मैदाम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
चार मैदामों का एक समूह

मैदाम (মৈদাম, maidam), जिसका सही असमिया उच्चारण मोईदाम है, भारत के महत्वपूर्ण मध्यकालीन आहोम साम्राज्य (1228-1826) के शाही परिजनों व सम्भ्रांत वर्ग के लिए बने टीले होते हैं। शाही मैदाम केवल असम राज्य में चराईदेव में पाए जाते हैं, हालांकि अन्य मैदाम जोरहाट और डिब्रूगढ़ के बीच बिखरे हुए हैं। मैदाम के भीतर एक या अधिक कक्ष होते हैं जिनके ऊपर एक गुम्बज़नुमा ढांचा होता है जो मिट्टी से ढका हुआ होता है। बाहर से यह टीला स्पष्ट दिखता है। मैदाम अक्सर एक अष्टमुखी दीवार से घिरे हुए होते हैं।[1][2][3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Gogoi, Padmeswar (1976). Tai-Ahom Religion and cusotms (PDF) (1st संस्करण). Publication Board, Gauhati, Assam. मूल से 26 अप्रैल 2019 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 9 मार्च 2020.
  2. ASI (2007). "Group of Maidams, Charaideo". Archaeological Survey of India, Government of India. मूल से 10 अप्रैल 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-11-30.
  3. Dutta, Pullock; Das, Ripunjay (3 January 2003). "Bounty hunters beat ASI to tombs". The Telegraph (Kolkata). मूल से 3 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-12-06.