मुहाजिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मुहाजिर या मोहाजिर (अरबी: مهاجرmuhāǧir) एक अरबी शब्द है जो किसी भी अपने देश को छोड़कर दूसरे देश में बसने वाले के लिए प्रयोग में लाया जाता है।[1] इस्लामी जंत्री को हिजरी इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसी के प्रारंभिक वर्ष इस्लाम के पैग़म्बर मुहम्मद और उनके साथी सहाबा मक्का छोड़कर मदीना हिजरत (स्थान-परिवर्तन) करके गए थे। उन सभी को बहुवचन रूप में "मुहाजिरून" कहा गया था।

पिछली कई सदियों में इस शब्द को कई अन्य मुस्लिम शरणार्थी और स्थान परिवर्तन करने वालों के लिए प्रयोग में लाया गया:

इन्हें भी देखें[संपादित करें]


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Lane 1893


और पढ़िये[संपादित करें]

  • Lane, Edward William (1801–1876)। [1956] Arabic-English lexicon. New York: Frederick Ungar Publishing. (Originally published in London, 1863–1893)