%E0%A4%AE%E0%A4%AF&ref=nb_sb_noss) जैसी कई पुस्तकों में भी यही कहा गया है.
  3. आप लघुकथा की वेबसाइट laghuktha.com, laghukathaduniya.blogspot.com पर जाकर भी लघुकथा के बारे में जान सकते हैं.
  4. इनके अतिरिक्त भी कई स्त्रोत हैं जो इन्टरनेट पर भी हैं और पुस्तक रूप में भी.
सादर,
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 15:41, 26 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
@Chandresh Chhatlani जी: ब्लॉग कड़ियाँ विश्वसनीय नहीं हैं और आपने जो अमेज़न की कड़ियाँ दी हैं उनमें भी पुस्तक की जानकारी मिलती है, लघु कथा की नहीं। ☆★संजीव कुमार (✉✉) 18:54, 26 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 06:40, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
नमस्कार @संजीव कुमार जी.
मैंने जिन स्त्रोत की बात की है, उनमें व्यक्ति हैं, पुस्तकें हैं और इन्टरनेट पर उपलब्ध सामग्री है. यह केवल एक सेम्पल की तरह लग सकता है लेकिन इसे आप इस तरह न लीजिएगा. पडाव और पड़ताल लघुकथा पर आधारित लगभग ३५ पुस्तकों की श्रृंखला है, इन सभी पुस्तकों को प्रकाशक ने पहले तो भौतिक पुस्तक के रूप में प्रकाशित किया, जो कि कई विश्वसनीय पुस्त्कालयों में प्राप्त हो जाएंगी. अब उसे ईपुस्तक के रूप में सभी के लिए निःशुल्क रखा गया है जो कि https://booksdisha.blogspot.com/ पर उपलब्ध हैं, को भी आप पढ़ सकते हैं. मेरा मत है आप इन्हें अवश्य पढ़ें. ये सभी व अन्य कुछ पुस्तकें ई प्रारूप में निःशुल्क हैं और प्रत्येक लघुकथा प्रेमी को पढनी चाहिएं. लघुकथा को समझने के लिए भी यह काफी उपयोगी है.
जिन अन्य पुस्तकों का मैनें जिक्र किया है, उनमें से एक के लेखक श्री बलराम अग्रवाल हैं, जिनका जिक्र आपने भी इस लेख में किया है.
http://www.laghuktha.com और https://laghukathaduniya.blogspot.com/ पर आपको कई वरिष्ठ लघुकथाकारों व आलोचकों के लेख और कुछ शोध पत्र आदि प्राप्त हो जाएंगे, जिनसे आप लघुकथा क्या है से लेकर लघुकथा के बारे में गहन जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.
अतः ये स्त्रोत विश्वसनीय न हों, यह बात उचित नहीं प्रतीत होती.
बहरहाल, इनके अतिरिक्त मैं आपको कुछ अन्य स्त्रोत भी बताना चाहूँगा,
1)
Ph.D. शोध ग्रन्थ
Hindi laghukatha ek aalochanatmak adhyayan Hindi storiette a critical study / राजेश कालिया का प्रथम चैप्टर
https://shodhganga.inflibnet.ac.in/bitstream/10603/77100/6/06_chapter%201.pdf
पृष्ठ 4
2)
विद्या वाचस्पति के ही एक अन्य शोध ग्रन्थ का लिंक दे रहा हूँ:
https://shodhganga.inflibnet.ac.in/bitstream/10603/191879/4/04_chapter%201.pdf
इसका पृष्ठ 17 देखिएगा.
(Hindi laghukatha Ek anushilan / Patel, Maheshkumar M)
एक अन्य बात यह लघुकथा, लघु कथा नहीं. लघुकथा एक ही शब्द में मान्य है.
उम्मीद है, मैं कुछ स्पष्ट करने में सफल रहा होउंगा. इसके अतिरिक्त भी यदि आपको किसी भी अन्य स्पष्टीकरण की आवश्यकता हो तो कृपया निःसंकोच बताइएगा.
सादर,
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 06:40, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 06:40, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
@Chandresh Chhatlani जी: मुझे आपके द्वारा दिये गये शोध-ग्रंथों को खोलने में समस्या आ रही है। शायद उनमें लॉगिन करना पड़ता है, यदि ऐसा नहीं है तो बताइयेगा, मैं पुनः अन्य नेटवर्क और अन्य मशीनों पर प्रयास करूँगा। आपने जो ब्लॉग कड़ी दी है, उसपर स्थिति कुछ पुस्तकों को मैंने खोलकर देखा, उनमें लघुकथा में आ रहे परीवर्तन की जानकारी है लेकिन इसकी परिभाषा उस ढ़ंग से उपलब्ध नहीं है जैसे आपने लिख रखी है। ☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:07, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 17:12, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]
नमस्कार @संजीव कुमार जी: मैने जो लिंक्स भेजे हैं, वे भारत सरकार की परियोजना 'शोधगंगा' के हैं, जिनमें प्रत्येक विश्वविद्यालय अपने पीएचडी के शोध ग्रन्थ अपलोड करता है. इन्हें पढ़ना पूरी तरह निःशुल्क है. आप अन्य डिवाइस से खोलिए.
पुस्तकें जिस ब्लॉग पर हैं उनके दो लिंक निम्न हैं:
https://booksdisha.blogspot.com/2021/09/blog-post_13.html
पृष्ठ सं. (पुस्तक 1०२ व पीडीऍफ़ १०३) की आखिरी पंक्ति और अगले पृष्ठ की प्रारम्भिक पंक्तियां
https://booksdisha.blogspot.com/2021/07/1.html
पृष्ठ सं. (पुस्तक १४२ व पीडीऍफ़ १4३) का चौथा अनुच्छेद
निवेदन है कि अध्ययन करेंगे तो स्पष्ट हो ही जाएगा. यदि और भी सन्दर्भों की आवश्यकता हो तो कृपया कहिएगा.
सादर,
Chandresh Chhatlani (वार्ता) 17:12, 27 नवम्बर 2021 (UTC)[उत्तर दें]