सामग्री पर जाएँ

लक्ष्मी मिष्ठान भंडार होटल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

लक्ष्मी मिष्ठान भंडार होटल, जो एल एम् बी के नाम से भी लोकप्रिय है, यह भारत के राजस्थान राज्य में जयपुर शहर का एक प्रसिद्ध होटल, रेस्तरां एवं मिठाई की दुकान है। 1954 में स्थापित यह होटल जौहरी जयपुर शहर के जौहरी बाजार स्थित है। यह होटल राज्य को पहले तीन सितारा होटल के रूप में जाना जाता है। [1] आज, यह सबसे अधिक अपने रेस्तरां और मिठाई की दुकान के लिए जाना जाता है, जो एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण रहे हैं। यहाँ पर पारंपरिक मिठाई जैसे पनीर घेवर, मीठी लस्सी, के अलावा नाश्ते के लिए समोसा, चाट और आलू टिक्की परोसे जाते हैं। [2][3][4] आमतौर पर भारत के सभी प्रसिद्ध नास्ते के व्यंजन यहाँ पर उपलब्ध है। लक्ष्मी मिष्ठान भंडार होटल की सबसे बड़ी खासियत इसका अनूठा स्वाद है जो आपको और कही नहीं मिलेगा।

पता: जौहरी बाजार रोड, बापू बाजार, बिशेश्वर जी, जयपुर, राजस्थान 302,003

1727 में, जब महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय (हवा महल निर्माता), आमेर के शासक, ने जब जयपुर को नई राजधानी के रूप में स्थापित किया, तब उन्होंने पास के शहरों से व्यापारियों और कलाकारों के नव निर्मित शहर के लिए आमंत्रित किया। जो लोग आये उन लोगों के बीच हलवाइयों का का भी एक समूह आया, जिन्होंने जौहरी बाजार में एक छोटे मिठाई की दुकान स्थापित की। काफी बरस बीत जाने के बाद 1949/1950, इन हलवाई के वंशजों में से एक मालीराम गोदावत ने इस मिठाई की दुकान की ब्रांडिंग लक्ष्मी मिष्ठान भंडार (एल एम् बी) के रूप में की। 1954 में इसमें एक होटल भी जोड़ा गया [5] लक्ष्मी मिष्ठान भंडार (एल एम् बी) अपने रेस्तरां एवं मिठाई के लिए विश्व प्रसिद्ध है। इस रेस्तरां में शुद्ध शाकाहारी भोजन भोजन परोसा जाता हैं। यह होटल अपनी राजस्थानी थाली, दाल बाटी चूरमा, और कुल्फी के लिए जाना जाता है।[2][3] इस होटल की मिठाइयाँ काफी स्वादिस्ट हैं एवं इतने बरसों के बीत जाने के बाद भी इसने अपना स्वाद पहले जैसा ही कायम रखा हैं।यह अपने आगंतुको के लिए असाधारण स्वाद प्रस्तुत करता है। यहाँ पर बिना प्याज़ लहसुन के भी खाने की व्यवस्था है। जयपुर आने वाला शायद ही कोई विदेशी पर्यटक होगा जिसने अपने कदम यहाँ पर नहीं रखे हो।किसी भी विदेशी पर्यटक की जयपुर यात्रा पूरी नहीं होती जब तक इस होटल का मिठाई नहीं चखता।[6]

2008 में हुए सिलसिलेवार बम विस्फोटों जिसने सारे जयपुर शहर को हिलाकर रख दिया था उसमे एक धमाका रेस्तरां के पास भी हुआ था। [7]

  1. "ल म बी होटल प्रोफाइल". मूल से 4 सितंबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 जुलाई 2016.
  2. सिंघ, प. १७७
  3. बृयन, प. ४१५
  4. "जयपुर:डी राइट मिक्स ऑफ़ रेस्ट & रिक्रिएशन". डी इकनोमिक टाइम्स. २३ जुलाई २००९. मूल से 15 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 जुलाई 2016. वी बेगन ात डी फेमस ल म बी इन जोहरी बाजार. नो ट्रिप तो जयपुर इस कम्पलीट विथोउत टेस्टिंग इट्स लस्सी एंड चाट.
  5. "सन्तुरिेस ऑफ़ प्रिंसली ट्रीट्स". बिज़नेस स्टैंडर्ड. जून १४, २००८. मूल से 5 अक्तूबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 जुलाई 2016.
  6. "ल म बी होटल इनफार्मेशन". क्लियरट्रिप.कॉम. मूल से 15 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ जुलाई २०१६.
  7. "'इट वास लाइक आ डेथ इन डी फॅमिली'". बीबीसी न्यूज़. १६ मई २००८. मूल से 17 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 जुलाई 2016.

सन्दर्भ

[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ

[संपादित करें]