मधु किश्वर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Madhu Kishwar
Madhu Kishwar01.jpg
जन्म 1951
शिक्षा प्राप्त की Delhi University,
Jawaharlal Nehru University, Delhi
व्यवसाय Professor, Activist, Author
वेबसाइट
www.manushi.in

मधु पूर्णिमा किश्वर एक भारतीय शैक्षणिक और लेखक हैं।[1][2] वह सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ डेवलपिंग सोसाइटीज (सीएसडीएस), दिल्ली में आधारित और सीएसडीएस पर आधारित इंडिक स्टडीज प्रोजेक्ट के निदेशक हैं, जिसका उद्देश्य भारतीय सैद्धांतिकता में "धर्म और संस्कृतियों के अध्ययन को बढ़ावा देना है "।[3] मधु किश्वर ने अब तक 12 डॉक्यूमेंट्री बनाई हैं और बॉलीवुड पर एक किताब लिख रही हैं। वो जेएनयू की छात्रा रह चुकी हैं।[4]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "मधु किश्वर: कान में उंगली डालना भी बलात्कार हो जाएगा?". Archived from the original on 27 अगस्त 2017. Retrieved 27 अगस्त 2017. Check date values in: |access-date=, |archive-date= (help)
  2. "मधु किश्वर ने लिखा- मुसलमानों के पास तैमूर पर गर्व करने के कई कारण, हिंदू ये देखें कि फिर इस धरती पर ना हो ऐसे दंगे". Archived from the original on 27 अगस्त 2017. Retrieved 27 अगस्त 2017. Check date values in: |access-date=, |archive-date= (help)
  3. "Madhu Kishwar's open letter to PM on how to break the UCC stalemate". Archived from the original on 26 अगस्त 2017. Retrieved 27 अगस्त 2017. Check date values in: |access-date=, |archive-date= (help)
  4. "कला के मैदान की पुरानी खिलाड़ी हूँ: मधु किश्वर". Archived from the original on 27 अगस्त 2017. Retrieved 27 अगस्त 2017. Check date values in: |access-date=, |archive-date= (help)